• Home  /  
  • Learn  /  
  • बच्चों में सांसों की दुर्गंध कैसे कम करें?
बच्चों में सांसों की दुर्गंध कैसे कम करें?

बच्चों में सांसों की दुर्गंध कैसे कम करें?

6 Jun 2022 | 1 min Read

Vinita Pangeni

Author | 540 Articles

बच्चों के मुंह से बदबू आना व सांस में दुर्गंध को हैलिटोसिस कहा जाता है। यह परेशानी बच्चों में काफी ज्यादा होती है। आखिर बच्चों के मुंह से दुर्गंध क्यों आती है और बच्चों में सांसों की दुर्गंध कैसे दूर करें, इन सभी बातों को जानने के लिए इस लेख में हमारे साथ बने रहें। 

बच्चों के मुंह से बदबू आने का कारण

दिल्ली के एयरफोर्स हॉस्पिटल में कार्यरत डॉ. वैशाली खंडूजा बताती हैं कि सही तरह से ब्रश न करने से मुंह में गंदगी बढ़ती है, जिससे बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। इन बैक्टीरिया के चलते मुंह से दुर्गंध आ सकती है। इसलिए,  शिशु व बच्चे का ओरल हेल्थ बनाए रखना आवश्यक है।

नाक में किसी तरह का रोग आने के कारण भी मुंह से बदबू आ सकती है, जैसे – साइनस। दरअसल, नाक और मुंह एक दूसरे जुड़े होते हैं, इसलिए नाक में दिक्कत होने से सांस से बदबू आ सकती है।

दवाओं की वजह से भी बच्चे के मुंह से बदबू आ सकती है। साथ ही तेज गंध वाले खाद्य पदार्थ जैसे – लहसुन, प्याज, दूध या संतरे के रस से बच्चे के मुंह से दुर्गंध आ सकती है। मुंह में ड्राइनेस होना भी सांस से बदबू आने का कारण बन सकता है। 

सांसों की दुर्गंध आने के कारण में लिवर और पाचन तंत्र की समस्याओं के कारण होने वाली फेफड़ों की बीमारी और मधुमेह भी शामिल है।

बच्चों में सांसों की दुर्गंध कैसे दूर करें? | बच्चों में सांसों की दुर्गंध दूर करने के घरेलू नुस्खे

सौंफ से मुंह की बदबू व सांस से आने वाली दुर्गंध को कम किया जा सकता है। इसमें मौजूद एंटी माइक्रोबियल गुण मुंह के बैक्टीरिया को खत्म कर सकते हैं। बच्चे को कुछ सौंफ के दाने चबाने के लिए दे सकते हैं। 

लौंग भी मुंह से आने वाली बदबू को दूर कर सकता है। यह खाने की वजह से मुंह से आने वाली दुर्गंध के साथ ही मुंह कै बैक्टीरिया दोनों को कम करने में कारगर साबित हो सकता है। इसकी वजह लौंग की खुशबू और इसका एंटी बैक्टीरियल प्रभाव है। बच्चे एक लौंग को कुछ देर तक मुंह में रखकर मुंह की दुर्गंध को कुछ कम कर सकते हैं।

बच्चों के मुंह से बदबू  व सांस में दुर्गंध आना
बच्चे में मुंह की दुर्गंध का प्रतिकात्मक चित्र / स्रोत – पिक्सेल्स

नींबू और पानी को बराबर मात्रा में मिक्स करके गरारे करने से मुंह की दुर्गंध दूर हो सकती है। इसमें नींबू में मौजूद एसेडिक प्रभाव मददगार माना जाता है। 

दालचीनी की छाल को गुनगुने पानी में मिलाकर गरारे करने से मुंह की दुर्गंध दूर हो सकती है। दरअसल, सिनेमिक एल्डिहाइड कंपाउंड पाया जाता है, जिससे दालचीनी में खुशबू आती है। यह खुशबू मुंह की दुर्गंध और बैक्टीरिया दोनों से छुटकारा दिला सकता है। 

बच्चों में सांसों की बदबू को रोकने के टिप्स

बच्चों में सांसों की बदबू को रोकने के टिप्स भी जरूरी है। इन बातों पर गौर करके आप बच्चों की मुंह की दुर्गंध को कुछ कम कर सकते हैं।

  • हर तीन महीने में बच्चे का टूथब्रश बदल दें
  • पेट से जुड़ी कोई समस्या हो, तो उसका इलाज जरूर करें
  • सालभर में दो से तीन बार डेंटिस्ट से चेकअप जरूर करवाएं 
  • मुंह में नमी को बनाए रखने के लिए उसे तरल पदार्थ देते रहें
  • बच्चे को तेज दुर्गंध वाला खाना देने के बाद उनका मुंह साफ करें
  • फ्लोराइड युक्त टूथपेस्ट से बच्चे को सुबह-शाम दिन में दो बार ब्रश कराएं

बच्चे में मुंह की दुर्गंध को दूर करने इतना मुश्किल भी नहीं है। आप लेख में बताए गए टिप्स और घरेलू उपचार की मदद से सांस की बदबू को दूर कर सकते हैं। अगर दुर्गंध ज्यादा दिनों तक बनी रहे, तो डॉक्टर से चेकअप जरूर करवाएं। डॉक्टर जांच करके मसूड़े में सूजन, दर्द, पेट की दिक्कत व अन्य परेशानियों का इलाज करके सांस की दुर्गंध को कम कर सकते हैं। 

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop