गर्भावस्था और दीवाली की तैयारी

cover-image
गर्भावस्था और दीवाली की तैयारी

दीवाली ऐसा त्यौहार है जो पांच दिनों तक चलता है। एक हफ्ते या 15 दिन पहले से ही दीवाली की सफाई की शुरुआत होने लगती है। लेकिन गर्भावस्था के दौरान फेस्टिवल में विशेष ध्यान रखने की जरुरत होती है। दीवाली जल्द ही आने वाली है और अगर आप प्रेगनेंट हैं। तो आपको इन विशेष बातों का ध्यान रखना होगा।

 

  • दीवाली पांच दिनों तक मनाई जाती है, ऐसे में घर के काम सफाई, मेहमानों का आना जाना। लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान फेस्टिवल में किसी भी काम का स्ट्रेस नहीं ले। बल्कि घर में किसी की मदद लें, आप चाहे तो पांच दिनों तक प्लानिंग करें, कि आपको कैसे मैनेज करना।
  • गर्भावस्था में डाइट काफी महत्वपूर्ण होती है। इसलिए त्योहारों में भी अपने खाने पीने को लेकर कोई भी लापरवाही नहीं बरतें।
  • दीवाली में पटाखों का शोर गर्भस्थ शिशु के लिए हानिकारक होता है। इसलिए इस बात का विशेष ध्यान रखे। पटाखों से होने वाला प्रदूषण से बचना बहुत जरूरी है। क्योंकि पटाखों से निकलने वाले धुएं से एलर्जी भी हो सकती है। अगर आपको पहले से कोई एलर्जी है तो आप डॉक्टर से सलाह ले।
  • दीवाली में घर की सजावट के लिए आप मार्केट से पहले से ही तैयार करके रखे। अगर आप मार्केट की भागदौड़ से बचना चाहती हैं तो ऑनलाइन दीए और होम डेकोर का सामान मंगा सकते है।
  • कोई भी त्यौहार मिठाई के बिना अधूरा रहता है। लेकिन गर्भावस्था में बहुत ज्यादा मीठा खाने की मनाही होती है। इसलिए आप शुगर फ्री मिठाई का ही सेवन करे।
  • त्योहारों की भागदौड़ के बीच में अपनी सेहत का ध्यान सबसे पहले रखें। शरीर को हमेशा हाइड्रेट करके रखे। समय पर दवाइयां ले, दिवाली से पहले जो भी डॉक्टरी जांच है वह अवश्य कराएं।
  • दीवाली से पहले ही सामान की एक लिस्ट बना ले। जिसमें धनतेरस की खरीदारी से लेकर भाई दूज तक की सारी प्लानिंग हो। क्योंकि प्रेगनेंसी में पहले से ही कई बातों का ध्यान रखना होगा।

 

फेस्टिवल के इस सीजन में सजग और सतर्क रहे। खासतौर से गर्भवती महिला के लिए यह समय काफी महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि इस दौरान सबसे महत्वपूर्ण होता है गर्भस्थ शिशु का स्वास्थ्य। इन सब बातों का ध्यान रखते हुए इस दीवाली पर जगमगाते रहें।

#garbhavastha
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!