babychakra-rewards
WE ARE NOW TAKING ONLINE ORDERS.
Order your Babychakra products today !!
नमस्कार दोस्तों

आज मैं आपके साथ अपने c-section की स्टोरी शेयर कर रही हूँ।

वैसे तो मैं मुझे 3 महीने बाद पता चला कि मैं प्रेग्नेंट हूं मुझे प्रेगनेंसी के दौरान कभी कोई खास दिक्कत नहीं हुई बस उल्टियां हुई वह भी 3 महीने तक मेरी बॉडी में सूजन 5 महीने से शुरू हो गई थी और वह 9 महीने तक बनी रही यहां तक की डिलीवरी होने के बाद भी मेरे पांव सूजे हुए थे। अब जबकि नवा महीना चल रहा था। तारीख 27 सितंबर मुझे कुछ गलत सा महसूस हो रहा था। हल्का हल्का पानी जाने लगा था और पेट बहुत टाइट लग रहा था।

रविवार था अनंत चतुर्दशी था मेरा व्रत था सभी लोग परेशान हो गए और जो कि उस दिन जहां में दिखा दी थी वह क्लीनिक बंद रहता है तो मैं दूसरे डॉक्टर से संपर्क करने गई वहां भी डॉक्टर नहीं थी फिर मैं डॉक्टर के पास गई जिसको मैं दिखा दी थी पहले तो उन्होंने प्राइवेट में देखने से मना कर दिया फिर हम लोगों ने बहुत रिक्वेस्ट की उन्होंने मुझे एडमिट किया और ग्लूकोज की बोतल चढ़ाई ।मैं रात में डिस्चार्ज हो गई तभी मैं डॉक्टर से पूछी कि क्या डिलीवरी नॉरमल होगी और कब तक होगी तो उन्होंने 3 अक्टूबर का डेट दिया ।कहीं जब दर्द होगा तब आना। मुझे हमेशा यही मतलब कि मैं डिलीवरी नॉर्मल होगी इन तीनों बहनों की डिलीवरी ऑपरेशन से हुई थी लेकिन मुझे लगता था कि मेरी नॉर्मल होगी ।पर दो दिन बाद रात की 2:00 बजे मेरी पानी की थैली फट गई और मुझे बहुत सारा पानी गिरा मैं तो बहुत घबरा गई है और तुरंत अपनी बड़ी बहन को फोन किया तो उसने कहा कि छठ से तुम डॉक्टर के पास जाओ फिर मैंने अपनी जेठानी को बुलाया उन्होंने भी सास को बुलाया और कहा कि डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए मेरे मेरे घर के पास एक हॉस्पिटल था जहां मैं 2:30 बजे के करीब पहुंची वहां डॉक्टर तो नहीं पर नर्स मिली कि मुझे चेक किया ओवरी का मुंह कितना खुला है उनके चेक करने में मुझे बहुत दर्द हो रहा था उन्हें ने कहा कि बच्चा बहुत ऊपर है और बच्चेदानी का मुंह नहीं खुला है और अभी दर्द भी नहीं हो रहा है दर्द हो तब आना अभी आराम करो मैं घर वापस आ गई ।घर आते ही मुझे दर्द होने लगा ।मैं बस सुबह का इंतजार कर रही थी किस तरह से 5:00 बजे और मैं घर में नीचे के रूम में थी। मुझे दर्द बर्दाश्त नहीं हो रहा था बस में टहल रही थी। सोने की कोशिश कर रही थी ना सो पा रही थी ना बैठ पा रही थी ना टहल पा रहे थे बस इंतजार कर रहा हूं कब सुबह हो। जब सुबह कोई तो मैंने अपने सास से कहा कि मुझे बहुत दर्द हो रहा है ।


Thanks for sharing..

अभी पूरी नहीं थी पहले ही पोस्ट हो गई है@durga salvi


Get the BabyChakra app
Ask an expert or a peer mom and find nearby childcare services on the go!
Phone
Scan QR Code
to open in App
Image
http://app.babychakra.com/feedpost/150193