होम प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें

जब आप एक माँ बनने की तैयारी करती हैं तो यह उत्सुकता रहती है की जल्दी से जल्दी पता चले कि आप प्रेग्नेंट हुई है या नहीं। आप ऐसा तरीका अपनाना चाहेंगी जो तुरन्त आपकी प्रेगनेंसी स्पष्ट कर पाए। अगर आप अपने ओव्यूलेशन चक्र को समझने की कोशिश करें तो प्रेगनेंसी के बारे मे जानना आसान हो सकता है।


इसे समझने के लिए अपने मासिक चक्र के पहले दिन से शुरू करते है। जिस दिन मासिक धर्म शुरू होता है उसे पहला दिन कहते है, इसके बाद 13 या 15 दिन ओव्यूलेशन होता है जिसे कई महिलाऐं महसूस भी कर पाती हैं जैसे स्तनों में खिचाव होना , कमर दर्द आदि. कुछ महिलाओ में मासिक चक्र कम या ज़्यादा दिन का हो सकता है। ओव्यूलेशन को जांचने के कई तरीके हो सकते है, हालाँकि यहाँ हम सिर्फ होम प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे कर सकते है, इसके बारे में बात करेंगे।


होम प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए आवश्यक बातें

 

 


1. पीरियड मिस हो जाने पर कई दिनों तक महिलाएं असहज महसूस करती है| यह असहजता प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए एक संकेत है और यदि आप होम प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते है , तो इससे बेहतर कुछ नही।


2. यूरिन प्रेगनेंसी टेस्ट - यदि आप सटीक परिणाम चाहती है तो पीरियड मिस होने के एक हफ्ते बाद टेस्ट करे। यूरिन से होने वाला प्रेगनेंसी टेस्ट ह्युमन कोरिओनिक गोनाडोट्रॉफिन हॉर्मोन की उपस्थिति जाँचता है और ये पुष्टि करता है की आप प्रेग्नेंट है या नहीं।


3. होम प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए कई सारी प्रेगनेंसी किट मार्केट में मिलती है। इसकी विधि आसन है। इसमें एक स्ट्रिप होती है जिस पर यूरिन का सैंपल डालना होता है, इस स्ट्रिप में एच् सी जी को फिक्स करने के लिए कुछ कम्पौंड मिला होता है। स्ट्रिप पर कलर बदलना , होम प्रेगनेंसी टेस्ट को पॉजिटिव बताता है। अगर स्ट्रिप पर कोई बदलाव नहीं है तो प्रेगनेंसी नहीं हुई है।


4. यदि आप प्रेगनेंसी प्लान कर रही है और प्रेगनेंसी किट से पीरियड मिस होने की अवधि से तीन चार दिन पहले ही टेस्ट कर रही है तो नकारात्मक परिणाम दिख सकता है। इसलिए होम प्रेगनेंसी टेस्ट में पीरियड मिस होने के एक हफ्ते बाद ही टेस्ट करें |


5. होम प्रेगनेंसी टेस्ट्स के लिए बाज़ार में कई अलग अलग ब्रांड की प्रेगनेंसी किट उपलब्ध है जो हॉर्मोन की अलग अलग मात्रा दर्शाती है। गर्भावस्था की शुरुआत में एच् सी जी का स्तर बहुत कम होता है जिससे कुछ एच पी जी नकारात्मक परिणाम देते है। यदि आपको होम प्रेगनेंसी टेस्ट में नेगेटिव नतीजे मिले है और फिर भी पीरियड नहीं आया है तो आप फिर से होम प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती है।


6. होम प्रेगनेंसी टेस्ट में बेहतर परिणाम के लिए आप सुबह के पहली यूरिन का उपयोग कर सकती है। नींद के बाद की यूरिन अधिक कंसन्ट्रेटेड होती है और इसलिए एच् सी जी आसानी से उठा लेती है और सही परिणाम देती है।


आगे बढ़ने का सकारात्मक कदम


यदि होम प्रेगनेंसी टेस्ट के परिणाम सकारात्मक है तो फ़ौरन अपने नज़दीकी लैब में एक और टेस्ट कराये गर्भावस्था की पुष्टि की लिए। चिकित्सा सलाह के लिए तुरंत अपने गयनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करे।

#hindi #swasthajeevan

Toddler

स्वस्थ जीवन

Leave a Comment

Comments (1)



Nilesh Sonawane

इससे मुझे बहुत मदद मिली!

Recommended Articles