अपने किचन को रखें बैक्टीरिया से मुक्त

cover-image
अपने किचन को रखें बैक्टीरिया से मुक्त

सफाई की शुरुआत घर से होती है। घर को साफ-सुथरा रखना बहुत जरूरी है। किचन में जहां हम खाना बनाते हैं वहां संपूर्ण सफाई रहनी चाहिए। संपूर्ण सफाई का मतलब है कि किचन भी रोग फैलाने वाले बैक्टीरिया से मुक्त हो। अगर किचन साफ रहेगा तो घरवाले भी सेहतमंद रहेंगे। 

होम साइंस के एक्सपर्ट कहते हैं कि अपने शरीर के साथ-साथ हमें अपने किचन पर भी ध्यान देना चाहिए। सफाई करते समय या खाना बनाते समय कई ऐसी छोटी-छोटी बातें हैं, जिनकी रोज की लापरवाही हमारी हाइजीन संबंधी जानकारी पर सवाल उठाती है। घर में ही कई ऐसे खतरे वाली जगह हैं जो लंबे समय तक बिना सफाई के रह जाती हैं। खासतौर पर मौसम का तापमान बढ़ने या अधिक नमी होने पर भी गंदी जगहों पर कीटाणुओं को बढ़ावा मिलता है। घर में ही कई ऐसे खतरे वाली जगहें हैं जो लंबे समय तक बिना साफ-सफाई के रह जाती हैं। 

 

बर्तनों में जमी गंदगी

इंडियन मेडिकल एकेडमी ने देशभर में 1400 घरों में एक सर्वे किया जिसके अनुसार साफ-सुथरे  दिखने वाले घर  के किचन संक्रमित पाए गए। ग्लोबल हाइजीन काउंसिल के द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार रसोई में इस्तेमाल के कपड़े, चाकू व चॉपिंग बोर्ड, फ्रिज के भीतर के हिस्से 60 से 90 प्रतिशत तक संक्रमित पाए गए हैं। किचन में इस्तेमाल किए जाने वाले बर्तन रोज मांजे जाने के बावज़ूद संक्रमण ग्रस्त निकले। कुकर के हैंडल, रबर गास्केट और उसकी सीटी में गंदगी जमी रह जाती है। इसी तरह प्लास्टिक के हैंडल वाले बर्तन जैसे कि- नॉनस्टिक पैन, कड़ाही, चाकू, छलनी, चम्मच आदि में गंदगी जमी रह जाती है। 

 

किचन के कोनों में गंदगी

अक्सर किचन प्लेफ़ॉर्म के जोड़ों के बीच खाने का जूठा, सिंक के किनारों, जोड़ों और नीचे की तरफ गंदगी और काई जम जाती है। सिंक के निचले हिस्से में अंधेरा और बंद होने के कारण रोज सफाई नहीं होती। जिन घरों में बाइयां झाड़ू-पोंछा करती हैं वे कोनों में सफाई नहीं करती हैं। जिससे इन जगहों पर सीलन, धूल, मकड़ी के जाले, काई आदि जमा हो जाते हैं। पानी के नल पर भी काई जमा हो जाती है।

 

फ्रिज में गंदगी

फ्रिज की सफाई रोज नहीं होने के कारण फ्रिज के अंदर-बाहर, ऊपर-नीचे भी कचरा और सीलन जमा हो जाता है। फ्रिज में खाने का सामान गिरने पर सफाई न होने पर सड़न और बदबू आने लगती है। फ्रिज की रैक, गास्केट रबर, दरवाजे और हैंडल पर भी गंदगी जमा हो जाती है। फ्रिजर में ढेर सारी बर्फ जमा हो जाता है।

 

किचन के फर्नीचर में गंदगी

किचन के दरवाजे, खिड़कियों में भी सफाई के अभाव में काफी गंदगी जमा हो जाती है। अनाज रखने के डिब्बे, आलमिरियां, बर्तन के स्टैंड, लकड़ी के बॉक्स आदि में नियमित सफाई न हो तो गंदगी के साथ कीड़े-मकोड़ों का घर बन जाता है।

 

गंदगी से होती हैं बीमारियां

घर में हाइजीन की कमी फूड प्वॉइजनिंग, डायरिया या जल्दी-जल्दी बीमार पड़ने के अलावा अस्थमा के साथ-साथ जोड़ों के दर्द से परेशान लोगों की परेशानी को भी बढ़ाने वाली होती है। होम साइंस के एक्सपर्ट के अनुसार, हम घर की सफाई पर तो ध्यान देते हैं, पर उसकी स्वच्छता यानी उसके संक्रमण मुक्त होने पर उतना ध्यान नहीं देते। आप कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर अपने घर को बैक्टीरिया प्रूफ बना सकती हैं।

 

कैसे करें सफाई

अपने घर को हाइजेनिक और स्वस्थ बनाए रखने के लिए यह कतई जरूरी नहीं है कि आप पूरे दिन घर की साफ-सफाई में लगी रहें। या फिर घर और आपको 100% बैक्टीरिया मुक्त रखने का दावा करने वाले एंटीबैक्टीरियल प्रोडक्ट्स पर बहुत अधिक खर्च करें।

  • मक्खी-मच्छरों को दूर रखने के लिए लाइट फिटिंग्स, नल, स्विच, दरार आदि को कैस्टर ऑयल से पोछें। कैस्टर ऑयल मक्खी-मच्छर को पैदा होने से रोकता है।
  • कॉकरोच को दूर रखने के लिए एक जग में गर्म पानी में एक कप केरोसिन तेल मिला कर सप्ताह में एक बार रात में नालियों में डालें। गर्मियों में फर्श को फिनायल या नमक के पानी से साफ करें।
  • नियमित रूप से घर की चीजों की उन सतहों को अवश्य साफ करें जिन्हें आप अक्सर हाथों से छूती हैं, जैसे फ्रिज व अलमारी के दरवाजे का हैंडल, नल, डस्टबिन, बर्तनों का स्टैंड, लाइट स्विच व टेलीफोन आदि।
  • किचन में इस्तेमाल करने वाले कपड़े जैसे- फ्रिज, मिक्सर के कवर, नैपकीन, एप्रेन, रोटी रखने के कपड़े, किचन पोंछने के कपड़े, डस्टर आदि की नियमित सफाई करें।
  • गीले कपड़ों को रसोई या फिर बाथरूम में लंबे समय तक न छोड़ें। रात में सोने से पहले गीले कपड़ों को अच्छी तरह निचोड़कर सुखाना नमी से पैदा होने वाले बैक्टीरिया को पैदा होने से रोकता है।
  • खाने-पीने की चीजों के बिखरे हुए टुकड़ों को यूं ही न छोड़ें. तुरंत सफाई कर दें।
  • रात में किचल प्लेटफॉर्म, फर्श, चूल्हा और सिंक जरूर साफ करें।
  • किचन में रखी टेबल और कुर्सी को भी साफ और सूखा रखें।
  • किचन में यदि पेड़-पौधे व गमले हैं तो उसके आसपास के हिस्से की भी नियमित सफाई करें।

इस तरह आप नियमित रूप से अपने किचन की सफाई रख कर परिवार की सेहत बनाए रख सकती हैं।

https://rb.gy/eorkrf

#babycareandhygiene #hygiene #Carecomesfirst #babycareandhygiene #hygiene #Carecomesfirst
logo

Select Language

down - arrow
Rewards
0 shopping - cart
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!