होली के शगुन के लिए बनाएं ठंडाई और मिठाइयां

cover-image
होली के शगुन के लिए बनाएं ठंडाई और मिठाइयां

होली उमंग और मस्ती का त्योहार है। होली के दो-तीन दिन पहले से मिठाइयां बननी शुरू हो जाती हैं। इस त्यौहार में नए अनाज के आने की खुशी और घरों में इस मौके पर बनने वाले पकवान हर किसी के जीवन में मिठास घोल देते हैं। होली के लिए घरों में शगुन के लिए मिठाइयां बनाने का रिवाज है। इस दिन लोग अपनी पसंद, सामर्थ्य और सुविधा के अनुसार गुझिया, मोहन थाल, घेवर, जलेबी, रसमलाई, इमरती, मालपुए जैसी अपने-अपने क्षेत्रों की पारंपरिक मिठाइयां बनाते हैं। होली पर खास तौर पर ठंडाई भी बनाई जाती है।

होली के दिन ही सुबह ठंडाई बना कर रख दी जाती है। इस साल आप भी घर में ही झटपट ठंडाई पाउडर की रेसिपी से  ठंडाई तैयार कीजिए। घरवालों के साथ मेहमानों को पिलाइए और होली का आनंद लीजिए।
आइए जानते हैं ठंडाई बनाने की झटपट रेसिपी-


1. ठंडाई

आवश्यक सामग्री-
चीनी- 350 ग्राम (15 कप)
बादाम- 60 ग्राम (1/3 कप)
दूध- 1/2 लीटर
पिस्ते- 30 ग्राम (1/4 कप)
खरबूजे के बीज- 30 ग्राम (1/4 कप)
सौंफ- 30 ग्राम (1/4 कप)
इलायची पाउडर- 10 ग्राम (3 छोटी चम्मच)
काली मिर्च- 5 ग्राम (15 छोटी चम्मच)

विधि -
-मिक्सर जार में सौंफ, काली मिर्च और 100 ग्राम चीनी डालकर बारीक पीस लीजिए।
-पिसे हुए मिश्रण को छलनी में डालकर छान लीजिए।
-छलनी में बचे हुए मोटे मिश्रण को एक बार फिर से मिक्सर में डालकर चीनी के साथ पीस लीजिए फिर से इसे छान कर प्याले में निकाल लीजिए।
-इसके बाद, मिक्सर जार में बादाम, पिस्ते, खरबूजे के बीज, इलाइची पाउडर और बची हुई चीनी भी साथ डालकर बारीक पीस लीजिए।
-इस मिश्रण को सौंफ और काली मिर्च के मिश्रण में ही डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए।
-इस सारे मिश्रण को एकबार फिर से छान कर ले लीजिए ताकि मिश्रण एकसार हो जाए ठंडाई पाउडर बनकर तैयार है।

पाउडर से ठंडाई बनाने के लिए
-एक गिलास में थोड़ा सा दूध डाल लीजिए और इसमें 9 चम्मच ठंडाई पाउडर डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए। इस मिश्रण को आधे घंटे के लिए रख दीजिए।
-आधे घंटे बाद ठंडाई वाला दूध, बाकी दूध और बर्फ के टुकड़े मिक्सर जार में डाल दीजिए और बर्फ के टुकड़े घुलने तक मिक्स कर लीजिए।
-ठंडाई को गार्निश करने के लिए थोड़े से पिस्ते ठंडाई के ऊपर डाल दीजिए।
-ठंडी-ठंडी ठंडाई बनकर के तैयार है, इसे गिलास में निकाल कर जब पीनी हो तो परोसिए।
नोट- ठंडाई पाउडर को किसी भी एअर-टाइट कंटेनर में भरकर रख दीजिए और 2 मास तक इसका उपयोग कीजिए।

