• Home  /  
  • Learn  /  
  • गर्भावस्था में नवरात्रि व्रत जानिए किन बातों का ध्यान रखें
गर्भावस्था में नवरात्रि व्रत जानिए किन बातों का ध्यान रखें

गर्भावस्था में नवरात्रि व्रत जानिए किन बातों का ध्यान रखें

29 Sep 2021 | 1 min Read

नवरात्रि की तैयारी शुरु होने लगी है, इस बार शारदीय नवरात्रि की शुरुआत 7 अक्टूबर 2021 से है। शारदीय नवरात्रि को कई तरह से मनाया जाता है। कही दुर्गा पूजा की धूम रहती है। तो कही डांडिया और गरबा की रौनक दिखाई देती है। नवरात्रि के व्रत बहुत से लोग पूरे 9 दिन तक करते है। लेकिन अगर आप प्रेग्नेंट है और व्रत रखना चाहती है। तो आपको कुछ बातों का अवश्य ध्यान रखना होगा। आइये जानते है प्रेगनेंसी के दौरान आप किस तरह से नवरात्रि व्रत रख सकती है-

प्रेगनेंसी में व्रत रखना कितना सुरक्षित है

प्रेगनेंसी के 9 महीनों तक कई तरह के व्रत और त्यौहार पड़ते है। ऐसे में गर्भवती महिला के लिए यह असमंजस की स्थिति हो जाती है। कि वह व्रत रखें या नहीं, क्योंकि व्रत रखने का प्रभाव गर्भस्थ शिशु पर भी पड़ता है। इसलिए व्रत रखने से पहले आपको कई सावधानियां बरतनी होगी। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान व्रत रखना आपकी हेल्थ पर निर्भर करता है। अगर आपको किसी तरह की परेशानी है जैसे कि खून की कमी, हाई ब्लड प्रेशर। तो ऐसे में आपको अपनी डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए। व्रत रखना तब सुरक्षित है जब आप पूरी तरह से शारीरिक तौर से स्वस्थ हो। खासतौर से गर्भावस्था में महिलाओं में जेनेस्ट डायबिटीज होने की संभावना रहती है।

व्रत रखने के दौरान क्या सावधानियां बरते

अगर आप पूरी तरह से हेल्दी है और व्रत रखना चाह रही है तो आप इन बातों का अवश्य ध्यान रखे। क्योंकि व्रत के दौरान आपको अपनी क्रेविंग भी कंट्रोल करनी होगी। इसलिए व्रत अपनी सुविधानुसार ही रखे।

व्रत एकदम निर्जला नहीं रखे, प्रेगनेंसी के दौरान पानी की कमी नहीं होनी चाहिए। गर्भस्थ शिशु और माँ के लिए अपने शरीर को हाइड्रेट रखना बेहद आवश्यक होता है। इसलिए इस बात का ध्यान रखते हुए आप एकदम निर्जला व्रत नहीं रखे।

नवरात्रि व्रत में बहुत सी चीजों को खाने की मनाही होती है। नवरात्रि के व्रत पूरे नौ दिन तक होते है। 9 दिनों तक लोग अन्न का सेवन नहीं करते है। इसलिए आप क्रेविंग का ध्यान रखते हुए व्रत की डाइट प्लान करे। आप चाहे तो नवरात्रि का पहला और आखिरी व्रत रख सकती है।

व्रत के दौरान अपने शरीर की एनर्जी के लिए आप नारियल पानी, फलों का जूस, फ्रूट सलाद को अपनी डाइट में शामिल करे।

ऐसा नहीं है कि आप व्रत में सारा दिन कुछ भी नहीं खाए। आप ऐसी डाइट सुनिश्चित करें जिसमें आपको भरपूर पोषण मिलता रहा।

शारदीय नवरात्रि में हल्की-हल्की ठंड आना शुरु हो जाती है। इसलिए आप चाय का सेवन कर सकती है। लेकिन खाली पेट चाय कभी मत पीजिए।

व्रत के दौरान खुद पर कंट्रोल रखना जरूरी होता है। लेकिन अगर आप प्रेग्नेंट है तो आप अपने खाने को लेकर जरा भी लापरवाही मत करे। बहुत ज्यादा देर तक खाली पेट नहीं रहे, बीच में बीच हल्का फुल्का खाती रहे।

नवरात्रि में डांडिया और दुर्गा पूजा की रौनक अलग ही रहती है। अगर आप ऐसे किसी सेलिब्रेशन में जा रही है तो आप अपने व्रत का डिनर और लंच स्किप नहीं करे।

व्रत के दौरान गर्भस्थ शिशु के मूवमेंट पर अवश्य नजर रखे। सबसे ज्यादा जरूरी है व्रत रखने से पहले अपने डॅाक्टर से अवश्य सलाह ले। क्योंकि आपको बहुत सारी दवांइया भी खानी है इसलिए डॉक्टर की निर्देशानुसार ही अपनी सेहत को पहली प्राथमिकता दे।

like

4

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

1

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop