क्या आप अपने बच्चे के विकास में सहायक इन गतिविधियों के बारे में जानते हैं ?

cover-image
क्या आप अपने बच्चे के विकास में सहायक इन गतिविधियों के बारे में जानते हैं ?

अपने शिशु और बच्चे के विकास को बढ़ावा देने के कुछ आसान उपाय:

एक छोटे बच्चे के माता - पिता के रूप में हमारी सबसे पसंदीदा गतिवधियां वे हो सकती हैं, जिन्हे हम लेट के या सोने का नाटक करते समय खेल सकते हों। सौभाग्य से आपके लिए, हमने अपनी पसंदीदा गतिविधियों को इकट्ठा किया है, जिनमें आप कम से कम प्रयास करके भी अपने बच्चे के साथ इस तरह खेल सकते हैं, जिससे उसका संपूर्ण विकास संभव हो सके। इसके बारे में पढ़ें, और आनंद लें!

 

मनीषा शाह, 'प्लेफुली' की संस्थापक, जो बच्चों की विकास को लेकर अत्यधिक जागरूक व जुझारू हैं ,आज आपके लिए थोड़े आराम और विश्राम की कामना करते हुए आपको ये गतिविधियां बता रहीं हैं:

यदि आप एक छोटे बच्चे के माता-पिता हैं, तो शायद यह एक लंबा समय हो गया होगा जब आपने अपने बारे में सोचा हो कि ' अरे वाह! मेरे पास अभी कितनी ऊर्जा है'। आप अपने पसंदीदा चाय या कॉफ़ी की चुस्कियां लेते वक़्त सोचते होंगे कि अगली बार कब ये क्षण वापस मिलेंगे या रात की पूरी नींद के बारे में सोचते होंगे अथवा  मानसिक रूप से थके हुए ,बस अपनी कभी खत्म न होने वाले काम की सूची के बारे में विचार करते होंगे ।

अपने लिए काम बढ़ाने के बारे में तो सोच ही नहीं सकते और कभी कभी तो थकान के कारण बच्चे के साथ खेलना भी एक काम जैसा ही महसूस होता है । पेरेंटिंग का मतलब बस दिन रात का कठोर परिश्रम बिलकुल नहीं है । बच्चे स्वाभाविक रूप से अपनी नटखट हरकतों से आपके जीवन में काम के साथ, खेल को भी ले आते हैं, और अपनी थकान के कारण, आपको अपने बच्चों के साथ इन सुन्दर ,खुशनुमा पलों को खोने की आवश्यकता नहीं है । बच्चे के साथ खेलने का समय आपको एक थकावट भरे काम की तरह लग सकता है , जो आपके अंदर मौजूद बची हुई ऊर्जा को भी ख़त्म कर देता है।मगर कई बार खेलने के लिए आपकी आवाज़ ही काफी होती है।

 

हम आपको उन पांच खेलों के बारे में बता रहे हैं ,जो आप बैठ,कर या लेट कर  खेल सकते हैं, इनमें केवल आपकी आवाज़ की आवश्यकता होती है। न केवल वे आपके लिए आराम करने का एक अवसर हैं बल्कि ये आपके युवा बच्चे के विकास में भी सहायक हैं ।

तो ज़रा लम्बी सांस लीजिये,अपनी आंखों पर एक सुन्दर मुखौटा लगाइये ,एक आरामदायक कम्बल में  बैठकर इन खेलों का अपने बच्चे के साथ आनंद लीजिये ।

इस उम्र के बच्चों के लिए उपयुक्त :

0-6 महीने: टमी टू टमी

यह गेम शिशु की कुछ मांसपेशियों जैसे पेट, पीठ इत्यादि को विकसित करने में मदद करता है तथा आपके शिशु से आपके रिश्ते को और सुन्दर बनाता है।

  • एक आरामदायक स्थिति में अपनी पीठ पर लेट जाएं ।
  • अपने शिशु को अपने ऊपर, उसके पेट के बल रखें ।उसे पकड़े रखें जिससे वह सुरक्षित रहे और लुढ़क न जाए ।
  • कुछ गहरी सांस लें ताकि आपका पेट ऊपर आए और नीचे जाए, शिशु जब आपकी साँसों के साथ ऊपर नीचे होता है, उस समय उसकी प्रतिक्रिया देखें।
  • अगर आपका शिशु इसमें रूचि दिखाता है, तो आप बस सांस लेना जारी रख सकते हैं और उसे अपने दिल की धड़कन भी सुना सकते हैं। अगर ऐसा लगता है कि वह अनिच्छुक है, तो आप उसे उसका पसंदीदा गीत गाकर भी उसका मनोरंजन कर सकते हैं ।

7-18 महीने के बच्चों के लिए:  'थंबकिन कहां है?'

'थंबकिन कहां है?' एक प्यारी बहुचर्चित नर्सरी कविता है जो आपके बच्चे को आपकी उंगली की गतिविधियों की नकल करने के लिए प्रेरित करती है। इसकी नक़ल करके आपका शिशु अपनी छोटी मांसपेशियों जैसे ऊँगली कलाई इत्यादि का विकास करेगा । शिशुओं के साथ खेलते समय उन्हें केवल अपनी उंगलियां दिखाएं। । बच्चों के साथ यह देखें कि क्या वो आपकी नक़ल करने की कोशिश करते हैं?