कुछ सुझाव
-ठंडाई पाउडर को दूध में डालकर आधे घंटे के बाद उपयोग में लाने से ठंडाई का स्वाद ज्यादा अच्छा आता है क्योंकि आधे घंटे में मेवे अच्छे से फूलकर अपना फ्लेवर छोड़ देते हैं। आप चाहे, तो तुरंत भी ठंडाई सर्व कर सकते हैं।
-इलाइची पाउडर की जगह साबुत इलाइची भी ले सकते हैं। अगर आप साबुत इलाइची ले रहे हैं, तो इन्हें छीलकर चीनी और सौंफ के साथ ही पीस लें।
-ठंडाई बनाने के लिए ताजा दूध ले सकते हैं या फिर दूध को उबालकर ठंडा करके भी लिया जा सकता है।
-1 गिलास ठंडाई बनाने के लिए 3 चम्मच ठंडाई पाउडर पर्याप्त होता है।


2. मावा गुजिया

गुजिया के आटे के लिए सामग्री-
2 कप मैदा
3 बड़े चम्मच तेल / घी
1/4 कप + 2 बड़ा चम्मच पानी या आवश्यकतानुसार

गुजिया स्टफिंग के लिए सामग्री-
2 कप खोया / मावा कद्दूकस या कटा हुआ
1/2 कप बूरा
1/4 कप नारियल का बुरादा
1 छोटी चम्मच हरी इलायची पाउडर
20-25 बादाम कटा हुआ
20-25 काजू कटा हुआ
20-25 किशमिश
तलने के लिए तेल

मावा गुजिया के लिए आटा गूंथने की विधि -
-सभी आवश्यक सामग्री ले लीजिए।
-मैदे को बड़े कटोरे में निकाल लीजिए।
-इसके अलावा, तेल या पिघला हुआ घी भी डालें।
-अपनी उंगलियों के साथ घी को आटे में अच्छी तरह से मसलें।
-फिर मैदे में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए, आटा गूंथ लीजिए पानी की मात्रा आटे की गुणवत्ता पर निर्भर करेगी।
-आटा थोड़ा सख़्त और चिकना होना चाहिए।
आटे को एक गीले कपड़े से ढक दें और 20 मिनट के लिए अलग रख दें।


गुजिया स्टफिंग तैयार करने की विधि-
-एक पैन में मावा के टुकड़े करके या कसा हुआ खोया डालें।
-लगातार हिलाते रहें, यह धीरे-धीरे पिघलना शुरू हो जाएगा।
-धीमी से मध्यम आंच पर खोया को तब तक पकाएं, जब तक कि वह इकट्ठा न होने लगे।
-इसे हल्का भूरा होने तक भुने और जैसी ही भुन जाए, आंच को बंद कर दें। मुझे लगभग 3-4 मिनट लगे।
-इसे एक कटोरे में निकले ताकि यह तेजी से ठंडा हो जाए।
-जैसी ही मावा ठंडा हो जाए, फिर इसमें तगर / बूरा या पाउडर चीनी, नारियल का बुरादा, कटे हुए बादाम, कटे हुए काजू, किशमिश और इलायची पाउडर डाले। ध्यान रहे की मावा ठंडा होने पर ही इसमे चीनी डालनी है। अगर गरम मावा में चीनी डालेंगी तो वह पिघल जाएगी और यह मिश्रण एक पेस्ट जैसा पतला हो जायेगा।
-सब कुछ अच्छी तरह से मिलाएं। सभी गांठों को तोड़ने और मिश्रण को अच्छी तरह से मिलाने के लिए -आप अपनी उंगलियों का उपयोग करे तो बेहतर होता है।
स्टफिंग तैयार और और इसे अलग रख दें।

