7 cheezen jinhe aap mahsus kar payengi agar aap aur aapke pati alag alag raajyon se hain

7 cheezen jinhe aap mahsus kar payengi agar aap aur aapke pati alag alag raajyon se hain

20 Apr 2022 | 1 min Read

Tinystep

Author | 2578 Articles

जब दिल मिलते हैं, आत्मा का मिलन होता है । ऐसे में अंतरराज्यीय शादियाँ मायने नहीं रखती हैं । दरअसल 50 में से एक विवाह अंतरराज्यीय होता है । इस तरह की जोड़ियां कुछ मज़ाकिया, कुछ अजीब व कुछ ऊट-पटांग परिस्थितियाँ अनुभव करती हैं । अंतरराज्यीय विवाह में बंधे दंपत्ति का प्यार दिन प्रतिदिन गहराता जाता है । वो एक दूसरे के कल्चर , तौर-तरीके और रीति-रिवाज़ों की इज़्ज़त करते हैं और बेहतर समझ पाते हैं ।

नीचे जो परिस्थितियां दी गई हैं वो आपने कभी न कभी ज़रूर अनुभव की होंगी ।

1. कुछ खट्टी-मीठी बहस 

अपनी मदर-टंग में बात करने का जो मज़ा आता है वही मज़ा झगड़ा करने में आता है । दंपत्ति के बीच झगड़े होना आम बात है । अंतरराज्यीय दंपत्ति में जब बहस होती है तो वो कुछ और ही तरह की होती है । दोनों जब बहस करते हैं तो अपनी-अपनी भाषा में चिल्लाने लगते हैं । दोनों एक दुसरे को क्या बोलते हैं ये समझ नहीं आता और बात का बतंगड़ बन जाता है ।

2. जब त्यौहार होते हैं तब खुशियां और पकवान कई गुना बढ़ जाते हैं

दुनियाभर के त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाये जाते हैं । अंतर्राज्यीय समारोहों में तो त्यौहार का मज़ा इतना बढ़ जाता है क्योंकि दोनों पति-पत्नी अपनी-अपनी धारणायें और अनुभव शेयर करते हुए अपने ख़ास रीति-रिवाज़ों से त्यौहार मनाते हैं । वे अपना ज्ञान आपस में बांटते हैं और उनसे जुडी कहानियां और अंधविश्वास को भी साफ़ करते हैं ।

3. रीति-रिवाज़ आपको अचंभित कर देंगे

अंतरराज्यीय दंपत्ति इस बात से भली-भाँती परिचित होंगे ।  एक नए समूह के तौर-तरीके और कायदे कानून आपके लिए नये होते हैं । किसी समूह में जो करना मना है,  किसी और में बेहद ज़रूरी माना जाता होगा । बात तो तब बढ़ जाती है जब एक शाकाहारी और दूसरा मांसाहारी होता है । उससे  भी ज़्यादा मुश्किल तो तब होती है जब लोग जॉइंट फॅमिली में रहते हैं । वक्त और सूझ-बूझ के साथ इन सभी मुद्दों से निजात पाया जा सकता है ।

4. एक दूसरे को तंग करना और छेड़ना

कपल्स को एक दूसरे को तंग करने में बड़ा मज़ा आता है । दोस्तों के बीच जैसी ये नोक-झोक कोई बड़ा झगड़ा नहीं होता । अंतरराज्यीय दम्पति कोई कसर नहीं छोड़ते एक-दूसरे के रीति रिवाज़ों का मज़ाक उड़ाने की । वे इन सब बातों में ही वक्त गुज़ार देते हैं । अगर किसी एक पार्टनर को बुरा लगे तो वो माफ़ी मांगने में कतराते भी नही । वे एक दूसरे के खान-पान, पहनावे तथा बोली का मज़ाक बनाते हैं पर ये सिर्फ प्यार भरा ही होता है । इसमें कोई नफरत नहीं होती।

5. मुँह में पानी लाने वाले व्यंजन

अंतरराज्यीय विवाह में व्यंजन स्वादिष्ट होते हैं । पति-पत्नी एक दूसरे को अच्छा-अच्छा भोजन चखवा सकते हैं । आप एक दूसरे के घर जायेंगे तो आप खाने से कभी निराश नहीं होंगे ।

6. एक दूसरे को आपस में बांधे रखता है आपका प्यार

अंतरराज्यीय विवाह के बावजूद आप एक दूसरे की कदर करते हैं और आपके बीच के अंतरों को कम करने का प्रयास करते हैं । ये आपके बीच का अंतर ही है जो आपको बांधे रखता है । आप उन्ही धागों से बंधे हैं । अंतरराज्यीय विवाह आपके बीच के भिन्नताओं नहीं बल्कि समानताओं को इज़्ज़त देता है ।

7. आकर्षण ही है मन-मुटाव की वजह

शिशु का अपने माता-पिता में से किसी एक के रीती-रिवाज़ों के प्रति ज़्यादा आकर्षण होना एक दूसरे के लिए तनाव पैदा कर सकता है । माता-पिता दोनों ये चाहते हैं की उनकी संतान दोनों को समान प्यार और इज़्ज़त दें । माँ-बाप के साथ-साथ बच्चे के दादा-दादी और नाना-नानी भी बच्चे को उसके पसंद के कल्चर चुनने  में मदद करते हैं । समझदार कपल इन सभी छोटी मोटी बातों को इग्नोर कर देते हैं और आगे चल कर एक सुखी परिवार खड़ा करते हैं ।

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop