babychakra logo India’s most trusted Babychakra
  • Home  /  
  • Learn  /  
  • बच्चे के लिए बेस्ट बेबी वाइप्स का चुनाव कैसे करें?
बच्चे के लिए बेस्ट बेबी वाइप्स का चुनाव कैसे करें?

बच्चे के लिए बेस्ट बेबी वाइप्स का चुनाव कैसे करें?

14 Jun 2022 | 1 min Read

Vinita Pangeni

Author | 554 Articles

नई माँ को बच्चे की देखभाल के लिए बहुत-सी चीजें चाहिए होती हैं। इनमें सबसे आवश्यक है बेबी वाइप्स। बच्चे के डायपर बदलने, चेहरे को पोंछने, बेबी के हाथों को साफ करने, जैसे अनेक दैनिक काम के लिए बेबी वाइप्स की जरूरत पड़ती है। इन वाइप्स को चुनते समय खास ध्यान देना चाहिए। बच्चे के लिए इस्तेमाल होने वाले बेस्ट बेबी वाइप्स बिल्कुल उतने ही कोमल होने चाहिए, जितने की बच्चे की त्वचा नाजुक होती है।

आइए आगे बेस्ट बेबी वाइप्स को चुनने का तरीका और उनमें क्या होना चाहिए, यह समझते हैं।

शिशु के लिए कैसा बेबी वाइप्स चुनें (How To Choose Best Baby Wipes for Newborns)

एक आदर्श बेबी वाइप पॉलिएस्टर मुक्त होगा। बच्चों के लिए वाइप्स बाल रोग विशेषज्ञों (Pediatricians) के साथ सह-निर्मित और डर्मेटोलॉजिकली टेस्टेड ही बेहतर होते हैं। इस तरह से बने वाइप्स बच्चे की नाजुक और संवेदनशील त्वचा को सौम्यता से साफ करते हैं। ऐसे वाइप्स न्यूबॉर्न (Wipes for Newborns) के लिए उपयोग में लाए जा सकते हैं। चलिए, आगे जानते हैं कि बेस्ट बेबी वाइप्स में अन्य क्या खूबियां होनी चाहिए।

बैम्बू वाटर – वेट वाइप्स में पानी का अधिकतम प्रतिशत होना चाहिए। नम व गीले वाइप्स हाथों को साफ (Baby Cleaning Wipes) जल्दी और अच्छे से करते हैं। डायपर रैश के लिए बेबी वाइप्स (Baby Wipes for Diaper Rash) का इस्तेमाल करना है, तो इसमें 99 प्रतिशत नमी होनी चाहिए। यह पानी साधारण नहीं, बल्कि बांस का होना चाहिए।

दरअसल, बैम्बू वाटर में मिनरल्स होते हैं, जो स्किन हेल्थ को सपोर्ट करते हैं। इसलिए, यह बेबी फेस वाइप्स (Baby Face Wipes) की तरह भी काम करते हैं। साथ ही बैम्बू वाटर प्राकृतिक फ्लेवोनोइड्स से भरपूर होता है। बैम्बू वाटर वाइप्स शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट के रूप में भी कार्य करते हैं। 

बांस के रेशे – प्राकृतिक वाइप्स में बांस के रेशे होना अच्छा है। ये रेशे हाइजीन को बनाए रखते हैं। इन बांस के रेशे से बने वाइप्स चेहरे के लिए भी अच्छे होते हैं। यही नहीं, बैम्बू वाइप्स बायोडिग्रेडेबल, एंटीबैक्टिरियल, और मोटे व अधिक मजबूत होते हैं। साथ ही दूसरे पॉलिएस्टर वाइप्स के मुकाबले 100 प्रतिशत ऑर्गेनिक और मुलायम होते हैं। 

बैम्बू फाइबर की सबसे बड़ी खासियत यह है कि बैम्बू के रेशे से बने वाइप्स से प्राकृतिक सुगंध आती है। ऐसे में आर्टिफिशल सुंगंध की आवश्यकता नहीं पड़ती और न ही कृत्रिम खुशबू बच्चों की संवेदनशील त्वचा के लिए अच्छी होती है। आप बांस के रेशे से बने बेबीचक्रा बैम्बू वाइप्स (BabyChakra Bamboo Wipes) खरीद सकते हैं।

यह भी पढ़ें – बेबी वाइप्स में क्या नहीं होना चाहिए?

