ब्रेस्ट फीडिंग मॅाम के लिए डाइट

cover-image
ब्रेस्ट फीडिंग मॅाम के लिए डाइट

ब्रेस्टफीडिंग नवजात शिशु के लिए सबसे महत्वपूर्ण आहार होता है। प्रेगनेंसी के बाद एक नई मां को ब्रेस्ट फीडिंग के कई अनुभवों से गुजरना पड़ता है। नवजात शिशु को कैसे फीड करना है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मिल्क का सही तरीके से नहीं निकलना। ऐसी बहुत सी समस्याएं नई मांओं के साथ होती है। इसलिए डिलीवरी के बाद अपनी डाइट का ध्यान रखना सबसे ज्यादा जरूरी होता है। क्योंकि आप जितनी पोषण से भरपूर डाइट लेंगी उतने सही तरीके से आप ब्रेस्टफीड करवा सकती है।

 

ब्रेस्टफीडिंग मॉम के लिए डाइट इस प्रकार है

ड्राई फ्रूट- सूखे मेवों में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए नई मां को अपनी डाइट ड्राई फ्रूट्स अवश्य शामिल करना चाहिए। सूखे मेवे के लड्डू, पंजीरी या फिर मेवों को भूनकर रोजाना सुबह शाम लीजिए।

दूध- ब्रेस्ट मिल्क बढाने के लिए डाइट में दूध अवश्य शामिल करे। दूध के साथ आप प्रोटीन पाउडर या फिर होममेड लड्डू जो कि प्रसव के बाद नई मां को दिए जाते है। यह चीजें अवश्य शामिल करें, ब्रेस्ट मिल्क का बढ़ना पूरी तरह से आपकी डाइट पर ही निर्भर करता है। अगर आप सही तरह से पोषण से भरपूर डाइट लेंगी, तो ही नवजात शिशु सही मात्रा में ब्रेस्टमिल्क को फीड कर सकता है।

दाले- दाले भी प्रोटीन बहुत अच्छा स्त्रोत है, दाल हर तरह से फायदेमंद होती है। दाल में आप अरहर की दाल, मूंग की दाल का ज्यादा सेवन करे। क्योंकि अरहर की दाल में प्रोटीन, फाइबर सही मात्रा में होता है।



अगर ब्रेस्टफीड करवा रही हैं तो किन बातों का ध्यान रखे

ब्रेस्टफीडिंग मॉम को अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखना होता है। क्योंकि ब्रेस्टफीड करवाने के बाद बहुत ज्यादा भूख भी लगती है। इसलिए अपने खाने को लेकर किसी तरह की कोई लापरवाही नहीं बरते। आप वही खाये जो आपको पसंद है। अगर आप सुबह ब्रेस्टफीड करवा रही है तो अच्छी तरह से आप ब्रेकफास्ट करे। अपने खाने के बीच में बहुत ज्यादा अंतर नहीं रखे।

फलों को अपनी डाइट में अवश्य शामिल करे। पपीता जो कि प्रसव के बाद सबसे फायदेमंद होता है। इससे ना सिर्फ आपकी पाचन प्रक्रिया ठीक रहेगी। इसके अलावा आप फल में सेब, अनार को भी शामिल करिये।

ब्रेस्टफीडिंग मॉम के लिए डाइट के साथ-साथ स्ट्रेस फ्री रहना भी आवश्यक है। क्योंकि स्ट्रेस की वजह से आप सही तरीके से फीड नहीं करवा सकती है। डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवाओं का भी सेवन करे। क्योंकि प्रसव के बाद ऐसी दवाएं दी जाती है जो आपके शरीर में होने वाली कई कमियों को पूरा करती है। यह दवा ब्रेस्टफीडिंग के लिए भी फायदेमंद होती है।

#shishukidekhbhal #breastfeeding
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!