प्रेगनेंसी के दौरान बटरफ्लाई आसान क्यों करना चाहिए

cover-image
प्रेगनेंसी के दौरान बटरफ्लाई आसान क्यों करना चाहिए

बटरफ्लाई आसान जो कि गर्भावस्था के दौरान बहुत ही फायदेमंद होता है। क्योंकि बटरफ्लाई यानी कि तितली आसान पूरी तरह से सुरक्षित है। बटरफ्लाई आसान गर्भावस्था के लिए सबसे अच्छा आसान है। यह एक आसान है जिसे पूरी तरह से स्ट्रेचिंग नहीं कर सकते है। बटरफ्लाई आसान दो प्रकार का होता है। पूर्ण तितली आसन और अर्ध तितली आसान।

 

बटरफ्लाई आसन कैसे करे

  • इस एक्सरसाइज को करने के लिए आप सबसे पहले एक जमीन पर एक मैट बिछाएं।
  • आराम से बैठे, फिर अपने दोनों घुटनों को मोड़ें और पैर के पंजो को एक साथ लाएं।
  • अपनी पीठ एकदम सीधी करे, पंजो को साथ लाते हुए अपनी दोनों एडियां नीचे प्यूबिक बोन की तरफ करे।
  • अब दोनों घुटनों को ऊपर पकडकर पैरों को ऊपर नीचे करे।

 

प्रेगनेंसी के दौरान इस आसन की सलाह डॉक्टर भी देती है। यह एक ऐसा आसान है जो मेडिटेशन की तरह काम करता है। इस आसन से पाचन भी ठीक होता है। इससे प्रेगनेंसी में हार्टबर्न की समस्या से भी आराम मिलता है। यह एक्सरसाइज हिप्स, पेल्विक मसल्स को स्ट्रेच और ढीला कर सकते हैं। इस एक्सरसाइज से सामान्य प्रसव में मदद मिलती है। इस आसान से प्रसव दर्द को कम करने में मदद मिलती है। अगर आपको गर्भावस्था के दौरान किसी तरह के दर्द का है तो डॉक्टर से सलाह ले। गर्भावस्था के दौरान अक्सर वजन बढ़ जाता है। यह आसान वजन कम करने में भी मदद करता है। शुरुआत में तितली आसन करने के लिए आप किसी एक्सपर्ट की मदद ले। इस आसान को आप रोजाना कर सकती है। अगर आप किसी तरह के मानसिक तनाव में है। तो बटरफ्लाई आसान काफी हद तक मानसिक तनाव को कम करता है।



तितली आसान करते समय किन बातों का ध्यान रखें।

  • इस आसन को करने के लिए आप किसी आरामदायक गद्दे में बैठ जाए।
  • अगर आप प्रेगनेंसी की तीसरी तिमाही में हैं तो सिर्फ 2 से 5 बार ही करे।
  • तितली आसन में अपनी रीढ़ को सीधा रखकर ही बैठें।
  • बटरफ्लाई आसान करने के दौरान आराम से सांस ले।

अगर आपको कोई भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या है तो डॉक्टर से अवश्य सलाह ले।

#pregancy #preganancycare #swasthajeevan
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!