बच्चों के लिए योग के फायदे और आसान योग

बच्चों के लिए योग के फायदे और आसान योग

7 Jun 2022 | 1 min Read

Vinita Pangeni

Author | 554 Articles

बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए अच्छा खानपान ही नहीं, योग भी आवश्यक है। भारत योग की जन्मभूमि है, जो सबको निरोग रखने में मदद करता है। रोजाना कुछ देर योगाभ्यास करने से बच्चों को बहुत फायदा होता है। क्या हैं बच्चों के लिए योग के फायदे और कौन-से हैं बच्चों के लिए आसान योग, हम आगे विस्तार से बता रहे हैं।

बच्चों के लिए फायदेमंद योग – बच्चों के लिए आसान योग

बच्चों के लिए योग के फायदे कई हैं। योग के फायदे पाने के लिए बच्चे कुछ आसान योग कर सकते हैं। कौन-से हैं बच्चों के लिए आसान योग हम इस लेख में आगे बता रहे हैं। 

बालासन (Childpose)

बच्चे के मन को शांत करने और चिंता को दूर करने के लिए बालासन योग फायदेमंद है। बच्चों के मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए भी बालासन को अच्छा माना गया है। यह योग करना बच्चों के लिए काफी आसान है। बालासन से शरीर में बेहतर रक्त संचार भी होता है और सकारात्मकता भी बढ़ती है। 

  • बच्चे को बालासन योग करने के लिए मैट पर वज्रासन पर बैठना होगा। 
  • इस मुद्रा में दोनों घुटने मुड़े हुए और पैर कुल्हे के नीचे होते हैं। 
  • अब रीढ़ की हड्डी को सीधी करते हुए गहरी सांस लें। 
  • फिर दोनों हाथों को हवा में उठाकर अपने शरीर को आगे की तरफ झुकाएं। 
  • इस मुद्रा में आपके हाथ जमीन से सटे होंगे और माथा फर्श को छूने की कोशिश करेगा।
  • कुछ देर ऐसे ही रहें और सामान्य गति से सांस लें। उसके बाद सांस लेते हुए प्रारंभिक अवस्था में आ जाएं।

एकपादासन (Tree Pose)

एकपादासन को वृक्षासन भी कहा जाता है। इस योगासन से दिमाग को एकाग्र करने में मदद मिलती है। साथ ही स्ट्रेस, एंग्जाइटी और कमर दर्द भी कम हो सकता है। शरीर को और स्पाइन को लचीला बनाने में भी एकपादासन को सहायक माना गया है। 

  • एकपादासन करने के लिए एक समतल जमीन में पैरों को जोड़कर खड़ा होना होगा।
  • फिर एक बार में पूरे शरीर का संतुलन बनाते हुए दूसरे पैर के तलवे को जांघ पर रखें।
  • अब दोनों हाथों को नमस्कार की मुद्रा बनाकर आसमान की तरफ ले जाएं।
  • कुछ सेकंड इसी अवस्था में बने रहें। 
  • उसके बाद गहरी सांस लेते हुए शुरुआती मुद्रा में आएं। 
  • अब इसी प्रक्रिया को दूसरे पैर से भी दोहराएं। 
  • दोनों पैरों से करने के बाद एकपादासन का एक चक्र पूरा होगा। 
  • फिर इस प्रक्रिया को दूसरे पैर से दोहराएं।
  • बच्चे इस योग को 3-4 बार कर सकते हैं। 
बच्चों के लिए आसान योग और बच्चों के लिए योग के फायदे
योगासन करती बच्ची / स्रोत – आईस्टॉक

ताड़ासन (Mountain Pose)

बच्चे की लंबाई में सुधार करना हो या पोस्चर को बेहतर करना, ताड़ासन बड़ा काम आता है। इस आसान योगासन को करने से बच्चे की सभी मांसपेशियों में खिंचाव आएगा, जिससे उन्हें स्वस्थ रहने में मदद मिल सकती है। यही नहीं, बच्चों की एकाग्रता को सुधारने के लिए भी उन्हें ताड़ासन करने के लिए कह सकते हैं।

