Rewards
बच्चों के वजन में बढ़ोत्तरी के उपाय / Remedies to Increase Child Weight

यहाँ हम आपको कमजोर शिशुओं व बच्चों को दिया जाने वाला आहार के बारे में बता रहें हैं जिससे बच्चे का वज़न बढ़ाने में आसानी हो।

मलाई युक्त दूध -

दूध में उपलब्ध पोषक तत्व;शारीरिक विकास में मदद करता है। कमज़ोर बच्चों के वजन को बढ़ाने के लिए बाज़ार में उपलब्ध फुल क्रीम दूध;बच्चे को पिलाने से वजन बढ़ाने में मदद करता है। अगर बच्चा दूध पीने के लिए मना करे तो शेक ,स्मूदी या चॉकलेट पाउडर मिक्स करके बच्चे को पिलायें। मलाई वाला दूध बच्चे का वजन बढ़ाने के लिये सही माना जाता है।

;

घी या मक्खन -

घी सभी घरों में पाया जाता है।;घी खाना सेहत के लिए लाभकारी होता है। घी में वसा अधिक मात्रा में होता है। वसा शरीर को ताकत देता है। बच्चों;के;खाने में घी शामिल करें;और उसके शरीर में होने वाले बदलाव को देखें।;घी;रोटी या दाल जैसे चीजों में शामिल करके खिलाया जा सकता है।

हलवा, खीर या सूप -

हरी सब्जियाँ, मीठे चीज़ें और सूजी जैसे चीज़ें वजन बढ़ाने में ,मददगार होती हैं। हरी सब्जियों का सूप या टमाटर का सूप वज़न बढ़ाने के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसके साथ साथ गाजर का हलवा या सूजी का हलवा भी पौष्टिक और वजन बढ़ाने में अधिक मददगार होता है। बच्चों के भोजन में इसे शामिल करना चाहिए। पर इस तरह के भोजन की मात्रा पर भी ध्यान देना बहुत ज़रूरी है क्योंकि इस तरह के भोजन की अधिकता से आलस जैसी समस्याओं का सामना भी करना पद सकता है।

अंडा;एवं आलू –

आलू को कार्बोहाईड्रेट और अंडे को प्रोटीन का अच्छा स्रोत माना जाता है। इन दोनों ही चीजों को खाने से बच्चों के वजन में बढ़ोतरी होती है। बच्चे को आलू व;अंडा उबाल कर खिलाने से वजन बढ़ता है।;

दालें -

दाल में प्रोटीन अधिक होता है इसे पिलाने से बच्चे का;वजन भी बढ़ता है। कमजोर बच्चों का वजन बढ़ाने में दाल का पानी या रस बहुत कामगार साबित हुआ है । इसलिए बच्चों के भोजन में दाल शामिल करें।

;

सूखे मेवे -

कमजोर बच्चों का वजन बढ़ाने में सूखा मेवा बहुत ही मददगार साबित हुआ है।;सूखे मेवे में विटामिन अधिक पाया जाता है। जिससे बच्चे के वजन में बढ़ोतरी की जा सकती है। क्योंकि सूखे मेवे का स्वाद भी अक्सर बच्चों को पसंद आता है तो इन्हे खिलाने के परेशानी नहीं होती बच्चे इन्हें खुशी खुशी खाते हैं। इसे पाउडर बना कर या दूध में मिलाकर खाने के लिए भी दिया जा सकता है

#babychakrahindi

#healthcaretips


Meri beti 9 month ki ho gae he wo sirf mera dudh hi piti he dariy ka nhi baki dal chawal roti nduku different food to kha leti he bt dudh or dudh se bani chize nhi khati

Thanks for sharing.. Muje iski hi jarurat thi

Thank you Isha Pal ap try kijiye

सर मेरा मेरी गुड़िया 16 दिन की उसका बहुत समय क्या करूं वेट वे वेट

Very helpful

Thanks for sharing


Suggestions offered by doctors on BabyChakra are of advisory nature i.e., for educational and informational purposes only. Content posted on, created for, or compiled by BabyChakra is not intended or designed to replace your doctor's independent judgment about any symptom, condition, or the appropriateness or risks of a procedure or treatment for a given person.

Recommended Articles

Scan QR Code
to open in App
Image
http://app.babychakra.com/feedpost/97769