Q:

बच्चों के लिए घरेलु नुस्खे Home remedies for kids
बच्चों के पेट में दर्द –
—; बच्चों को पेट दर्द कई कारण से हो सकता है। स्तनपान करने वाला शिशु भी इससे अछूता नहीं है। दूध पिलाने वाली माँ को ऐसे भोजन से परहेज करना चाहिए जो पचने में भारी हों और पेट में गैस पैदा कर सकते हों। यदि शिशु को पेट दर्द हो रहा है तो पानी में हींग घोलकर उसके नाभि के आस पास ये पानी लगा दें। इससे गैस निकल जाएगी और शिशु रोना बंद कर देगा।
—; चौथाई कप पानी में 15 -20 दाने अजवाइन के डालकर उबाल लें। आधा रह जाने पर थोड़ा सा गुड़ मिला लें।थोड़ा गुनगुना रहने पर आधा चम्मच सुबह , आधा चम्मच शाम को पिलायें । पेटदर्द; भी ठीक होता है और सर्दी लगी हो तो वो भी मिटती है। सर्दी के मौसम में नहलाने या सिर धोने के बाद इस पानी को पिलाने से सर्दी जुकाम नहीं होते
बच्चों के दांत निकलते समय – Dant nikal rahe he
बच्चों को दाँत निकलते समय मसूड़ों में बहुत खुजली आती है। बच्चे जो भी हाथ में आये उसे मुँह से चबाकर खुजली मिटाने की कोशिश करते है। ऐसे में निम्न उपाय करने चाहिए।
दाँत निकलना
—; दन्तोदभेदगदान्तक रस नामक गोली किसी आयुर्वेदिक शॉप से ले आएँ। ये गोली पीस कर माँ के दूध में या पानी में मिलाकर सुबह शाम दें। ये गोली पीस कर शहद में मिलाकर बच्चे के मसूड़ों पर लगाएं। बहुत लाभदायक है। दाँत बड़ी आसानी से निकल जाते है।
—; बाजार से “डॉक्टर वडनेरे का टीथिंग सिरप ” लाकर आधा -आधा चम्मच दिन में तीन बार पिलायें। दाँत निकलने में आसानी होती है। ये सिरप बहुत प्रसिद्ध है और बहुत लाभदायक है।
—; गाय के दूध में मोटी सौंफ उबालकर एक -एक चम्मच तीन चार बार पिलाने से दाँत आसानी से निकलते है।
—; यदि बच्चे को टीथर चबाने को दिया हो तो उसकी सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। या ऐसी चीज चबाने को दें जिसको रोज बदल सकें जैसे गीला नारियल का टुकड़ा।
—; मसूड़ों पर दिन में चार पांच बार शहद लगाना चाहिए।