• Home  /  
  • Learn  /  
  • सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके
सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके

20 Feb 2022 | 1 min Read

Ankita Mishra

Author | 279 Articles

सर्दी मतलब ठंड और पानी से दूरी! अक्सर ऐसा देखा जाता है कि सर्दी के दिन आते ही लोग पानी पीना कम कर देते हैं। ठीक यही आदत छोटे बच्चों में भी देखी जा सकती है। इस वजह से सर्दियों में शिशुओं में पानी की कमी हो सकती है। ऐसे में सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके हम यहां पर आपको बता रहे हैं। इस आसान उपायों से आपको बच्चों में ड‍िहाइड्रेशन की समस्या को दूर करने में मदद मिलेगी।

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके 

न सिर्फ गर्मी के दिनों में, बल्कि सर्दियों के दिनों में भी शरीर को उचित मात्रा में पानी की जरूरत होती है। ऐसे में हर मौसम में बच्चों के शरीर को हाइड्रेट बनाए रखना जरूरी माना जा सकता है। वैसे भी छोटे बच्चे तो इस बात से अंजान रहते हैं, जिस वजह से उनके स्वास्थ्य की पूरी जिम्मेदारी पेरेंट्स के ऊपर आ जाती है। यहां आप बच्‍चे को ठंड के द‍िनों में हाइड्रेट रखने के उपाय विस्तार से पढ़ेंगे।

1. एक अंतराल पर पिलाएं पानी

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के तरीके में सबसे आसान उपाय है बच्चे को पानी पिलाते रहना। इसके लिए पेरेंट्स थोड़ी-थोड़ी देर के लिए आलार्म भी सेट कर सकते हैं। इस आलर्म की मदद से उन्हें थोड़ी-थोड़ी देर में बच्चे को पानी पिलाने की बात याद आती रहेगी। इस तरह पेरेंट्स आसानी से सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखना सीख सकते हैं।  

2. 3-4 बार कराएं स्‍तनपान 

बच्‍चे को ठंड के द‍िनों में हाइड्रेट रखने के उपाय में स्तनपान की आदत को भी शामिल किया जा सकता है। दरअसल, स्तनपान कराने से मां को अधिक प्यास महसूस होती है, जिस वजह से वह अधिक पानी पी सकती हैं। ऐसे में ब्रेस्टमिल्क के लिए जरिए शिशु के शरीर में पानी की मात्रा भी संतुलित भी बनी रह सकती है और सर्दियों के दिनों में बच्चे के शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद मिल सकती है।

3. बच्‍चे को सूप पिलाएं

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखना चाहते हैं, तो शिशु के आहार में ठंड के मौसम में सूप का सेवन शामिल कर सकते हैं। टमाटर या खीरे जैसी सब्जियां पानी का अच्छा स्रोत होते हैं। वहीं, इनका सूप बनाने में पानी का इस्तेमाल भी होता है। ऐसे में सर्दियों के दिनों में बच्चों में ड‍िहाइड्रेशन की समस्या को दूर करने के लिए सूप बनाकर बच्चों को पिलाया जा सकता है। यह शिशुओं में पानी की कमी दूर करने और उसे गर्माहट देने में भी मदद कर सकता है।

4. फलों का गूदा खिलाएं 

सब्जियों की ही तरह फलों में भी प्राकृतिक रूप से पानी की भरपूर मात्रा होती है। ऐसे में सर्दियों के मौसम में शिशुओं में पानी की कमी को दूर करने के लिए बच्चे के आहार में फलों की गूदा या पल्प शामिल किया जा सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि अगर बच्चे को किसी फल से एलर्जी है, तो उसे उस फल का सेवन न कराएं। 

5. मिनरल्स र‍िच फूड्स खिलाएं

सर्दियों के दिनों में बच्चे को हाइड्रेट रहने का उपाय मिनरल्स र‍िच फूड्स को भी माना जा सकता है। सोडियम, कैल्शियम, पोटेशियम, क्लोराइड, फॉस्फेट और मैग्नीशियम जैसे मिनरल्स र‍िच फूड्स को इलेक्ट्रोलाइट्स (Electrolytes) का अच्छा स्रोत माना जाता है। ऐसे में इनके सेवन से आसानी से शिशुओं में पानी की कमी को दूर किया जा सकता है। 

6. बच्चे को हरी पत्तेदार सब्जियां खिलाएं

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके में पेरेंट्स हरी पत्तेदार सब्जियों को भी शामिल कर सकते हैं। इन हरे पत्तेदार सब्जियों में पानी की नमी प्राकृतिक तौर पर मौजूद होती है। इसी वजह से इनका हरा रंग लंबे समय तक बरकार भी रहता है। यही वजह है कि बच्‍चे को ठंड के द‍िनों में हाइड्रेट रखने के उपाय में हरी पत्तेदार सब्जियों के सेवन को भी शामिल करना लाभकारी हो सकता है। 

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए बच्चे को कब से और कितना पानी पिलाएं?

शिशु को 6 माह की आयु तक सिर्फ मां का दूध ही पिलाना चाहिए। अगर शिशु 6 माह से बड़ी आयु का है, तो ही उसके आहार में पानी की मात्रा शामिल करें। शुरू में शिशु को दिन भर में 4 से 5 कप (8-40oz) की मात्रा में पानी पिला सकती हैं। ध्यान रखें शिशु को एक बार में ही ढ़ेर सारा पानी न पिलाएं। दिन में 5 से 6 बार के अंतराल में थोड़ा-थोड़ा करके ही उसे पानी पिलाएं। 

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखना है, तो इसका रखें ध्यान

सर्दियों में बच्चों के हाइड्रेट रहने का उपाय आसानी से किया जा सकता है। हालांकि, इस दौरान कुछ जरूरी बातों का भी ध्यान रखना चाहिए, जैसेः

  • शिशु को पैकेड या मार्केट में मिलने में डिब्बा बंद जूस न पिलाएं।
  • शिशु के पानी, जूस, दूध या किसी भी अन्य तरल पेय में चीनी या नमक की मात्रा सीमित रखें।
  • फलों व सब्जियों के ताजे जूस, सूप व पल्क के साथ ही उसे दाल का पानी भी पिला सकती हैं।
  • एक बार में अधिक मात्रा में शिशु को पानी या अन्य तरल पेय न पिलाएं।

सर्दियों में बच्चों को हाइड्रेट रखने के लिए तरीके कई हैं। पर इनसे जुड़ी जरूरी बात है कि पेरेंट्स को नियमित रूप से व तय समय पर इन उपायों को करना चाहिए। यहां बताए गए बच्‍चे को ठंड के द‍िनों में हाइड्रेट रखने के उपाय करने से पहले इस बात को भी सुनिश्चित कर लें कि बच्चे के तरल खाद्य में शामिल सूप, जूस या अन्य पेय से बच्चे को किसी तरह की एलर्जी न हो। अगर इन उपायों को करने के बाद भी बच्चों में ड‍िहाइड्रेशन की समस्या होती है, तो डॉक्टरी इलाज को प्राथमिकता दें।

#babycare #wintercare

Home - daily HomeArtboard Community Articles Stories Shop Shop