३-४ महीने के बच्चे के विकास का माइलस्टोन

३-४ महीने के बच्चे के विकास का माइलस्टोन

23 Aug 2018 | 1 min Read

तीन महीने

 

  • मोटर विकास

 

मुट्ठी अब हर समय खुला रहता है। अगर बच्चे को उसके हाथ में झुनझुना दिया जाता है, तो वह दृढ़ता से रखती है और इसके साथ खेलना शुरू कर सकती है। जब उसे लापरवाही से भी उठाया जाता है (जब वो पीठ के बल होती है)  तो उसका सिर कुछ समय के लिए उपयुक्त होता है। जब उसके पेट पर डाल दिया जाता है, तो वह अपना सिर उठाती है और इसे लगभग एक मिनट तक ९० डिग्री के कोण पर रख सकती है।

 

 

  • धारणा और सामाजिक प्रतिक्रिया

 

अगर शिशु  पीठ के बल है और एक पेंसिल दिखाया जाता है, तो उसकी आंखें एक कोने से दूसरे कोने इसका अनुशरण करती हैं। अब पहचान की मुस्कान आती है। ६ सप्ताह में, जब आप बच्चे से बात करेंगे, तो उसे बात करने में खुशी होगी, वो एक क्षणिक मुस्कुराहट देगी। वह वयस्कों और बच्चों को स्नेह में डूबा कर मुस्कुराने के लिए मजबूर कर देती है। मुस्कुराहट अब और अधिक निश्चित है और वह माँ या माँ की आकृति को पहचानती है। एक संयुक्त परिवार की स्थापना में, वह अन्य सभी परिवार के सदस्यों को भी पहचान लेगी। अजनबियों के बारे में अभी तक सचेत नहीं है, वह मुस्कान के साथ दूसरों को भी मुस्कुराने के लिए मजबूर कर सकती है।

  

  • भाषा

 

अगर वह अपनी फीड के बाद खुश है, तो वह आह, गुओ और मा जैसी शब्द निकाल सकती है।

चार महीने

 

  • मोटर विकास

 

अब बच्चे को कुछ भी हाथ में देने से वो मुँह में डालने लगती है। जब वो पीठ के बल होती है,  अपने हाथों को देखती है। यह उसे अपने शरीर के बारे में जानने में मदद करता है। यही कारण है कि बच्चे को हर समय लपेटना महत्वपूर्ण नहीं है। इसी कारण से, मिट्टेंस(दस्ताना) से बचा जाना चाहिए, खासकर जब बच्चा जगा हुआ रहता है।

 

 

  • धारणा और सामाजिक प्रतिक्रिया

 

अब, न केवल वह मुस्कुराती है, बल्कि आनंदमय हो के हंसती है। उसके सुनने के क्षमता की अब  बेहतर जांच की जा सकती है। उसके पीछे खड़े हो जाए ताकि वह आपको नहीं देख सके। उसके कान से २० से २४  सेंटीमीटर की दूरी पर एक झुनझुना या घंटी बजाये। वह अपने सिर को ध्वनि की दिशा में बदल देगी। कमरा इस परीक्षण के लिए शांत होना चाहिए।

 

 

  • भाषा

 

अब, आप उसे हंसते हुए सुन सकते हैं। यह संचार का उसका तरीका है।

 

स्रोत: गाइड टू  चाइल्ड केयर डॉ. आर के आनंद द्वारा लिखित  पुस्तक

 

#shishukidekhbhal #hindi

Home - daily HomeArtboard Community Articles Stories Shop Shop