गुजिया बनाने की विधि-
-फिर आप 20 मिनट बाद, एक बार फिर से अच्छी तरह से आटा गूथ लें।
-उसके बाद आटे को छोटे छोटे भागों में बांटकर लोइयां बना ले (इस आटे से लगभग 28 से 30 लोई बनाए जा सकते हैं)।
-प्रत्येक लोई गोल करके पेड़े जैसा बनाकर रख लीजिए और एक गीले कपड़े के साथ कवर करके रखें।
-एक लोई उठाकर चकले पर रखिए और इसे 4 से 5 इंच व्यास की पतली पूरी बेल लीजिए।
-किनारों को खाली रखते हुए, एक चम्मच स्टफिंग को बीचो बीच मे रखें। स्टफिंग को बहुत अधिक न डाले क्योंकि इसके बाद उन्हें आकार देने में मुश्किल होती है और तेल में गुजिया टूट सकती हैं।
-अपनी उंगली का उपयोग करके किनारों के चारों ओर थोड़ा सा पानी लगाएँ या आप पेस्ट्री ब्रश का उपयोग कर सकते हैं।
-इसे आधा चंद्र के आकार दें और किनारों को दबाकर सील कर दें।
-एक छोटे कप या कटोरी की मदद से, अतिरिक्त किनारों को ट्रिम करें। इस विधि को करते समय, यह बहुत महत्वपूर्ण है कि गुझिया को अच्छी तरह से दबाया और सील की हुए हो।
-किनारे को धीरे से दबाएं और इसे अंदर मोड़ो। अंत तक पहुंचने तक प्रक्रिया जारी रखें।
-गुजिया को निकालकर थाली में रखिए और उसे कपड़े से ढक दीजिए ताकि ये सूखे न । इसी तरह सारी -गुजिया तैयार करके थाली में रखते जाइए।

गुजिया तलने की विधि-
-कढ़ाई में मध्यम आंच पर एक कड़ाही में तेल या घी गरम करने रखें।
-तलने से पहले, तेल के तापमान की जॉच करें। तेल में आटा का एक छोटा टुकड़ा डालें यदि आटा धीरे-धीरे ऊपर आता है, तो तेल तैयार है। यदि आटा नीचे बैठता है, तो तेल अभी भी ठंडा है। यदि आटा का टुकड़ा तेज और जल्दी से ऊपर आता है, तो तेल बहुत गर्म है।
-गरम तेल में एक-एक करके जितनी गुजिया कढ़ाही में आ जाएं, उतनी गुजिया डाल दीजिए।
-एक ओर से सुनहरे रंग की होने के बाद इसे पलट दे और दूसरी तरफ से भी तलें।
-बीच -बीच में अल ट पलट कर गुजिया को मध्यम और धीमी आंच पर ब्राउन होने तक तल लीजिए।
-एक बार जब यह चारों ओर से सुनहरा भूरा और खस्ता हो जाए, तो इसे हटाने के लिए एक चम्मच का उपयोग करें।
-अतिरिक्त तेल को हटाने के लिए तली हुए गुजिया को प्लेट पर बिछे नैपकिन पेपर पर रख लीजिये।
-सारी गुजिया को इसी तरह तल कर निकाल लीजिये और एक बार पूरी तरह से ठंडा होने के बाद, इन्हें ठंडा होने के बाद एअर टाइट कन्टेनर में भरकर स्टोर करें।
-गुजिया अब परोसने और खाने के लिए तैयार है।
फोटो- गूगल से साभार

 

3. पनीर की जलेबी

सामग्री-
पनीर (कद्दूकस किया हुआ) – 100 ग्राम
मैदा – 1 बड़ी चम्मच
सूजी – 1 छोटी चम्मच
इलायची पाउडर – आधी छोटी चम्मच
चीनी – 150 ग्राम
केसर – 5 से 6 धागे
जलेबी तलने के लिए घी

