Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!

गर्भावस्था में सम्भोग (Sambhog) से जुडी भ्रांतियों का भंडाफोड़

cover-image
गर्भावस्था में सम्भोग (Sambhog) से जुडी भ्रांतियों का भंडाफोड़

दोस्तों, गर्भावस्था में सम्भोग की बात ही कुछ और है | और मैं बिलकुल भी मज़ाक नहीं कर रही हूँ | सभी को लगता है कि गर्भावस्था में सेक्स ?? होता है यह कि पहली तिमाही में आपको बहुत ही ज़्यादा थकान और मतली होती है तो वैसे आलम में सेक्स तो बहुत दूर की बात हो गयी | पर दूसरी तिमाही में जब उबकाई और उलटी आने वाले होर्मोनेस क्षीण पड़ जाते हैं तो आपके अपने होर्मोनेस वासना जाग्रत कर देते हैं |

 

ऑक्सीटोसिन नामक लव हॉर्मोन गर्भावस्था में काफी मात्रा में शरीर में रहता है और शारीरिक अंतरंगता और सम्भोग की इच्छा को बढ़ता रहता है | इसके अलावा गर्भावस्था के समय एस्ट्रोजन हॉर्मोन का स्तर भी काफी ऊपर रहता है जिससे योनि में स्राव और रक्त का प्रवाह भी काफी मात्रा में होता है | इन सब बातों को चैडविक साइन कहते हैं : योनि की नली और भगनासे का फूलना, अधिक मात्रा में योनि का स्नेहन, यह सब मिलकर कामोत्तेजना को कई गुना बढ़ा देते हैं | 

 

{कई महिलाएं गर्भावस्था में सेक्स का नाम सुनते ही परेशान हो जाती हैं }

 

अभी ख़रीदे और पाए 100% कॅश बैक

 

आप अभी भी संतुष्ट नहीं होंगी, काफी हिचकिचाहट होगी, चिंताग्रस्त इस बात से कि गर्भावस्था में सेक्स से बच्चे को नुक्सान हो सकता है और उसका जन्म समय से पूर्व हो सकता है | पर यदि कोई डॉक्टर अथवा विशेषज्ञ आपको कहे कि यह सब झूठ और विकृत अफवाहें हैं तो फिर आप क्या करेंगे ? चलिए मेरी बात ना मानिये, मैं कुछ वैज्ञानिक तथ्य लिख रही हूँ जो इन भ्रांतियों का भंडाफोड़ करेंगे :

 

{भ्रान्ति 1 : गर्भावस्था में सम्भोग के दौरान गहरे प्रवेश से भ्रूण को नुक्सान हो सकता है

सच: गर्भावस्था में योनि का आकार बढ़ जाता है तो यह लिंग और गर्भाशय ग्रीवा के बीच में एक प्राकृतिक अंतर बना देता है | इसके अलावा ग्रीवा एक मोटे बलगम की परत से सील रहती है और बच्चा एक प्राकृतिक थैली (एमनीओटिक सैक) में सुरक्षित रहता है |}

 

{भ्रान्ति 2 : गर्भावस्था में सेक्स करने से बच्चा समय से पहले हो जाता है

सच : यद्यपि यह सही है कि गर्भावस्था में सेक्स करने से वीर्य में मौजूद हॉर्मोन प्रोस्टाग्लैंडीन से सिकुड़न महसूस होती है और डॉक्टर प्रोस्टाग्लैंडीन का उपयोग करके ही लेबर की तैयारी करते हैं परन्तु वो सिंथेटिक होता है और वीर्य के मुक़ाबले कहीं ज़्यादा मात्रा में इस्तेमाल करना पड़ता है | }

 

अभी ख़रीदे और पाए 35% की छूट

 

{भ्रान्ति 3 : सेक्स के बाद योनि से रक्त रिसाव होना क्षति का संकेत है

सच: थोड़ा सा रक्त देख कर आप भले ही चिंतित हो जाएँ पर परेशान होने की बात नहीं है | यह गर्भाशय ग्रीवा के संवेदनशील होने की वजह से है | यदि अधिक मात्रा में रक्त रिसाव हो तो डॉक्टर को अवश्य दिखाएं |}

 

{भ्रान्ति 4 : गर्भावस्था में सेक्स से योनि में संक्रमण हो सकता है |

सच: यदि आपके पति या सेक्स पार्टनर को कोई भी संक्रमण अथवा यौन संचारित रोग नहीं है तो आपको यौन संक्रमण की चिंता करने की कोई ज़रुरत नहीं है | बस साफ़ सफाई पर विशेष ध्यान दीजिये | }

 

भ्रान्तिओं और अफवाहों से परे गर्भावस्था में सेक्स के काफी फायदे भी हैं :

 

1 पेडू की मांसपेशियों में बल आता है

2 शरीर में सर्कुलेशन अथवा परिसंचरण अच्छा होता है

3 रोग प्रतिरोध क्षमता में बढ़ोतरी होती है

4 नींद अच्छी आती है

5 आत्मीयता और नज़दीकी बढ़ती है

 

गर्भावस्था में समय समय पर सेक्स करते रहने से आपके पेडू की मांसपेशियां मज़बूत होती हैं और जन्म के समय के लिए आपको तैयार रखती हैं | इससे शरीर में रक्त का परिसंचरण अथवा ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है | सेक्स करने से शरीर में आई जी एंटीबाडीज का स्तर भी बढ़ जाता है जिससे रोग प्रतिरोध क्षमता भी काफी बढ़ जाती है | यही नहीं, आपके और आपके साथी के बीच आत्मीयता भी बढ़ती है और एंडोर्फिन्स बढ़ने से अच्छी नींद आती है जिससे एक गर्भवती महिला को थकान से मुक़ाबला करने की क्षमता मिलती है |

 

 

 

गर्भावस्था में सेक्स से भागिए मत, इसे अपनाइये और इसके फायदे उठाइये |

 

अनुशंसा : यदि कोई सवाल हो तो अपने गाइनाकोलॉजिस्ट अथवा डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करें | आपके डॉक्टर की सलाह आपके लिए सबसे बेहतर होगी |