babychakra-rewards
Stock up your essentials today! Expect a delay in delivery, owing to the current instability, but we assure prompt delivery.
Stock up your essentials today! Expect a delay in delivery, owing to the current instability, but we assure prompt delivery.
Q:

उल्टियां होना प्रतिदिन भोजन किया होना उल्टियां होना और खाना खाने की इच्छा ना ना



गर्भावस्था में उल्टी और जी घबराना बहुत आम समस्या है।
इसका कारण इस्ट्रोजन हार्मोन बढ़ना है।किसी को सिर्फ जी घबराता है उल्टी नहीं होती और किसी को उल्टी भी होती है।
यह सामान्यतया डेढ़ – दो महीने बाद शुरू होता है। ज्यादातर महिलाओं को यह चौथे महीने के बाद;ठीक हो;जाता है। हालाँकि कुछ को यह पूरे समय भी हो सकता है।
बहुत ज्यादा उल्टी हो तो उपचार की आवश्यकता होती है क्योकि इसकी वजह से शरीर में पानी की कमी होने की संभावना हो;सकती है। थोड़ी उलटी होने से बच्चे को नुकसान नहीं होता है। बच्चे को पोषक तत्व शरीर से मिलते रहते है। बल्कि विशेषज्ञ गर्भावस्था में उल्टी होना या जी घबराने का मतलब गर्भावस्था की प्रक्रिया सही रूप से आगे बढ़ने का संकेत मानते है।
गर्भावस्था में उल्टी व जी घबराना होने पर क्या करें –
1.ताजे अदरक को नमक के साथ या फिर इसके रस को नींबू के रस के साथ मिलाकर पीने से आपको फायदा जल्दी मिलेगा। इससे जी मिचली तो कम होगी ही साथ ही सिरदर्द से भी राहत मिलेगा।
2.जीरे में शहद और इमली को बराबर मात्रा में मिलाएं और फिर इसे रोजाना सुबह उठकर खाएं।;
3.शहद और नींबू के रस में पुदीने का जूस मिलाएं और पिएं, फायदा मिलेगा। ज्यादा परेशानी होने पर इसे दिन में तीन बार पिएं।
4.इसके अलावा सुबह-सुबह उठकर एक दो बिस्किट खा लेने से भी दिनभर आपको राहत रहेगी और आप एनर्जी सा भी महसूस करेंगे
5. सुबह आने वाली उल्टी को दूर करने के लिए वही खाएं जो अच्‍छा लगे। ज्‍यादा तीखा या चटपटा न खाएं पर मन को अच्‍छा लगने वाला खाएं। कोशिश करें कि आप सुबह - सुबह खाली पेट, चाय या कॉफी न पिएं, वरना इससे एसिड बनने के चांस ज्‍यादा रहते है।
6.सुबह के दौरान कम्‍प्‍यूटर और टीवी से दूर रह चाहिये, ताकि वह ज्‍यादा ध्‍यान न लगाएं।
7.कम से कम आठ घंटे की नींद लेना चाहिये ताकि महिला का शरीर थककर टूटने न लगे। सोने से पहले सिर्फ अच्‍छा ख्‍याल मन में लाने चाहिये और मुस्‍कराकर सोना चाहिये।
सुबह उठते समय झटके से ना उठे। सहारा लेकर धीरे से उठें। दो मिनट बैठे रहें फिर खड़े होना चाहिए।
— ;एक बार में अधिक भोजन ना लें। थोड़ा थोड़ा खाना चार पाँच में करके;खाएं ।
— ;जिस भोजन में;कार्बोहाइड्रेट अधिक हो ऐसा भोजन लें।
— ;खाली पेट बिल्कुल ना रहें। थोड़ा बहुत खाते रहने से इस परेशानी में कमी ही आती है।
थकान हो जाये इतना काम न करें। थकान होने पर उल्टी और जी घबराना बढ़ सकता है।
— ;पानी पर्याप्त मात्रा में पियें।
— ;कोल्ड ड्रिंक, शराब आदि नुकसान करने वाले ठन्डे पेय ना लें। धनिया ( धनिये की पत्ती ) का रस रस निकाल कर एक एक चम्मच लेते रहने से उल्टी होना बंद होता है।
— ;संतरा;और;अनार;खाने से उल्टी में आराम मिलता है।
— ;दो;चम्मच;भुने हुए चने का सत्तू पाउडर एक गिलास;पानी में घोलकर इसमें स्वाद के लिए;;चीनी;या;नमक;मिलाकर पीने से उल्टी और जी घबराना कम होता है।
— ;नारियल पानी पीने से फायदा मिलता है। इससे एसिडिटी भी कम होती है और भरपूर पोषक तत्व भी मिलते है

Recommended Articles