प्राकृतिक तेल – बच्चे के वेट वाइप्स में बादाम तेल, जैस्मीन और जेरेनियम, जैसे प्राकृतिक तेल हों तो सोने पर सुहागा। बादाम तेल स्किन को पोषित करता है, क्योंकि यह विटामिन ई का समृद्ध स्रोत है। साथ ही स्किन को रैशेज से बचाता है। जैस्मीन ऑयल की प्राकृतिक खुशबू बच्चे की स्किन को रिलैक्स करने में मदद करती है। रुखी और लाल व जलन युक्त त्वचा को जेरेनियम ऑयल राहत पहुंचाता है। नारियल तेल त्वचा को शांत कर एक सुरक्षात्मक परत बनाता है।

प्राकृतिक एलैनटोइन – बच्चों को स्किन रैशेज होते रहते हैं। डायपर रैश तो बच्चों में बेहद आम है। ऐसे में बेबी वाइप्स में एलैनटोइन (Allantoin) हो, तो यह त्वचा पर होने वाले रैशेज को कम कर सकता है।  एलैनटोइन, या एल्यूमीनियम डाइहाइड्रॉक्सी एलांटोनेट पौधों में पाया जाने वाला एक केमिकल कंपाउंड है। यह स्किन को मुलायम रखता है। 

दरअसल, एलैनटोइन एक तरह का ह्यूमेक्टेंट होता है। यह हवा से या त्वचा की गहराई से पानी को आकर्षित करके मॉइस्चराइजिंग एजेंट की तरह कार्य करता है। एलैनटोइन को सिंथेटिक तरीके से भी बनाया जाता है। इसलिए, ध्यान दें कि बेबी वाइप्स में प्राकृतिक एलैनटोइन ही हो।

बेस्ट बेबी वाइप्स (best baby wipes) चुनने का तरीका - BabyChakra Bamboo Wipes are best baby wipes
बेस्ट बेबी वाइप से बच्चे को पोंछती माँ / स्रोत – फ्रीपिक

एलोवेरा – बेबी के लिए इस्तेमाल होने वाले वेट वाइप्स में इन सबके साथ एलोवेरा  होना बेस्ट है। एलोवेरा न सिर्फ स्किन को शांत करता है और आराम देता है, बल्कि उसे हाइड्रेट भी कर सकता है। इसके साथ ही स्किन में होने वाले रैशेज से आराम दिलाने के लिए भी एलोवेरा को जाना जाता है।

हमेशा बच्चे को अच्छे से बेबी वाइप्स से पोंछने के बाद टैल्क मुक्त बेबी पाउडर लगाएं। उसके बाद आप बच्चे को डायपर पहनाएं।

विटामिन-ई – साफ-सफाई के साथ ही वेट वाइप्स बच्चे की स्किन को पोषण दें, तो इससे बेहतर कुछ नहीं होगा। इसलिए वेट वाइप्स खरीदते समय उसमें विटामिन-ई सामग्री को जरूर देखें। विटामिन-ई युक्त बेबी वेट वाइप्स त्वचा को पोषण देने के साथ ही स्किन में होने वाली जलन, सूजन और अन्य दिक्कतों को अपने एंटी इंफ्लेमेटरी प्रभाव के चलते कम कर सकता है।

अगर बच्चे को डायपर रैश हो गए हैं, तो पाउडर लगाने के कुछ देर बाद डायपर रैश क्रीम भी बच्चे को लगाएं, ताकि उसे डायपर रैश से होने वाली दिक्कत से राहत मिल सके।

आजकल बाजार में मौजूद सभी वाइप्स बच्चों के लिए सुरक्षित होने का दावा करते हैं। लेकिन जरूरी है कि आप हमेशा खास तौर पर बच्चों के लिए बनाए गए वाइप्स को उपयोग में लाएं। बेबी वाइप्स नॉनटॉक्सिक है या नहीं, यह देखने के लिए इंग्रीडिएंट्स की लिस्ट जरूर देखें। साथ ही वाइप्स ऑर्गेनिक होना भी आवश्यक है। इसलिए बैम्बू वाइप्स को बेस्ट माना जाता है। 

मुख्य चित्र स्रोत – freepik

संबंधित लेख –

डायपर रैश क्रीम का चुनाव कैसे करें?
न्यूबॉर्न के लिए किस तरह का बेबी पाउडर सेफ है?
बच्चों के लिए स्किन फ्रेंडली प्रोडक्ट
क्या आपने डायपर बैग में इन्हें जगह दी?

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop