गर्भावस्था के दूसरे सप्ताह के बारे में आपको क्या क्या पता होना चाहिए?

cover-image
गर्भावस्था के दूसरे सप्ताह के बारे में आपको क्या क्या पता होना चाहिए?

आप अभी तक गर्भवती नहीं हैं लेकिन यदि आप गर्भ धारण करने की योजना बना रही हैं तो चिंता और उत्तेजना के स्तर निश्चित रूप से बढ़ रहे हैं! हम पूरी तरह से समझते हैं कि इस चरण में आप चिंतित हैं और घबराहट महसूस कर रही हैं। हालांकि, आपका खुद को शांत और तनाव रहित रखना महत्वपूर्ण है। तनाव महिलाओं में कम प्रजनन दर के लिए जाना जाता है और इस प्रकार गर्भ धारण की संभावना कम हो जाती है। तो गहरी सांस लें, आराम करें और अपनी गर्भावस्था को प्राकृतिक तरीक़े से अपना काम पूरा करने दें!



इस सप्ताह के दौरान, आपके अंडाशय में अंडे पकने शुरु हुए हैं। हर महीने, इनमें से एक अंडा अपने कूप से निकलकर फलोपियन ट्यूब में प्रवेश करने के लिए अंडाशय को छोड़ देगा। इसे हम ओव्युलेशन कहते हैं।



28 दिनों के चक्र में, यह आमतौर पर 14 से 17 दिन के बीच होता है। यही वह समय है जब आपको सबसे फर्टाइल माना जाता है और यदि आप इस अवधि में सहवास करते हैं, तो गर्भावस्था की संभावना सबसे अधिक है।



स्खलन के दौरान, आपका साथी लाखों शुक्राणुओं को आपकी योनि में छोड़ देगा और ये अब आपके गर्भाशय और फलोपियन ट्यूब में जो अंडा है उसकी ओर तैरने लग जाएंगे।



अगले 24 घंटों में, फर्टिलाइजेशन तब होगा जब इन शुक्राणुओं में से एक अंडे से मिलता है और इस में प्रवेश करता है। शुक्राणु का न्युक्लिअस तब अंडे के न्युक्लिअस के साथ विलीन हो जाता है और आपके भीतर एक अद्वितीय अनुवांशिक संरचना बनाई जाती है। यह जीवन का एक जादुई गठन है, यही गठन आगे जा के आपके बच्चे का रूप लेगा!



आपके अंडे में केवल X गुणसूत्र होता है, जबकि आपके साथी के शुक्राणु में X या Y गुणसूत्र होता है। इसका मतलब यह है कि - यदि आपका साथी X गुणसूत्र के साथ आपके अंडे को फर्टिलाइज करता है तो आपका बच्चा एक लड़की होगी और यदि वह आपके X गुणसूत्र को Y गुणसूत्र के साथ फर्टिलाइज करता है तो आपका बच्चा एक लड़का होगा। पर जो भी हो एक बच्चे के रूप में खुशी जल्द ही आपके घर आने वाली है।



इस चरण में, आपका बच्चा एक कोशिका है और जल्द ही अरबों कोशिकाओं में बदल जाएगा और थोड़ा थोड़ा करके जीवन का निर्माण होगा।



चिन्ह और लक्षण
गर्भाशय में झायगोट के प्रत्यारोपण के दौरान थोड़ा खून बह सकता है जो धब्बों के रूप में दिखाई देगा।
* कुछ महिलाएं गर्भावस्था के शुरुआती संकेत दिखा सकती है, जैसे की थकान या सुस्ती। ज्यादातर महिलाओं को कुछ अलग महसूस नहीं होता है।



शारीरिक विकास
फर्टिलाईजेशन के बाद, अंडा गर्भाशय में पहूंचता है और अंडे का तेजी से विकास शुरू हो जाता है। इस अंडे को अब झायगोट कहा जाता है। यह झायगोट गर्भाशय में चारों ओर तैरता है और खुद को उचित स्थान पर प्रत्यारोपित करता है। इसके बाद यह झायगोट गर्भाशय की गद्देदार परत में खुद को समा लेता है। झायगोट अब तेजी से विकास कर रहा होता है और उसे ब्लास्टोसिस्ट कहा जाता है।
* आपके शरीर में बाहरी परिवर्तन दिखने के लिए अभी भी कुछ समय है।



भावनात्मक परिवर्तन
उत्साह आपको थोड़ा बेताब बना सकता है और आप मूत्र गर्भावस्था परीक्षण का प्रयास करना चाहेंगे लेकिन परिणाम अभी भी नकारात्मक दिखाए जाएंगे। यह अभी दो सप्ताह तक नकारात्मक ही आएंगे। गर्भावस्था परीक्षण पर उन दो लाइनों को देखने के लिए आपको और दो सप्ताह का इंतजार करना होगा। तो रूक जाए और घरेलू गर्भावस्था परीक्षणों को थोडा और समय दे!



खतरे की घंटी
प्रत्यारोपण के बाद देखा जाने वाला रक्तस्राव जब तक कि मामूली धब्बे हैं तब तक चिंता का कोई कारण नहीं है।
* यदि रक्त प्रवाह तीव्र है या आप अपने निचले पेट के आसपास गंभीर दर्द का अनुभव करती हैं, तो अपने स्त्री रोग विशेषज्ञ से संपर्क करें।



बड़ी बूढ़ी औरतों की हिदायते
गर्भवती महिलाओं को अक्सर अपने आहार से पपीता जैसे खाद्य पदार्थों को बाहर करने के लिए कहा जाता है क्योंकि इसे गर्भपात का कारण कहा जाता है। अध्ययनों ने भी साबित कर दिया है कि पके हुए पपीता नियंत्रण में खाना हानिरहित होता है। तो अगर आप इसे किसी शुभचिंतक से फिर से सुनती हैं तो बिलकुल भी चिंता न करे!


* वास्तव में, परिपक्व पपीता विटामिन में समृद्ध होता हैं और कब्ज को कम कर सकता है। हालांकि, कच्चे पपीता में लेटेक्स होता है, एक एेसा पदार्थ जो गर्भाशय के संकुचन का कारण बन सकता है और इससे बचना चाहिए।

#garbhavastha #hindi
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!