 

  • एक आरामदायक स्थिति में बैठ जाएं और 'थंबकिन कहां है?' कविता गाइये।
  • गायन करते समय, अपने हाथों से गतिविधियां करते रहें और अपने बच्चे को भी वैसा ही करने के लिए प्रोत्साहित करें।
  • अपने हाथों को पीठ के पीछे ले जाएं। पहले एक हाथ सामने लाएं और दूसरा हाथ बाहर लाते समय कहें 'मैं यहाँ हूँ ' और अंगूठे से शुरुआत करते हुए, कविता पढ़ते जाएं और हर अनुच्छेद के साथ एक एक करके उंगलियां खोलते जाएं ।
  • यदि आप ऊर्जावान महसूस कर रह हों तो, अपने बच्चे को गुदगुदी करके, अजीब मज़ेदार चेहरे बनाकर या नाच कर भी उसका मनोरंजन कर सकते हैं ।

 

7-18 महीने के बच्चों के लिए: ज़ोर से गले लगाना (बिग हग)

यह गेम आपके बच्चे को सहानुभूति, अच्छे संबंध बनाने और बनाए रखने के लिए एक महत्वपूर्ण सामाजिक और भावनात्मक कौशल सिखाता है।

  • सोफे पर लेट जाएं और थकने का  'नाटक' करें (आपको शायद नाटक करने की ज़रूरत नहीं है!)।
  • अपने बच्चे का ध्यान अपनी ओर खीचें और कहें 'मैं बहुत थक गया हूँ! क्या आप मुझे गले लगा सकते हैं? '
  • अपने बच्चे को आपको गले लगाने दें और अतिउत्साह दिखा कर उसे बताएं कि आप उनके गले लगने से कितने खुश हैं।
  • अगर आपका बच्चा आपको गले लगाने में रूचि नहीं रखता है, तो आप कोई और विकल्प भी दे सकते हैं, जिससे आप खुश होते हैं। आप स्वयं को गले लगाकर बच्चे को स्वयं से स्नेह करने का उदाहरण भी पेश कर सकते हैं और दिखा सकते हैं कि इससे कितना मदद मिलती है ।

 

19 -24 महीने कि बच्चों कि लिए: साइमन कहते हैं कि:

'साइमन कहते हैं कि:' एक साधारण खेल की तरह लग रहा है, लेकिन यह वास्तव में आपके बच्चे को सोचने की चुनौती (कॉग्निटिव चैलेंज) देता है। सुनना, ध्यान देना, और निर्देशों का पालन करना सभी महत्वपूर्ण कौशल हैं जो बच्चा इस उम्र के आसपास विकसित करता है ।

  • बेशक, पहले अपने लिए एक आरामदायक सीट ढूंढें ।
  • 'साइमन कहते हैं' खेलने के लिए बच्चे को बुलाएं - उसे समझाएं कि आप उसे बताएंगे कि क्या करना है और फिर उसे आपके कही अनुसार वही करना है ।
  • बुनियादी निर्देशों से शुरू करें (जैसे: 'साइमन कहते हैं, अपनी नाक को छूएं')। आप उसे एक या दो बार कर के भी दिखा सकते हैं कि आप उससे क्या करवाना चाहते हैं।
  • अलग अलग निर्देशों का प्रयोग करें  (जैसे : कूदो, घिसटो,ताली बजाओ, थपथपाओ , गोल घूमो, जाओ, और रुको )। देखें कि वह सबसे अच्छा क्या करना पसंद करता है और उन निर्देशों को बार -बार दोहराइये, जो उन्हें मजाकिया लगते हैं (जैसे : आप 'ऊपर- नीचे कूदो' के बजाय कह सकते हैं, 'एक बंदर की तरह कूदो')। यदि आपको अपने बच्चे को समझाना हो कि यह कैसे करना करना है तो कोई उछल - कूद का तरीका अपनाने के बजाए कोई सरल गतिविधि से यह दर्शाएं
  • यदि आप खेल का और आनंद  लेना चाहें, तो अपने बच्चे को आपको  निर्देश देने का मौका दें और देखें कि वह आपसे क्या क्या करवाता है!




25-36 महीने के बच्चों के लिए: साइमन कहते हैं कि :( कुछ विशेष रंगों के साथ )

यह गेम रंगों के शामिल हो जाने के कारण और मुश्किल हो जाता है तथा बड़े बच्चों की सोचने की शक्ति को और अधिक रूप से प्रभावित करता है । दो चीज़ों को जोड़कर सोचने से बच्चे की सोचने की क्षमता बढ़ती है ।

  • पहले जैसे ही 'साइमन कहते हैं कि' खेलने की शुरुआत करें ।
  • कुछ ऐसे निर्देश भी शामिल करें जिनमे रंगों के नाम हों। उदाहरण के लिए, आप अपने बच्चे से एक हरे रंग की वस्तु खोजने और उसे आपके पास लाने के लिए कह सकते हैं।
  • इसके बाद,  उसे 2 निर्देशों का पालन करने के लिए कहें, उदाहरण के लिए: 'कुछ सफेद ढूंढें और उस पर बैठें'।
  • यदि आप रचनात्मक हो जाते हैं, तो आप इससे अपने बच्चे के साथ मज़ाक भी कर सकते  हैं जैसे आपका सिर दबाने को कहना , उनकी चॉकलेट का एक टुकड़ा मांगना, या कुछ ऐसा जो आपको आराम करने में मदद करेगा, आप उनसे करवा सकते हैं ।  

 

#balvikas #hindi
logo

Select Language

down - arrow
Rewards
0 shopping - cart
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!