क्या आप तैयार है अपने रिश्ते में बदलाव को लेकर पिता बनने के बाद

cover-image
क्या आप तैयार है अपने रिश्ते में बदलाव को लेकर पिता बनने के बाद

शादी के बाद एक कपल की जिंदगी में कई तरह के बदलाव आते है। लेकिन उससे ज्यादा बदलाव पैरेंट्स बनने के बाद आते है। लेकिन एक पिता होने के नाते किसी भी तरह के चैजेंस को स्वीकार करना आसान नहीं होता है। क्योंकि एक बच्चे की जिम्मेदारी सिर्फ मां की नहीं बल्कि पिता की भी उतनी होती है।

 

आइये जानते हैं पिता बनने के बाद अपने रिश्ते में होने वाले नए बदलाव को लेकर कितना तैयार है आप

  • एक कपल होने के नाते पहले आप दोनों तक ही सब कुछ सीमित था। लेकिन अब ऐसा नहीं है, आप दोनों को पहले अपने बच्चे के बारे में सोचना होगा। अगर रात में आपका बच्चा नहीं सो रहा है तो आपको अपनी नींद की परवाह किए बिना पहले बच्चे को सुलाना होगा। हो सकता है कि आपकी नींद नहीं पूरी हो, तो आप थोडा चिड़चिड़े भी हो जाए।
  • एक पिता की लाइफस्टाइल में बदलाव उसके रिश्ते पर भी असर डालता है। क्योंकि आज के समय में एकल परिवार है, बच्चे को संभालने के लिए पिता को भी उतना ध्यान देना पड़ता है। जितना कि एक मां को, पहले आप सिर्फ पति थे तो आपकी लाइफ में वीकेंड पर घूमना। दोस्तों के साथ पार्टी करना, अपने हिसाब से टाइम बिताना। लेकिन अब ऐसा नहीं क्योंकि बच्चे को संभालना आपकी भी जिम्मेदारी होती है। इसका असर आपके रिश्ते पर भी होता है। अब आपकी वाइफ उतना समय नहीं दे पाए, जितना वह पहले देती थी।
  • पहले आप दोनों के पास एक दूसरे के लिए समय ही होता था। लेकिन अब वैसे साथ रहना आसान नहीं है, क्योंकि पहली प्राथमिकता आपका बच्चा। पत्नी की प्रेगनेंसी से ही आपको पिता बनने का एहसास होने लगेगा। डॉक्टर के पास रुटीन चेकअप के लिए जाना, पत्नी के मूड स्विंग होना। आपस में कभी-कभी बहस हो जाना। सबसे बडा बदलाव रिश्तों में आता है सेक्स लाइफ का कम हो जाना। इसका असर एक पति पर बहुत ज्यादा पड़ता है। अक्सर पति इस बदलाव को स्वीकार नहीं कर पाते हैं। जिसका असर उनके रिश्तों में भी देखने को मिलता है।
  • आर्थिक जिम्मेदारी बढ़ने की वजह से भी एक कपल के बीच में तकरार होने लगती है। बच्चे के जन्म के बाद मां को आराम करने की जरूरत होती है। वहीं एक पिता के ऊपर और जिम्मेदारियां आने लगती है।
  • इन सब बातों का असर एक पति-पत्नी के रिश्ते में दिखाई देता है। एक पिता बनने के बाद अपने रिश्ते में बदलाव को लेकर आप कैसे तैयार रहे
  • जाहिर सी बात है अब आपकी लाइफ में सब कुछ बच्चे के ऊपर निर्भर होगा। ऑफिस से छुट्टी लेना हो, कहीं हॉलीडे प्लान कैंसिल करना हो। आपको महसूस होगा कि आपकी आजादी छिन रही है। लेकिन ऐसा नहीं है। यह बदलाव स्वीकार करने में थोडा समय लगता है।
  • आपको अपनी सोच भी थोडी बदलनी होगी, क्योंकि एक बच्चे को अकेले संभालना सिर्फ मां की जिम्मेदारी नहीं है। आप अपनी पत्नी के साथ कुछ समय बिताना चाहते हो लेकिन शायद आपकी पत्नी पहले बच्चे के बारे में सोचे। ऐसे में पत्नी के ऊपर गुस्सा भी आए, लेकिन इस समय आपको कुछ चीजें समझने होगी।
  • पत्नी के साथ समय बिताए लेकिन यह भी सोचे कि अब वह मां है।
  • अब आप लोगों की सेक्स लाइफ पहली जैसी ना हो। लेकिन इसका मतलब यह तो नहीं कि सेक्स ही पहली प्राथमिकता है। खुद को समय दे, साथ ही अपनी पत्नी को मां बनने के इस सफर में आगे बढ़ने दे।
  • एक पैरेंट बनने के बाद टाइम मैनेजमेंट करना बेहद आवश्यक है। अगर सही तरीके से टाइम को बैलेंस करे तो आप अपने लिए समय निकाल सकते है।
  • पिता बनने के बाद आप दोनों की जिंदगी में ऐसे बहुत से बदलाव देखने को मिलेगे। लेकिन इन बदलावों को स्वीकारे और समझे कि अब आपकी लाइफ पहले से भी बेहतर है। आप पहले से भी ज्यादा कहीं समझदार है, अपनी पत्नी का पूरा सहयोग करे।

अपनी निजी पलों के लिए समय निकाले, एक दूसरे की भावनाओं का ध्यान रखे। पैरेटिंग के इस सफर में आगे बढ़ते जाए।

#garbhavastha
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!