Himalaya Daughter's Day Contest is Here! Win BIG everyday! Click Here to Participate!

प्रेगनेंसी के साथ-साथ कई सवाल भी पैदा हो जाते हैं जैसे क्या पहले तिमाही में सेक्स करना सुरक्षित है?

प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स की अवधारणा को ले कर विभिन्न संस्कृतियों में अलग-अलग मान्यताएं हैं. सांस्कृतिक और व्यक्तिगत मान्यताओं के बावजूद, प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स ज़्यादातर महिलाओं के दिमाग़ में आख़री चीज़ होती है क्योंकि वो पहले से ही मतली, उल्टी, थकान और कई बीमारियों से जूझ रही होती हैं.



क्या मैं प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स कर सकती हूं?

मेडिकल तौर पर ज़्यादातर पहले तिमाही में प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स को सुरक्षित माना जाता है. हालांकि अगर पहले कभी प्रेगनेंसी के दौरान कॉम्प्लीकेशन्स हुई हों, तो सेक्स करने से पहले ऑब्सटेरटिशियन की सलाह लेनी चाहिए. जैसे ही आप अपने पीरियड्स को मिस करें, एक गाई गाइनकॉलजिस्ट से ज़रूर सलाह लें.



आपकी केस हिस्ट्री जानने के बाद डॉक्टर बता पायेगा कि सेक्स से बचने की ज़रुरत है या नहीं. पहले तिमाही में ह्यूमन कोरीॉनिक गोनाडोट्रोपिन का स्तर बढ़ता है जिसकी वजह से मतली और थकान होती है. हर प्रेगनेंसी अपने आप में अनोखी होती है. इस दौरान जहां कुछ महिलाओं के लिए सेक्स करना आख़री प्राथमिकता होती है, वहीं कुछ महिलाओं को इसकी इच्छा भी होती है.


किन परिस्थितियों के अंतर्गत प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स नहीं करना चाहिए?

ज़्यादातर कम जोखिम वाले प्रेगनेंसी के लिए, सेक्स की अनुमति होती है. लेकिन अगर आपको ऐसी कोई कॉम्प्लीकेशन्स हैं तो संभोग से बचना चाहिए:
अगर आपको गर्भपात का डर हो
अगर आपको प्रेगनेंसी में ब्लीडिंग हो

आम तौर पर देखा गया है कि जिन महिलाओं ने बड़ी मुश्किल से कंसीव करा हो या उनका एक बुरा ऑब्स्टेट्रिक इतिहास रहा हो, अक्सर वो पेनिट्रेटिव सेक्स से दूर रहती हैं या कभी-कभी ही करती हैं. विभिन्न अध्ययनों में यह साबित हो चुका है की पेनिट्रेटिव सेक्स से अबॉर्शन का रिस्क नहीं बढ़ता है, न ही सामान्य प्रेगनेंसी में प्रीटर्म डेलिव्री का.


क्या ये सुरक्षित है?


प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स सुरक्षित है या नहीं, इसकी फ़िक्र करना किसी भी युवा माता-पिता के लिए एक आम बात है. सामान्य प्रेगनेंसी में, यूटेरस के मज़बूत मांसपेशियों में फ़ीटस सुरक्षित होता है. इसलिए इस बात की कोई संभावना नहीं है कि सेक्स आपके बच्चे को कोई नुक़सान पहुंचा सकता है. ये हमेशा याद रखिये कि लिंग योनि के भीतर प्रवेश करता है और इससे आगे नहीं जाता. तो भ्रूण को किसी भी तरह का नुक़सान नहीं हो सकता. गर्भवती महिलाओं के लिए ओर्गेस्म करना भी सुरक्षित है. इससे होने वाली कॉन्ट्रैक्शंस से प्रेगनेंसी पर कोई असर नहीं होता.



ध्यान रखने वाली चीज़ें


पहले तिमाही में सेक्स करना उतना ही आनंद देता है जितना किसी और समय. ऐसे में इन चीज़ों का ख़याल ज़रूर रखें:
पोज़िशन्स: ऐसे पोज़िशन्स का चयन करिये जो आप दोनों के लिए आरामदायक हों. अक्सर देखा गया है कि महिलाएं ऊपर होना पसंद करती हैं जहां नियंत्रण उनके पास होता है.
योनि में किसी भी फ़ॉरेन बॉडी को अंदर जाने से बचाएं. ये हानिकारक हो सकता है.
वजाइना में हवा न फूंकिए

अगर प्रेगनेंसी के दौरान ब्लीडिंग हो तो फ़ौरन डॉक्टर से संपर्क करें. 

 

#garbhavastha #hindi #garbhavastha #hindi #garbhavastha #hindi #garbhavastha #hindi #garbhavastha #hindi
Read More
गर्भावस्था

Leave a Comment

Comments (6)



Shaik Suhail

I miss u ❤

Sapna Namdev

Mera third month he mem
But last one week se jab bhi humdono sexual hote he to Mujhe spotting ho jaati he jo next day sai bhi ho jaati he. ..
Plzzz help

Tejaswini Babar

इससे मुझे बहुत मदद मिली!

Recommended Articles