I am 28 "not out" and you😋😉
मेरी उम्र 28 साल है,
हर मुश्किल में डटकर साथ रहने वाला पति है,
भगवान का दिया वो सब कुछ जिसके लिए मैं हर रोज़ सुबह मुस्करा कर आँखें खोल सकती हूँ और शुक्रिया कर सकती हूँ इस खूबसूरत जीवन का ।
ये पहली लाइन पढ़कर लग रहा होगा तो ये सब मैं यहाँ ऐसे लिख कर आप सबके साथ क्यूँ शेयर कर रही हूँ
तो हुआ यूँ हाल ही में रिलीज़ हुई movie "१०२ नॉट आउट" मैंने देखी
movie खत्म हुई और जबान से बस दो शब्द निकले वो थे "भई वाह"
बात बहुत सीधी साधी सी है movie का दर्शाया हुआ एक एक सीन मानों कहता हो
"बहुत मर लिया, अब तो जी ले, इतनी खूबसूरत ज़िंदगी मिली है, गम से गर फुर्सत मिली हो तो थोड़ा सुकून का घूँट भी पी ले ...;
ऐसा;नहीं बस बड़े बुजुर्गो के लिए ये मूवी बनी, ये मूवी हम सबसे बहुत सरल तरीके से कुछ न कुछ कहती है जैसे - टाईम टेबल को फॉलो करना अच्छा है मगर खुद टाइम मशीन बन जाना बेवकूफी है ?
क्या हुआ जो आज 15 मिनट ज़्यादा आँख लग गयी ?
क्या हुआ जो पति ke लंच में बस ब्रैड बटर रखा?
क्या हुआ जो महीने में दो दिन खाना बाहर खाया ?
क्या हुआ जो कभी घर बिखरा है ?
क्या हुआ जो कोई आपको नहीं समझता ? आप खुद को समझते हैं क्या इतना काफी नहीं ?
बिग डील !
गहरी सांस भरो और कभी बंद मुटठियों को खोल कर खुद से बात करो ।
सारे कामों में १० में १० नंबर लाकर कौन सा मैडल जीतने की रेस लगी है ?
मिला कोई जवाब ? तो खुद के लिए जो कड़े मापदंड हमने खुद बना लिए हैं उसको थोड़ा आसान बनाये और अपनी दिनचर्या में खुद को खुश करने वाली चीज़ों को भी थोड़ी जगह दें जैसे :
अपने स्वास्थ्य को नज़र अंदाज़ बिलकुल भी न करें, योग और व्यायाम के लिए समय निकालें ।
अपनी मन पसंद के रंग बिरंगे कपडे पहनें, पति और बच्चों के कपडे खरीद खरीद कर अपनी पसंद को कूड़ेदान में बिलकुल न डालें ।
भूख लगने पर गर आप अपनी थाली सबसे पहले लगा लेंगी तो भूचाल नहीं आएगा यकीन मानिये, विमान में भी टेक ऑफ से पहले यही हिदायत होती है कि "ऑक्सीजन की कमी होने पर पहले स्वयं की सहायता करें बाद में त्याग की मूर्ति बने | मत भूलिए आपको अन्नपूर्णा माँ का दर्ज़ा मिला है, आप स्वयं भूखी भला कैसे रह सकती हैं |
सैर सपाटे पर अपनी सखियों के साथ निकलिए, नयी नयी जगह देखिये, लोगों से मिलिए, ईश्वर ने बहुत बारीकी से इस दुनिया को तराशा है ।
दूसरों के नज़रिये से खुद को आंकना छोड़कर ये देखिये कि आप हैं तो घर के हर कोने में रंग बिखरे हैं, बच्चे बेफिक्र हैं और पति घर की तरफ लापरवाह - हाहाहाहाहा। और बताइये भला एक नन्हीं सी जान क्या क्या करे ?
Please u all lovely ladies "
दूसरों के लिए जीना ये हमारी ज़िम्मेदारी है, इस ज़िम्मेदारी की बीच थोड़ी चीटिंग अगर खुद की ख़ुशी के लिए करेंगी तो हम सब भी साल दर साल हँसते खेलते कह सकते हैं "we r not out"
मैं तो अब से हर साल, हर दिन कहूँगी "I m not out" सब करते हुए भी खुद की खुशियों को समय देना मैं कभी नहीं भूलूँगी। #mydiary 💝 #mywords


Priya Dubey

Priya Sood Khushboo Chouhan asha chaudhry Aditi Ahuja Vidya Rathod Kavita Sahany Varsha rao Karishma Agrawal AMRITA MALLIK Sonam patel Kritz Akanksha Bajaj(ida_tales) Swati Upadhyay Bhavna Anadkat Madhavi Cholera

Aditi Ahuja

Lovely and true yaar

Akanksha Bajaj

So true...I too saw this movie

Krutika Gor

Lovely....

Karishma Agrawal

I m not out bcoz sbse phle plate Khane ki m apni hi lgati hun.... 😂😂movie mast thi but mil ko sab kaam tym m chahie unko kaise samjhaye😂😂

Vidya Rathod

Nice movie

suman tiwari

Nice.......

Get the BabyChakra app
Ask an expert or a peer mom and find nearby childcare services on the go!
Phone
Scan QR Code
to open in App
Image http://app.babychakra.com/feedpost/49011