विधि-
-सबसे पहले केसर को दो चम्मच गुनगुने पानी में ड़ालकर अलग रख लें।
-अब एक बर्तन में चीनी, इलायची पाउडर और पानी लेकर चूल्हे पर रखें, इसके साथ ही इसमें केसर भी मिला दें।
-चीनी की चाशनी में तार बनने तक इसे उबलने दें।
-यह घोल इस तरह का हो कि चम्मच से गिराने पर गाढ़ी धार की तरह गिरे। इस घोल को ढंक कर 1 से 2 घंटे के लिए रख दें।
-अब एक अलग बर्तन में पनीर लें, इसे हथेली से दबाते हुए मैश करें तथा 1 चम्मच दूध मिलाकर इसे चिकना होेने तक गूंथे। इसके बाद इसे मैदा के घोल में मिलाकर अच्छी तरह से मिला लें।
-अब जलेबी बनाने के लिए मोटे कपड़े का एक कोन बनाएं।
-इसमें घोल को ड़ालें, कोन को ऊपर से बांधकर, नीचे की तरफ एक छोटा सा छेद कर दें।
-अब पैन या कड़ाही में घी गर्म करें। घी गर्म होने के बाद इसमें थोड़ा सा घोल ड़ालकर देख लें कि घी गर्म है या नहीं।
-गर्म घी में, कोन को दबाते हुए जलेबी के आकार में घोल को डालते जाएं।
-इसमें ध्यान रखने वाली बात यह है कि जलेबियों को पहले धीमी तथा बाद में मध्यम आंच पर तलना है। दोनों तरह से पलटकर इन्हें अच्छी तरह से सेंक लें।
-ब्राउन होने तक सारी जलेबियों को सेंक लें।
-इसके बाद सारी जलेबियों को चाशनी में ड़ाल दें और लगभग 3 मिनट तक चाशनी में डूबो कर रखें। -इसके बाद चाशनी से निकालकर प्लेट में रखें। गर्मागर्म पनीर की जलेबियां तैयार हैं।
फोटो- गूगल से साभार

4. मालपुआ

सामग्री-
एक कप गेहूं का आटा
आधा कप चीनी
3-4 पिसी हुई छोटी इलायची
1 चम्मच पिसी हुई सौंफ
1 बड़ा चम्मच कद्दूकस किया नारियल
और 3 बड़े चम्मच दूध

विधि-
-सबसे पहले आप दूध में चीनी डालकर एक घंटे के लिए ढककर रख दें।
-इसके बाद आप एक बर्तन में आटा छानकर, इसमें पिसी हुई सौंफ और इलायची मिला दें। इसी में नारियल भी डाल दें और सबकुछ अच्छे से मिक्स कर लें।
-दूध में चीनी घुल जाए तो इस मिश्रण को धीरे-धीरे आटे के मिश्रण में मिलाइए और फेंटते हुए मिलाए।
-ध्यान रखें कि आटा ना ज्यादा गाढ़ा हो ना ज्यादा पतला। अगर पेस्ट ठीक तरह से नहीं घुल रहा तो पानी की कुछ बूंदें डाल दें।
-अब एक कड़ाही में घी डालकर उसे गैस पर गर्म करें, घी गर्म हो जाए तो गैस की आंच मीडियम कर दें, अब एक बड़े चम्मच में आटे का पेस्ट लेकर उसे तेल में गोलाई में डालें।
-पुए को तेल में फ्राई कर लें। मालपुआ दोनों तरफ लाल होने तक सेंके और सभी पुए ऐसे ही बनाएं।
-इसके बाद आप चीनी की चाशनी बनाएं और इन पुओं को उसमें डाल दें, गर्म-गर्म टेस्टी मालपुए तैयार हैं।
फोटो- गूगल से साभार

सूचना: बेबीचक्रा अपने वेब साइट और ऐप पर कोई भी लेख सामग्री को पोस्ट करते समय उसकी सटीकता, पूर्णता और सामयिकता का ध्यान रखता है। फिर भी बेबीचक्रा अपने द्वारा या वेब साइट या ऐप पर दी गई किसी भी लेख सामग्री की सटीकता, पूर्णता और सामयिकता की पुष्टि नहीं करता है चाहे वह स्वयं बेबीचक्रा, इसके प्रदाता  या वेब साइट या ऐप के उपयोगकर्ता द्वारा ही क्यों न प्रदान की गई हो। किसी भी लेख सामग्री का उपयोग करने पर बेबीचक्रा और उसके लेखक/रचनाकार को उचित श्रेय दिया जाना चाहिए। 

#holi
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!