क्या आपका पति आपका परमेश्वर है ?

आज मैंने कुछ गलत तार छेड़ दिए हैं| शायद मैं बिस्तर की गलत दिशा से उठी थी (काश मुझे पता होता की सही जगह कौन सी होती है) | ऐसा लगता है जैसे मैं कुछ भी कहती हूँ वो मेरी सास को अच्छा नहीं लगता है और जो भी वो कहती हैं उससे मुझे बहुत परेशानी होती है|

 

ऐसा ही एक विषय खड़ा हो गया | मैंने पूरे मन से प्रयास किया कि किसी बहस से बचूं क्यूंकि मैं अपना मुँह बंद नहीं रख पाती हूँ | पर इस बार बात मुझे थाली में परोस कर दी गयी थी और मेरे पास कोई चारा नहीं था सिवाय उसे खाने के | पर मुझे वह बात पसंद नहीं आयी और मैं चुप नहीं रह पायी | बात यह थी कि उसकी सहेली का पति घर के हर काम में रोज़ उसकी मदद करता है | इसलिए बाकी की औरतें उसकी बुराई कर रही थीं कि अच्छा नहीं लगता कि आदमी घर के काम करे | मैं यह सब सुन कर चुप रही | वो मुस्कुरायी और फिर बोलने लगी कि अब तो उसका 12 वर्ष का बेटा चिल्ला रहा था "डैड, आप अब यह सब नहीं करेंगे" | बाकी की औरतें बहुत खुश थीं इस बात पर | ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे कि कोई राजकुमार सफ़ेद घोड़े पर आया था कैद में पड़ी राजकुमारी को बचाने | बस फिर क्या, बवाल मच गया, बहस भी हुई पर कोई फ़ायदा नहीं हुआ | सदियों पुराना बीज लोगों के दिमाग में बोया गया था और आज वह एक विशाल बरगद का पेड़ बन चूका था | चाहे कितनी भी आंधी चले, उसकी जड़ें मज़बूत ही रहती हैं |

 

मेरा सीधा सा सवाल था कि पुरुषों ने ऐसा क्या किया है कि उन्हें ईश्वर की तरह पूजना चाहिए ? क्या यह उचित है कि 12 वर्ष का बालक इस तरह पुरुष को सम्मान दे और देवी का अपमान करे ? बच्चों के कोमल मन में हम किस तरह के मूल्य भर रहे हैं ? क्या वह भी हमारे रूढ़िवादी अतीत का बोझ ढोयेंगे ? क्या वह बच्चा ऐसी बात कहता यदि उसकी माँ घर का काम कर रही होती ? कदापि नहीं | क्यूंकि हमारे समाज ने लिंग के आधार पर धारणाएं बना रखी हैं | एक नर बच्चे की माँ पर बड़ी ज़िम्मेदारी है कि उसका बेटा नारियों के प्रति संवेदनशील बने | भगवान् का शुक्र है इस बार के अपवाद भी हैं अन्यथा कल्पना चावला कभी अंतरिक्ष में न जा पाती और न ही संजीव कपूर कभी कुछ बना पाते |

Banner Image Source: jamieplatform2nepal

#realmommystory #genderstereotypes #genderquality #blogathon #hindi #swasthajeevan

Pregnancy, Baby, Toddler

स्वस्थ जीवन

Leave a Comment

Comments (57)



Deepti Kush

I agree with it

Asha Milind

I also agree

Yogesh Bachchhav

Is ke liye aap hi jimedar ...
Aap hi apani value kam kar rakhi he or bhagvan ko khoste ho.....
Yaha bhagvan kuch nahi karega kuch ko karna hoga....

Priyanka Maheshwari@Momzjourne

Yogesh ji, ismein khud jimmedar hone wali baat kahan se aayi.. yaha ti ek vichar dhara, ek mansikta ki baat ho rahi hai jiski jade itni mazboot hai ki use badalne mein waqt lagega.. aur badlaav aa bhi raha hai ya yun Kahe laaya bhi jaa raha hai... par abhi bhi kuch log usse anchuye hain.. isme khudki value kam karne ki baat kahan se aayi...

