• Home  /  
  • Learn  /  
  • रहस्मयी बुखार जानिए बच्चों में क्या है इसके लक्षण और कैसे बचें इससे
रहस्मयी बुखार जानिए बच्चों में क्या है इसके लक्षण और कैसे बचें इससे

रहस्मयी बुखार जानिए बच्चों में क्या है इसके लक्षण और कैसे बचें इससे

16 Sep 2021 | 1 min Read

बदलता मौसम छोटे बच्चे और नवजात शिशुओं के लिए काफी संवेदनशील होता है। सर्दी खांसी जुकाम, बुखार से बच्चों को सुरक्षित रखना बेहद जरुरी है। डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया जैसी गंभीर संक्रमण इन दिनों काफी फैल रहे है। इन बीमारियां का शिकार सबसे ज्यादा बच्चे हो रहे है। जरा सी आसवधानी बच्चे के लिए घातक बन रही है।

इस तरह के संक्रमण से बचने के लिए हमें काफी सतर्क रहने की जरुरत है। आइये जानते हैं किस तरह से आप अपने बच्चों और स्वंय को इन बीमारियों से सुरक्षित रख सकती है।

  • सबसे पहले अपने आस-पास कहीं भी पानी इकठ्ठा मत होने दे।
  • घर में कूलर का इस्तेमाल मत करे, क्योंकि कूलर के पानी में भी मच्छर पनपते हैं।
  • अपने घर में हवा और धूप को खुलकर आने दे।
  • घर में फिनाइल, कीटनाशक का छिड़काव समय-समय पर करते रहे।
  • अपने घर को साफ-सुथरा हमेशा रखे।

इन दिनों रहस्यमयी बुखार भी काफी फैल रहा है। इसलिए बच्चों में जरा से भी सर्दी, जुकाम के लक्षण दिखे डॅाक्टर को तुरंत दिखाए।

रहस्यमयी बुखार के लक्षण

  • फीवर 102 से ऊपर
  • सिर दर्द
  • प्लेटलेट्स कम होना
  • डिहाईड्रेशन
  • उल्टी होना

  • नवजात शिशुओ को हमेशा पूरी बाजू के कपड़े पहनाकर रखे।
  • बच्चों के रुम के आस-पास पानी या पौधे मत रखें।
  • सरसों के तेल में अजवाइन, मेथी दाना, लहसुन मिलाकर तेल को गरम कर ले। फिर इस लीवक्ड को किसी शीशी में बंद करके रखे। अगर जरा सी भी सर्दी खांसी बच्चों को हो तुरंत इस तेल को गुनगुना करके बच्चों के चेस्ट में लगा दे।
  • स्टीम यानी कि भाप देना इसके लिए एक स्टीमर लीजिए इसमें विक्स, लौंग के कुछ टुकड़े पानी में डाल दे। फिर इससे अपने बच्चे को भाप दिलाए।
  • नवजात शिशु को आप बुखार और सर्दीं से बचाने के लिए पिस्ता पीस कर शिशु को दूध के साथ दे। इसके अलावा सरसो के तेल की मालिश अवश्य करे।
  • 2 से 5 साल के बच्चों को घर का बना काढ़ा आप दे सकते हैं इसके लिए आप 1 कप गर्म पानी ले, इसमें गुड़, काली मिर्च चुटकी भर, लौंग 2 से 3, अदरक को आधा चमम्च घिस कर डाल दे। इन सबको अच्छी तरह से खौला लें फिर हल्का गुनगुना करके बच्चों को दो से 3 चम्मच पिलाए।
  • अगर बुखार बहुत तेज है तो ठंडे पानी की पट्टी बच्चों के सिर और हाथ पैरों में रखे।

स्वंय भी सुरक्षित रहे और बच्चों को भी सुरक्षित रखें।

हैप्पी पैरटिंग

#shishukidekhbhal

like

10

Like

bookmark

4

Saves

whatsapp-logo

1

Shares

A

gallery
send-btn

Related Topics for you

ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop