बच्चों के डर और फोबिया को कैसे दूर करें

cover-image
बच्चों के डर और फोबिया को कैसे दूर करें

बच्चों में डर की भावना होना क्या सामान्य समस्या है? या फिर बच्चे डरने का नाटक करते है सिर्फ। किसी अजनबी के पास जाने से कतराते है, या फिर किसी चीज को देखकर भागते है। अक्सर हम पैरेंट बच्चों की इन बातों को अनदेखा कर देते हैं। क्योंकि हमे लगता है कि बच्चा बात नहीं मानने की वजह से ऐसा कर रहा है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है बच्चों में यह डर इतना हावी हो जाता है कि वह अवसाद में आ जाते हैं।

बच्चों में ऐसे डर के कारण एक नहीं कई होते हैं, जब बच्चे ज्यादातर अपने पैरेंटस से अलग रहते है। अगर बच्चों को किसी तरह से डराया जाए, या फिर घर के किसी सदस्य ने बच्चों के साथ कुछ गलत किया हो। इसके अलावा बच्चों में इसके बहुत से कारण हो सकते है जैसे कि बच्चों का बहुत ज्यादा टीवी या फोन देखना। अच्छी डाइट नहीं लेना, घर में पैरेंटस के बीच आपसी तनाव आदि।

बच्चों के इस डर और फोबिया से कैसे निपटे

फोबिया यानी कि जब डर बहुत ज्यादा बढ़ जाता है, और हमेशा ही उस डर की भावना बच्चे के मन में होती है। इस डर और फोबिया से निपटने के लिए आप कुछ इस तरह से बच्चे को हैंडल करे।

  • बच्चे के साथ समय बिताना अपने बच्चे से पूरी तरह से फ्रेंडली रहना।
  • अगर बच्चा घर के सदस्य के साथ डरता है तो उसे अकेला मत छोड़े।
  • किसी और के सामने बच्चों पर चिल्लाएं ना ही किसी की बात पर विश्वास करके बच्चों को सजा दे।
  • हमेशा बच्चों को भरोसा दिलाए कि आप उनके साथ है।

बच्चों का यह डर और फोबिया सिर्फ पैरेंटस दूर कर सकते हैं। बस जरुरत है अपने बच्चे को समझने और समय देने की।

#mindfulparenting #childbehaviour
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!