Priyanka Maheshwari@Momzjourne

Thank u Deepti Kush; AMD @ashamilind

Yogesh Bachchhav

Me aap ki bat se puri tar se sahmat hu but ye jab kabhi aahi bat hoti hai to hame sat dene wale kam or dabane wale jada milte hai ....
Survat ghar se hi hoti hai....
Par jo iska virodh kar ke aage bhadega vo jarur jitega . muskile aayegi wakt ke sat sub kuch badlega....
Magar apani soch ko mat badalne do....

SWETA KUMARI

Aaj v hamare samaj me aisi soch wale log h jo pati ko parmeshwar or patni ko dasi mante h
Magar aise logo ki kami v nai h jo apni soch or vaihvar se patni ka na sirf dil jitte h balki use wo maan samman dete h jo unka haq h
Sath hi na sirf aise pati jiwan ke har mod par apni patni ke kandhe se kandha mila kar chalte h balki patni ko apni parchhai mante h
Tb aise pati ko agar koi patni parmeshwar ka darja dil or atma se de to kya harz h

Pooja Yadav

This is so well written.

Ekta Gupta

Ha mere hubby bhi meri kam me help krte he pr meri dadisas ko ye suhata nhi he .or baki ki ladies ki bhi yhi halat hoty he wo khud to chahty he ki unka hb unki help kre pr agr unka beta bhai esa kre to shan nhi hota inse .pta nhi kb ye smaj sudhrega..

shweta kesarwani

Na pati parmeshwar hota h ar na patni dasi par kya kahe hmare samaj ko

shweta kesarwani

Dono ex dusre ke purak h ar ek dusre k sahyogi

G M

बहुत खूब लिखा गया है
लेकिन दोनों एक दूसरे के पुरक होते हैं

khushi

Very very nice

anju giri

इससे मुझे बहुत मदद मिली!

Shashi Bala

You r right

Priya Priya

मुझे इस लेख की ही तलाश थी!

Komal Gupta

Ye har ghar ki khani h mere hsbnd b agr meri help krte h to meri sas khti h mene usse kbhi kuchh ni kraya ye to iska gulam bn gya h iski help krta h but isse mujhe ya mere hsbnd ko koi frk ni pdta ye unki soch h but mere hsbnd humesha mere sath rhte h humesha mera sport krte h...
Duniya ka kya h wo to bhagwan se b dukhi h, agar mannat puri na ho to log bhagwan ko b koste h,hum to bs insan h..

Sanat Kumar

इससे मुझे बहुत मदद मिली!

Annu

Nice
Koshish ho ki hum ye sanskaar apne bachcho ko abhi se de paye..

Samadhan Ingole

Ha mera pati mera best friend hai mere delivery or operation me mere maa ki tarah khayal rakhate hai

priyanka shukla

Ha Mere husband bhut bhut ache h

neha

Yaaaa mere hubby bhut sche h or sweet h bhut dhyan rkhte h mera or meri jarurato ka...and apne se phle mere liye sochte ......h iske sath hi bhut ache insan bhi h......sbki help krate h...mom ki meri ...papa ji ki and mere maa papa ki bhi...i am so lucky mujhe vo mile

Punam Priyanka Punam Priyanka

काश मुझे यह पहले पता होता!

Narendra Savita

मुझे इस लेख की ही तलाश थी!

vishal kumar

सासु को मां की नजरो से देखे झगड़ा खत्म हो जायेगा और पति परमेश्वर वली बात एक पहेली सी लगती है

vishal kumar

सासु को मां की नजरो से देखे झगड़ा खत्म हो जायेगा और पति को आप जनो आप किस निगाह से देखना पसंद करती हैं

Preeti Singh

बहुत खूब लिखा गया है

Priyanka Jha

Parmeshwar ka to pta nhi pr mere hubby bahut aache h mera khyaal rhkte h ,meri icchao ka samman krte h, ek sachche life partner ki tarah to mein unki bahut respect krti hoon

pankaj sachan

आप के बिचार सराहनीय है

pankaj sachan

काश मुझे यह पहले पता होता!

Dr.dewdat Sharma

मुझे इस लेख की ही तलाश थी!

Ekta Jain

Hanjii mere hubby bhut aache insan he wo meri or meri beti ka khud se jyada khayAl rkhte h or hme bhuttttttt pyar krte h or merii Ghar K kam m bhi madad krte h

Kumar Rahul

परमेश्वर यानी वो इंसान जो वास्तविकता मे पुजा करने लायक हो, योग्य हो वो परमेश्वर कहलाता है ओर ऐसे कैई लोग होते है जीवन मे वो केवल पति ही हो वो जरुरी नहीं,यहाँ तक तो मे सहमत हूँ पर किसी को परमेश्वर सम्बोधन ही न हो वहाँ मे सोच मे थोड़ा अन्तर हो सकता है l
अब विचारे
हर वो इंसान परमेश्वर हो सकता है जो पालन-पोषण-जीवन कि पुर्ण जिम्मेदारी लें l
ओर जो किसी का जीवन बनाने का ठॆका ले कर जीवन भर वचनबद्धता स्वीकारे अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए अपनी पुर्ण क्षमता कौशल अपर्ण करने के लिए तत्पर रहता हो, जिसका होना प्राणी के लिए आधार हो,जो पालन कर्ता जैसा बन कर उसी के लिए धरती पर जन्मा है , ऎसा इंसान उस व्यक्ति के लिए साक्षात परमेश्वर ही है
तो उस प्राणी का अपने समाज मे बताने का एक तरिका है ये "परमेश्वर " वाला कोन्सेप्ट, उसके जीवन मे वो किस पद पर है ये बताने कि व्यवस्था है, एक आदर , एक रिटर्न गिफ़्ट जैसा है ये " परमेश्वर " कि पदवीेl
ये माता-पिता-पति-पत्नी-गुरु-मित्र- या अन्य किसी भी रुप मे हो सकता यदि कोई वास्तव मे इस योग्य है तो उसे यह गार्ड ओफ़ ओनर देना चाहिए l
कल को कोई कह दे
माता पिता है भगवान नही होते, या पत्नी लक्षमी नहीं होती, सिखाने वाला गुरू के पद का अधिकारी नहीं होता.. तो... मै ओर आप उसे अर्थ समझाने का प्रयास करेंगे l
मेरे तात्पर्य को समझ पाये हो तो अपने विचार प्रकट करें l

Pooja soni

Yes i am agree

Pramod Chhitkare

बहुत खूब लिखा गया है

Pooja Parjapati

Ha also right

gauri yadav

बहुत खूब लिखा गया है

TH. REENU CHAUHAN

bahut hi upyogi lekh hai..
..
PLEAS MUJHKO #FOLLOW KIJIYE SABHI FRIENDS

shaista

Mere hubby b mere Sath Kam kra Lete h koi Kuch b kahe hme parwah nh logo ki wjah s HM apna mahol nh khrab krenge

kiran kumari

बहुत अच्छा है

Rinki

Mera pati ghar ka kaam nahi krta office se hi thak jaata h saas bhi apne bete ka sath deti h chahe vo galt ho ya sahi uska sath khadi hoke jaghda pasvaati h

Priyanka Maheshwari@Momzjourne

@kumarrahul ji mein aapke vichaaron se purna sahmat hun.. parmeshwar wo hai jo bhagwaan rupi ho.. jise aap. man se bhagwaan ki traah sweekarein.. wo.koi bhi.ho.sakta hai...maa baap dost pati patni...koi bhi.. isme koi dikkat ki baat nahi hia...mera ye lekh us vichardhaara par aadharit hai jahan hamare bhartiya samaj ne pati ko parmeshwar ka upnaam de.rakha hia chahe wo us layak ho ya nhai.. bahut se aise pati hai jo shayad parmeshwar kahlane yogya honge.. par bahut se aise bhi.hai jo uske aas paas bhi nhi fatakte.. phir unhe kyun bhagwaan ka darja diya jaayr. Ye us maansikta par bhi aadharit hai ki pati ghar ka koi kaam nhi karega.. wo apni patni ke kaamon mein hath nhi bataeya...kyun...kyunki wo tumhara bhagwaan hai.. tumhe uski seva karni chahiye.. jabki asliyat mein to dono ek doosre ke purak hia...koi kisi ka bhagwaan nhi...

Roop Tara

Agreed yes!!!

priya rajawat

I agree your post

Priya Dubey

U r Right
Agree with you
Mere pati mere achhe frnd, ek achhe partner hai,or usse badh k ek achhe insaan hai, that's it

Recommended Articles