गर्भावस्था के अठ्ठाईसवें सप्ताह के बारे में आपकी पत्नी को क्या क्या पता होना चाहिए?

cover-image
गर्भावस्था के अठ्ठाईसवें सप्ताह के बारे में आपकी पत्नी को क्या क्या पता होना चाहिए?

वाह! अठ्ठाईसवें सप्ताह तक, आपका बच्चा लगभग पूरी तरह से तैयार है। अब आपको बस उसके फेफड़े परिपक्व होने की और त्वचा के लिए थोड़ा और वसा प्राप्त करने की प्रतीक्षा करनी है। आपका बच्चा अब लगभग 38 सेमी लंबा है और उसका वजन लगभग 900 ग्राम है।

 

चिन्ह और लक्षण


जैसे-जैसे आपकी पत्नी की गर्भावस्था सप्ताह दर सप्ताह प्रगति करती है, आपके बच्चे के सक्रिय रूप से लात मारने के कारण उनको रात का आराम मिलना मुश्किल हो सकता है।

यह भी संभव है कि लगातार पेशाब की भावना वापस आ जाए और उनको अक्सर बाथरूम जाना पड़ सकता है।

आपके पत्नी के स्तन से एक सफ़ेद पदार्थ (कोलोस्ट्रम) लीक होना शुरू हो सकता है। हालांकि, गर्भावस्था के दौरान कोलोस्ट्रम की उपस्थिति या अनुपस्थिति से प्रसव के बाद उत्पादन होने वाले स्तनपान की मात्रा का संकेत नहीं मिलता है।

इस सप्ताह से, अब हर दो सप्ताह में अपने डॉक्टर से मिलना होगा। अधिकांश अस्पताल उनको जन्म के समय क्रॉस संक्रमण को रोकने के लिए एचआईवी और हेपेटाइटिस जैसी बीमारियों के लिए रक्त परीक्षण करने के लिए कहते हैं।

यदि उनका रक्त समूह आरएच निगेटिव है, तो आपका डॉक्टर एंटीबॉडी जांच की सिफारिश कर सकता है और उनको आरएच इम्यूनोग्लोबुलिन का इंजेक्शन भी दे सकता है। यह उनके शरीर को एंटीबॉडी विकसित करने से रोकने के लिए है जो आपके बच्चे के खून पर हमला कर सकता है। आपके बच्चे को जन्म के समय परीक्षण किया जाएगा यदि वह आरएच पॉजिटिव है, तो आपकी पत्नी को डिलीवरी के बाद आरएच इम्यूनोग्लोबुलिन के एक और टीके की आवश्यकता हो सकती है।

 

शारीरिक बदलाव


यदि आपके पत्नी को कठोर व्यायाम न करने के लिए कहा गया है, तो उन्हें योग का प्रयास करने को कहे। प्रसवपूर्व योग बेहद प्रभावी माना जाता है साथ ही वह जोड़ों पर नरम होता है। एक योग्य योग प्रशिक्षक आप जिस तिमाही में हैं उसके आधार पर उपयुक्त व्यायाम का सुझाव दे सकता है।

 

भावनात्मक बदलाव


उनके प्रभाव उत्‍पन्‍न करने वाले सपने जारी हैं और उनमें से कुछ डरावना हो सकते हैं। चिंता न करें, यह सिर्फ आपके पत्नी के शरीर को आने वाले बदलावों के लिए तैयार कर रहे हैं। आराम करने और बेहतर नींद में मदद करने के लिए हर कुछ दिनों में प्रसवपूर्व मालिश का आनंद लें।

 


खतरे की घंटी


यदि आप आपके पत्नी के पैर, हाथ और चेहरे पे लगातार और अत्यधिक सूजन देखते हैं या वह उच्च रक्तचाप का अनुभव करती है तो अपने डॉक्टर को सूचित करें। यह प्रिक्लेम्पसिया के प्रारंभिक चेतावनी संकेत हो सकते है जो एक खतरनाक स्थिति है और कई अंगों को प्रभावित करती है। प्रिक्लेम्पसिया में गर्भ से नाल अलग हो सकती है, जिसका मतलब बच्चे को खोना हो सकता है। लगभग 5 प्रतिशत गर्भवती महिलाएँ प्रिक्लेम्पिया से पीड़ित होती हैं।

 


बड़ी बूढ़ी औरतों की कहानियाँ


सोने के दौरान, करवट बदलने से पहले गर्भवती महिला को बैठने के लिए कहा जा सकता है। ऐसा कहा जाता है कि करवट लेते समय बच्चे की गर्दन के आसपास गर्भनाल उलझ सकती है। यह एक सम्पूर्ण मिथक है! इस लिए वह जब चाहे तब करवट ले सकती हैं। कल्पना करें कि हर बार करवट बदलने से पहले बैठना कितना कष्टदायक हो सकता है!

 

#garbhavastha
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!