५ से ६ महीने के बच्चे के विकास का माइलस्टोन

cover-image
५ से ६ महीने के बच्चे के विकास का माइलस्टोन

५ महीने

 

१. मोटर विकास

बच्चा जब पीठ के बल है तो उसे अपने अंगूठे दें। उसे अंगूठे पकड़ने दें। बैठने के लिए उसे थोड़ा सा समर्थन दें। आप देखेंगे कि वह खुद ही बैठे हुए स्तिथि में आ जाएगी।

जब आप उसे पेट पर डालते हैं तो वह रोल कर के अपने पीठ के बल हो सकती है।

 

२.  धारणा और सामाजिक प्रतिक्रिया

बच्चा अब लंबे समय तक एक नई वस्तु का निरीक्षण कर सकता है। वह अजनबियों और उनके करीबी में फर्क करना शुरू कर सकती है। जब वह अजनबियों से संपर्क करती है तो जरूरी नहीं है की हसे या वह रोना भी शुरू कर सकती है।

 

यदि आप उससे नाराज हैं तो वह अब आपकी आवाज के स्वर से पता कर सकती है।

 

३. भाषा

जहां तक भाषण विकास का संबंध है, इस चरण में कुछ भी महत्वपूर्ण नहीं होता है।

 

६ महीने

 

  • मोटर विकास  

 

जब वह एक दृढ़ सतह पर होती है, तो वह अब खुद से रोल कर सकती है।

जब उसे पेट पर रखा जाता है, तो वह उसके सामने रखे खिलौने तक पहुंचने की कोशिश करती है, हालांकि वह इस चरण में सफल हो भी सकती है या नही भी।

अब वह झुनझुने को एक हाथ से दूसरे हाथ में लेने में सफल होती है। खड़े करने पर, उसके पैर उसके पूरे वजन को सहन करने में सक्षम हो सकते हैं।

 

 

  • धारणा और सामाजिक प्रतिक्रिया

 

उसकी सुनवाई अब और अधिक संवेदनशील है। अगर कागज के टुकड़े को, उसके दृष्टि से दूर, कान के पास मरोड़ा जाए, वह  अपना  सिर ध्वनि की ओर बदल देगी।

जब वह दर्पण में अपना खुद का प्रतिबिंब देखती है तो वह मुस्कुराती है।

अब अजनबियों से बहुत सचेत और सावधान बनने की संभावना है।

 

३ से ६ महीने के बीच, वह अजनबियों के बारे में जागरूक होना शुरू कर देती है। वह उनके प्रस्ताव का जवाब नहीं देती है, या जैसे ही वह उन्हें देखती है, रोना भी शुरू कर सकती है। परिणामस्वरूप, वह अपने माता-पिता, विशेष रूप से माँ, के आसपास होने की उम्मीद करती है। कभी-कभी, माँ महसूस कर सकती है कि बच्चा उसकी भलाई का लाभ उठा रहा है। लेकिन उसे शामिल करे।  इस उम्र में जो देखभाल आप उसे देते हैं वह जीवन में बाद में उसे अच्छी जगह खड़ा करेगी। वह लोगों पर भरोसा करना शुरू कर देगी, आपकी देखभाल को संजोयेगी और बदले में, दूसरों का प्यार से देखभाल करना सीखेगी।



 

  • भाषा

 

अब वो कुछ अक्षरों को जोड़ने का प्रयास कर सकती है और दा-दा जैसे  शब्द बोल सकती है या फिर इनका अलग अलग  इस्तेमाल भी कर सकती है जैसे की 'माँ' 'दा' या 'गू'।



स्रोत : डॉ.  आर के आनंद द्वारा लिखित गाइड  टू  चाइल्ड केयर

 

#shishukidekhbhal #hindi
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!