Rewards
Q:

बार बार उल्टी ऐसा हो रहा है क्या करें



मैं वाइफ को 8वा महीना 10 दिन हो चुका है और वो ठीक से खाना नही खा रही हैं??

1.ताजे अदरक को नमक के साथ या फिर इसके रस को नींबू के रस के साथ मिलाकर पीने से आपको फायदा जल्दी मिलेगा। इससे जी मिचली तो कम होगी ही साथ ही सिरदर्द से भी राहत मिलेगा।
2.जीरे में शहद और इमली को बराबर मात्रा में मिलाएं और फिर इसे रोजाना सुबह उठकर खाएं।;
3.शहद और नींबू के रस में पुदीने का जूस मिलाएं और पिएं, फायदा मिलेगा। ज्यादा परेशानी होने पर इसे दिन में तीन बार पिएं।
4.इसके अलावा सुबह-सुबह उठकर एक दो बिस्किट खा लेने से भी दिनभर आपको राहत रहेगी और आप एनर्जी सा भी महसूस करेंगे
5. सुबह आने वाली उल्टी को दूर करने के लिए वही खाएं जो अच्‍छा लगे। ज्‍यादा तीखा या चटपटा न खाएं पर मन को अच्‍छा लगने वाला खाएं। कोशिश करें कि आप सुबह - सुबह खाली पेट, चाय या कॉफी न पिएं, वरना इससे एसिड बनने के चांस ज्‍यादा रहते है।
6.सुबह के दौरान कम्‍प्‍यूटर और टीवी से दूर रह चाहिये, ताकि वह ज्‍यादा ध्‍यान न लगाएं।
7.कम से कम आठ घंटे की नींद लेना चाहिये ताकि महिला का शरीर थककर टूटने न लगे। सोने से पहले सिर्फ अच्‍छा ख्‍याल मन में लाने चाहिये और मुस्‍कराकर सोना चाहिये।
सुबह उठते समय झटके से ना उठे। सहारा लेकर धीरे से उठें। दो मिनट बैठे रहें फिर खड़े होना चाहिए।
— ;एक बार में अधिक भोजन ना लें। थोड़ा थोड़ा खाना चार पाँच में करके;खाएं ।
— ;जिस भोजन में;कार्बोहाइड्रेट अधिक हो ऐसा भोजन लें।
— ;खाली पेट बिल्कुल ना रहें। थोड़ा बहुत खाते रहने से इस परेशानी में कमी ही आती है।
थकान हो जाये इतना काम न करें। थकान होने पर उल्टी और जी घबराना बढ़ सकता है।
— ;पानी पर्याप्त मात्रा में पियें।
— ;कोल्ड ड्रिंक, शराब आदि नुकसान करने वाले ठन्डे पेय ना लें। धनिया ( धनिये की पत्ती ) का रस रस निकाल कर एक एक चम्मच लेते रहने से उल्टी होना बंद होता है।
— ;संतरा;और;अनार;खाने से उल्टी में आराम मिलता है।
— ;दो;चम्मच;भुने हुए चने का सत्तू पाउडर एक गिलास;पानी में घोलकर इसमें स्वाद के लिए;;चीनी;या;नमक;मिलाकर पीने से उल्टी और जी घबराना कम होता है।
— ;नारियल पानी पीने से फायदा मिलता है। इससे एसिडिटी भी कम होती है और भरपूर पोषक तत्व भी मिलते है


Suggestions offered by doctors on BabyChakra are of advisory nature i.e., for educational and informational purposes only. Content posted on, created for, or compiled by BabyChakra is not intended or designed to replace your doctor's independent judgment about any symptom, condition, or the appropriateness or risks of a procedure or treatment for a given person.

Recommended Articles