Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!

शरीर के इन अंगों को बार-बार नहीं छूना चाहिए

cover-image
शरीर के इन अंगों को बार-बार नहीं छूना चाहिए

हमारी स्किन बैक्टीरिया का घर होती है। शरीर की नमी और पसीने के कारण हवा में रहने वाले बैक्टीरिया हमारी त्वचा से चिपक जाते हैं। इसलिए इनकी सफाई के लिए रोज नहाना चाहिए। इसके अलावा बाहर से घर पर आने पर हाथ-मुंह-पैर अच्छी तरह धो लेना चाहिए। हमें अपने कुछ अंगों को बिना वजह हाथ नहीं लगाना चाहिए। 

हमारे शरीर में कई ऐसी जगह होती हैं जिन पर इन्फेक्शन का खतरा ज्यादा होता है। इसका मतलब ये है कि शरीर के कुछ अंग काफी नाजुक होते हैं। इनको छुने का मतलब अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ करना।  लोगों के द्वारा की जाने वाली एक छोटी सी गलती उन्हें मुसीबत में डाल देती है। इसलिए हर व्यक्ति को स्वास्थ्य को लेकर बहुत जागरूक होना चाहिए। आइये जानते हैं उनके बारे में-

चेहरा

हम सबके लिए चेहरा सबसे ख़ास होता है। लेकिन काम लोग ही इस बात को जानते हैं कि बार-बार चेहरे को छूने से मुंहासों की समस्या का सामना करना पड़ता है। कई बार हमारे हाथों में ना दिखने वाले छोटे-छोटे जीवाणु चिपके होते हैं और जब हम हाथों को अपने चेहरे पर लगाते हैं तो वह चेहरे पर चिपक जाते हैं कई तरह की स्किन डिज़ीज़ के कारण बनते हैं। इसलिए हमेशा अपने साथ साफ रुमाल रखें या फेस टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें। चेहरा धोने के लिए किसी अच्छे फेस वॉश का इस्तेमाल करें।

 

मुंह 

हमें अपने मुंह को अच्छी तरह साफ रखना चाहिए। मुंह को बार-बार हाथ नहीं लगाना चाहिए। भिना धोए उंगली मुंह में नहीं डालनी चाहिए। दांतों में खाना फंसा हो तो उसे उंगली से नहीं निकालना चाहिए। यहां-वहां खुजाकर भी उंगली मुंह में नहीं डालनी चाहिए। ऐसा करने से बैक्टीरिया मुंह में चले जाते हैं जो आपको बीमार बहुत बीमार बना सकते हैं।

आंखें

शरीर के नाजुक अंगों में से एक है हमारी आखें।  यह बहुत ज़्यादा सेंसेटिव भी होती है। आंखों को बार-बार हाथों से छूने से, खुजलाने से या रगड़ने की वजह से इन्फ़ेक्शन हो सकता है। सुबह उठने के बाद और रात को सोने से पहले पानी के छींटे मारें। इसलिए अगर कभी आपकी आंखों में खुजली की समस्या होती है तो उसे हाथों से खुजलाने की जगह आईड्रॉप डाल दें।

नाक का अंदरूनी हिस्सा

अक्सर लोग उंगली डाल-डाल कर नाक साफ़ करते रहते हैं जिससे नाक में इंफेक्शन या अलर्जी होने का खतरा हो सकता है। नाक का म्यूकस दूसरे अंगो में लगने से वहां भी इंफेक्शन हो सकता है। नाक साफ़ करने का सबसे अच्छा तरीका है सुबह नहाते समय ही नाक को साफ कर लिया जाए। दिन में जरूरत पड़ने पर रुमाल से नाक साफ़ करना चाहिए। एक शोध के अनुसार जो लोग बार-बार नाक में हाथ डालते हैं वो जल्दी बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं।

बाल

बहुत से लोगों को ये आदत होती है कि वो अपने हाथों से अपने बालों को सहलाते हैं उनमें हाथ फेरते हैं।

बता दें कि बार-बार हाथ फेरने से बालों में आपके बालों में नेचुरल आइल का रिसाव होता है जिस वजह से बालों में धूल और गंदगी चिपकती है और बाल झड़ने लगते हैं। किचन में काम करते समय या टॉयलेट में भी बालों का हाथ नहीं लगाना चाहिए। जूठे हाथों से भी बालों को छूना या सिर खुजाना नहीं चाहिए इससे बालों में डैंड्रफ हो सकता है। कभी-कभी जुएं भी पड़ जाती हैं। सिर की त्वचा में बैक्टीरिया या एलर्जी से फोड़े-फुंसी भी हो सकते हैं।

कान का अंदरूनी हिस्सा

कई बार जब लोगों के कानों में खुजली होती है तो वह बार-बार अपनी उँगलियों को अपने कान में डाल लेते हैं। इससे कान में इन्फ़ेक्शन होने के साथ-साथ कान का परदा  फटने का ख़तरा रहता है। कान में पानी जाने पर या खुजली होने पर ईयर बड यूज़ करें।

 

नाखूनों के अंदर का हिस्सा


नाखूनों के अंदर का हिस्सा भी काफ़ी नाज़ुक होता है। इसको छूने से फ़ंगस इन्फ़ेक्शन होने का ज़्यादा ख़तरा रहता है। इसकी वजह से कई सारे किटाणु नाखूनों पर भी आ जाते हैं। इसलिए किचन या बगीचे का काम करने के बाद हाथ अच्छी तरह से हैंड वॉश से धोने चाहिए।

प्राइवेट पार्ट्स

कुछ लोगों की आदत होती है कि वह बार-बार अपने हाथों से अपने बट या प्राइवेट पार्ट्स को छूते रहते हैं।  जानकारी के लिए आपको बता दें एनल एरिया बहुत ही सेंसेटिव होता है और आपके हाथों में चिपके हुए जीवाणु और बैक्टीरिया इन्फ़ेक्शन का कारण बनते हैं। इसलिए अगर खुजली उठती है तो साफ हाथों से खुजलाएं और उसके बाद भी हाथ धोना न भूलें।

 

स्वस्थ रहने का मूलमंत्र है सफाई। इसलिए बीमारियों से बचने के लिए सफाई रखना चाहिए।

https://rb.gy/eorkrf

#hygiene #carecomesfirst