गर्भावस्था की तीसरी तिमाही और स्किन की देखभाल

cover-image
गर्भावस्था की तीसरी तिमाही और स्किन की देखभाल

गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में स्किन में कई तरह के बदलाव आते हैं। जैसे कि हाथ पैरों का फटना, चेहरे पर काले धब्बे होना। आंखों के नीचे काले घेरे, चेहरे पर सूजन, पैरो के एड़ियों की खुरदरी त्वचा। इस दौरान स्किन का ध्यान बहुत अच्छे से रखना चाहिए।

  • अपने हाथ पैरों में रोजाना जैतून के तेल से मसाज करे। जैतून का तेल त्वचा की खुश्की को ठीक करने के लिए फायदेमंद है।
  • गुलाब जल और नारियल तेल का इस्तेमाल चेहरे की झाइयां और धब्बे दूर करने के लिए कर सकती है।
  • हल्दी बेसन और दही इन तीनों चीजों का फेस पैक नहाने से पहले लगाएं। इससे आपकी त्वचा के आस-पास की बेकार स्किन ठीक होगी।
  • संतरे के छिलकों को सुखाकर इसका स्क्रब बना ले। इसको त्वचा पर गुलाब जल के साथ मिलाएं। इससे चेहरे के ब्लैकहेड्स हटेगें।
  • मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक स्किन के निखार के लिए काफी फायदेमंद होता है। मुल्तानी मिट्टी के साथ आप नारियल का तेल भी मिला सकती है। सर्दियों के दिनों में नारियल तेल त्वचा के लिए काफी लाभदायक होता है।
  • टमाटर को पीस कर उसका पैक बनाकर चेहरे पर लगाएं। ये नैचुरल ब्लीच का काम करता है, क्योंकि गर्भावस्था के दौरान ब्लीच का इस्तेमाल करना सुरक्षित नहीं है।
  • नेचुरल बॉडी लोशन का सबसे अच्छा तरीका है ग्लिसरीन में आप गुलाब जल मिलाकर अपने हाथ पैरो में नहाने के बाद लगाएं। इससे आपकी त्वचा में काफी चमक आयेगी और साथ ही टैनिंग भी दूर होता है।
  • उबटन ऐसा प्राकृतिक पैक है जिससे कोई नुकसान नहीं है। उबटन के लिए आप आटा, बेसन, दही, हल्दी, सरसों का तेल, गुलाब जल मिलाकर अपने हाथों में और गर्दन में लगाएं। 5 से 10 मिनट लगाने के बाद उबटन छुडा ले इससे ना सिर्फ आपका चेहरा दमकेगा बल्कि आप तरोताजा महसूस करेगा।

 

गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में अपनी स्किन की देखभाल के लिए इन तरीकों को अपनाएं। अगर आपको स्किन संबंधी कोई एलर्जी है तो डॅाक्टर से सलाह अवश्य लें।

#garbhavastha #skincare
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!