  • ताड़ासन करने का तरीका काफी आसान है। बच्चे को पहले मैट पर सीधे खड़े होना होगा। 
  • उसके बाद दोनों हाथों को ऊपर तनते हुए उंगलियों को एक दूसरे से बांधना होगा। 
  • फिर सांस लेते हुए एड़ियों को ऊपर उठाकर पंजों के बल खड़े होना होगा।
  • इस दौरान हथेलियां आसमान की तरफ होंगीं।
  • इस मुद्रा में रहते होते सामान्य गति से 10 सेकेंड तक सांस लेनी चाहिए। 
  • उसके बाद गहरी सांस लेकर उसे छोड़ते हुए शुरुआती अवस्था में आना है।
  • इस योगासन को 4 से 5 बार दोहरा सकते हैं।

धनुरासन (Bow Pose)

धनुरासन को करते समय शरीर की आकृति धनुष जैसी हो जाती है। इस योगासन को करना कंधे, रीढ़, घुटने जैसे सभी जोड़ के लिए अच्छा माना जाता है। चर्बी को कम करने के लिए भी धनुरासन मददगार होता है। 

  • धनुरासन करने का तरीका आसान है। सबसे पहले बच्चे को मैट पर पेट के बल लेटना होगा।
  • फिर घटनों को मोड़ते हुए हाथों से टखनों को पकड़ना होगा।
  • इस दौरान सांस लेते हुए सिर, छाती और जांघ को ऊपर उठाना होगा। 
  • इतना करने पर शरीर की आकृति धनुष जैसी दिखने लगेगी।
  • कुछ देर तक इस मुद्रा में बने रहते हुए सामान्य तरीके से सांस लें।
  • फिर गहरी सांस लेकर धीरे-धीरे शुरुआती अवस्था में वापस आ जाएं।

भुजंगासन (Cobra Pose)

भुजंगासन बच्चे के शरीर और मन दोनों को शांत करता है। इससे बच्चों को स्ट्रेस कम होता है और मस्तिष्क स्वास्थ्य बना रहता है। माना जाता है कि इस योगासन से प्रतिरक्षा प्रणाली पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। 

  • भुजंगासन के लिए पेट के बल मैट पर शरीर को तानकर लेटना होगा।
  • लेटने के बाद गहरी सांस लेते हुए हथेलियों के सहारे कंधे, छाती और सिर को उठाते हुए आसमान की तरफ देखना होगा 
  • इस दौरान शरीर का नाभि तक का ऊपरी भाग उठा हुआ रहेगा।
  • बच्चा सामान्य सांस लेते हुए शरीर को जितनी देर तक उठाकर रख पाए रख सकता है। 
  • उसके बाद गहरी सांस लेकर सांस को छोड़ते हुए वापस शुरुआती मुद्रा में आ जाएं।
  • थोड़े सेकेंड का ब्रेक लेकर इस योगासन को 3 से 4 बार दोहरा सकते हैं।

बच्चों के लिए योग के शुरुआती टिप्स

  • हमेशा योगासन को खाली पेट करें। अगर कुछ भारी खा लिया है, तो खाने के तीन घंटे बाद योग करें।
  • योग करते हुए मधुर संगीत भी बजा सकते हैं।
  • योगासन करते समय आरामदायक ढीले कपड़े पहनें।
  • संभव हो, तो सुबह के समय खुली जगह में आसन लगाकर योग करें।
  • बच्चे हों या बड़े सबको योगासन पर बैठने से पहले स्ट्रेचिंग करनी चाहिए।
  • योगासन करते समय शरीर पर अनावश्यक जोर व दबाव न डालें।
  • शाम के समय भी योगासन कर सकते हैं, लेकिन पेट बिल्कुल भरा न हो।
  • कठोर फर्श पर योग करने से बचें, इससे चोट लगने का खतरा रहता है। न फिसलने वाली चटाई, कम्बल या योग मैट पर ही योग करें।
  • सुबह योग कर रहे हैं, तो मल त्यागने के बाद ही योगासन करें। 
  • योग करने से पहले अपने योग गुरु की सलाह जरूर लें।

बस तो ये थे बच्चे के लिए आसान योग। योग करने के फायदे पाने के लिए बच्चे में इसका नियमित अभ्यास करने की आदत डालें। इससे बच्चे में योग के फायदे जल्दी दिखने लगेंगे।

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop