सांतवी प्रसवपूर्व भेंट के बारे में आपको क्या पता होना चाहये

cover-image
सांतवी प्रसवपूर्व भेंट के बारे में आपको क्या पता होना चाहये

डिलीवरी-डे अब तेजी से समीप आ रहा है, इसलिए इस महीने से, आपको 35 वे सप्ताह तक हर पंद्रह दिनों में अपने डॉक्टर से मिलना होगा।



डॉक्टर हमेशा की तरह आपके वजन और रक्तचाप को रिकॉर्ड करेगा। वह गर्भाशय के आकार और ऊंचाई जांचने के लिए आपके पेट की जांच कर सकते है। आप डोप्लर पर अपने बच्चे की दिल की धड़कन भी सुन सकते है।

 


गर्भाशय में आपके बच्चे की स्थिति भी ध्यान से देखी जाएगी। सातवें महीने तक ज्यादातर बच्चों का सिर नीचे आ जाता है। यदि आपके बच्चे का सिर नीचे नहीं आया है, तो आपको बच्चे को अनुकूल स्थिति में लाने के लिए कुछ व्यायाम करने के लिए कहा जा सकता है।



आपके डॉक्टर आपको सूजन या फ्लुइड रिटेंशन के लिए भी जांचगें क्योंकि ये प्रिक्लेम्प्शिया (गर्भावस्था में उच्च रक्तचाप और फ्लुइड रिटेंशन की विशेष परिस्थिति) के प्रारंभिक चेतावनी संकेत हैं। आपको किसी भी तरह का रॅश या त्वचा में जलन होने पर रिपोर्ट करने को कहा जाएगा क्योंकि ये लिवर (यकृत) से सम्भधित चिंता का संकेत हैं।



यदि आपका वजन तेजी से बढ़ रहा हैं, तो आपके डॉक्टर आपके आहार पर चर्चा कर सकते है और आपके तेजी से बढते वजन पर नियंत्रण कैसे लाना है इस पर सुझाव दे सकते हैं।



यदि आपने अल्ट्रासाउंड टेस्ट कराया है, तो आप अपने बच्चे के केवल कुछ हिस्से ही देख सकेंगे क्योंकि आपका बच्चा अब काफी बड़ा हो चुका  है।


इस महीने से आपके डॉक्टर आपको ओमेगा -3 सप्लिमेंटस लेने का सुझाव दे सकते है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आपके बच्चे के मस्तिष्क के इष्टतम विकास के लिए पर्याप्त ओमेगा -3 की मात्रा मिल रहीं हैं।



सुनिश्चित कर ले कि आप बहुत सारे प्रश्न पूछ कर अपने सभी संदेहों को दूर करेंगे। अच्छी तरह से सूचित रहना ही सबसे बेहतर है!

#garbhavastha #hindi
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!