एक साल के शिशु के लिए डाइट चार्ट

cover-image
एक साल के शिशु के लिए डाइट चार्ट

नवजात शिशु को जन्म के 6 महीने बाद ठोस आहार देने की शुरुआत की जाती है। 6 महीने के भीतर शिशु को मसला हुआ केला, दाल का पानी, खिचडी देना शुरू होता है। जब शिशु 1 साल का होता है तो धीरे-धीरे सब कुछ खाना शुरू करता है। इस बात का भी ध्यान रखना आवश्यक होता है कि शिशु को जो भी दिया जाए वह पोषण से भरपूर हो।

 

आइये जानते है 1 साल के शिशु के लिए डाइट चार्ट

सुबह का नाश्ता

दलिया की खीर/ पैनकेक/ आलू का पराठा/ मसला हुआ केला/ सूजी की खीर/ उबला हुआ आलू/ सेब घिसा हुआ।

 

मिड मॉर्निंग

फलों का जूस/ मौसमी फल/ फार्मूला मिल्क/ पनीर

लंच दाल राइस/ दही/ खिचड़ी/ रोटी सब्जी

 

शाम के समय

गाजर पालक का सूप/ सेब की प्यूरी/ टमाटर सूप,

 

डिनर

दलिया नमकीन/ पराठा/ मिक्स दाल

 

शिशुओं को 1 साल बाद डाइट देते समय किन बातों का ध्यान रखे।

  • 6 महीने बाद शिशु के दांत निकलने लगते हैं इसलिए शिशु को वही खिलाएं जो शिशु चबा सके।
  • शिशु को दूध और पपीता एक साथ नहीं दे।
  • मिक्स दाल को अच्छी तरह से मैश कर लें।
  • खट्टे फलों के साथ दूध देने में अंतर रखे।
  • खाने में नमक की मात्रा कम ही रखे।
  • सब्जियों को अच्छी तरह से साफ कर ले। अगर हरी सब्जियां दे रही हैं तो उनको उबालकर ही दे।
  • शिशु के दांतों को अच्छी तरह से मुलायम कपड़े से ही साफ करे। उसके बाद ही कुछ खिलाएं।
  • मसला हुआ केला शिशु बहुत पसंद करते है। इसलिए शिशु को केला अवश्य दें, लेकिन दही के साथ केला नहीं खिलायें।
  • शिशु को आलू का पराठा देने की शुरुआत करें क्योंकि आलू में बहुत अच्छी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है। इसलिए छोटे-छोटे टुकड़ों में पराठा दें, साथ ही शिशु को पानी देना भी शुरू करें।
  • फलों के जूस में संतरे का जूस, अंगूर का रस, मौसमी का जूस देने की शुरुआत कर सकते हैं।
  • शिशुओं को अगर दलिया की खीर दे रहे हैं तो दलिया बहुत बारीक हो साथ ही चम्मच से मसल कर ही खिलायें।
  • 1 साल के भीतर ही शिशु स्वाद समझने लगते है इसलिए शिशु की डाइट में मीठा, हल्का नमकीन रखें।
  • 6 महीने बाद शिशुओं का विकास बहुत तेजी से होता है। इसलिए शिशु को पोषण से भरपूर आहार ही दे।
  • शिशुओं को 1 या 2 घंटे के अंतराल के बाद खिलाते रहे।
  • जब भी ठोस आहार दिया जाता है तो शिशु को पेट में दर्द और गैस की समस्या रहती है। इसलिए दाल में हींग का तड़का लगाए। क्योंकि हींग से शिशुओं को पेट दर्द में राहत मिलती है।

 

शिशु जब खाने की शुरुआत करते हैं तभी से अगर हेल्दी खाने की आदत डाल दी जाए तो यह शिशु के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। इसलिए आप जो भी खिलाएं वह पोषण से भरपूर हो।

#babynutrition
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!