Q:

मै धीरे धीरे डिप्रेशन मे वापस जा रही हूँ ! जहा से मुझे कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही ना हस्बैंड का साथ है और ना ही मेरे परिवार का मेरी बॉडी एकदम खराब हो गयी है ।डिप्रेशन के कारण हमेशा चिंता मे रहना ओवर थिंकिंग और हमेशा ये सोचा की मैंने बच्चे को जन्म देकर बोहोत बड़ी गलती की अब इसके भविष्य का क्या होगा ? खुद को बोहोत अकेला महसूस करती हूँ हमेशा डरे सहमे रहना अकेलापन खाए जाता है चाहे हजारो की भीड़ हो बस अकेले रहने को जी चाहता है कुछ भी करने का मन नही करता बॉडी पूरी खराब हो गयी है ओप्रशन के बाद से पूरी बॉडी मे दर्द मोटापा और डिप्रेशन मे हद से ज्यादा खाते चले जाना हमेशा सोते रहने की चाहत और कभी कभी मन मे ऐसा ख्याल आता है की खुद को कुछ कर लू पर ये करने की मेरी हिम्मत भी नहीं है और मेरे बच्चे को कौन संभालेगा ये सोच के रुक जाती हूँ सोचा था मेरे पास एक दिन सब कुछ होगा अपना घर एक प्यार और इज्जत देने वाला पति जो सबकी मदद करे एक सुखी परिवार छोटा सा पर अब ऐसा लगता है अपना बच्चा लेकर मै ऐसी जगह चली जाऊ जहा कोई भी ना हो एक अलग दुनिया मे जहा मुज़हे कोई ना पहचाने डिप्रेशन हावी होता जा रहा है मुझपर समझ नहीं आता क्या करू एक सायकेट्रिस्ट को दिखाना चाहती हूँ की मेरी मानसिक स्तिथि थोड़ी ठीक हो सके और मै भविष्य मे कोई गलत कदम ना उठाऊ पर मै नहीं कर सकती ये भी उनको देने के लिए मेरे पास कोई मोटी फी नहीं है और कोरोना के डर से घर की देहलीज पार करने मे भी डर लगता है क्युकी मेरी जिमेदारी मे एक बच्चा भी है समझ नहीं आता क्या करू अगर मै इसी हालत मे थोड़े दिन और रही तो कहीं कोई अनहोनी ना हो जाय इसका डर है हाथ जोड़ कर bbc परिवार से मेरा निवेदन है मेरी मदद जरूर करे 🙏🙏🙏



Ap bilkul bhi tension mat lo... sab ki life me thoda bhut chalta he.. ap bache ke bare me socho.. apne use janm diya he.. baby ke fuachar ka kya hoga... ek maa ke bina jindgi adhuri hoti he.. apke baby ki puri life ka sawal he... so please khuch bhi aesa vesa kadam na uathe...apko jo kam acha lge vo kro.. thoda time khud ko bhi do... so be positive

गर्भावस्था के बाद अवसाद(डिप्रेशन) से लड़ना

डिलीवरी के बाद डिप्रेशन के कारण

पोस्ट पार्टम डिप्रेशन (पीपीडी) क्या है?

pahle to aap yah sab Kuchh sochana bilkul Chhod dijiye..
apni baby ka aapko Khyal Rakhna Hai ..
meditation Kijiye
books padhiye
Achcha music suniye aur Aise negative thoughts hai vah apne man se nikal dijiye..
delivery ke bad bahut sari women ke sath Aisa Hota Hai Main Khud bhi is Se pass ho chuki hun..happy rahoge to hi baby ka khyal achhe se rakh paoge.
positive books padhe..or Kisi friends ke sath apni Man Ki Baat Sher kijiye..


Suggestions offered by doctors on BabyChakra are of advisory nature i.e., for educational and informational purposes only. Content posted on, created for, or compiled by BabyChakra is not intended or designed to replace your doctor's independent judgment about any symptom, condition, or the appropriateness or risks of a procedure or treatment for a given person.