delivery ke baad ek nayi maa kab se apne samanya dincharya ko phir se shuru kar sakti hai

delivery ke baad ek nayi maa kab se apne samanya dincharya ko phir se shuru kar sakti hai

22 Apr 2022 | 0 min Read

Tinystep

Author | 2578 Articles

 

बच्चा होना जिंदगी के बड़े अनुभवों में से एक है | बहुत सारी खुशियां और ज़िम्मेदारियाँ इसके साथ आती हैं, तो यह कहना आसान है कि आप अपनी पुरानी दिनचर्या  को अलविदा कह सकते हैं|  यह मर्दों की जगह औरतों पर ज़्यादा प्रभाव डालता है, क्योंकि महिलाएं ही हैं जो गर्भावस्था के दौरान बच्चे को संभालती हैं और उन्हें गर्भावस्था के बाद पूरी तरह से स्वस्थ होने में  समय लगता है | बच्चा माँ और पिता के जीवन को  प्रभावित करता है |  लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि जन्म देने के बाद आप अपने पुराने दिनचर्या को वापिस नहीं पा सकते हैं| आपको अपनी पुरानी ज़िन्दगी पूरी शायद नहीं मिलेगी, लेकिन यह कुछ चीज़ें हैं जो आपको वापिस मिल सकती हैं:

1. काम करना

 

ज़्यादातर महिलाओं के लिए आराम करने का समय 6 महीने बोला जाता है | लेकिन कुछ महिलाओं को उससे पहले ही काम करने में आराम लगता है  | जिन महिलाओं को घर पर साथ और अपने ऑफिस में काम का कम दबाव मिलता है, वे माएँ काम पर वापिस जल्दी जातीं  हैं, जबकि जो महिलाएं घर पर काम करती हैं और अपना काम से नाखुश रहती हैं उन्हें वापिस काम पर जाने में समय लगता है| जो माएँ प्रसव  के कुछ महीनों बाद ही काम पर वापिस जाने का सोचती हैं, उन्हें कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि उन्हें शारीरिक रूप से कितना काम करना होगा, और उसके बाद उन्हें आराम करने का कितना टाइम मिल रहा है ?

 

2. व्यायाम

 

यह इसपर निर्भर है कि आप गर्भावस्था के पहले और बाद में कितनी तंदरुस्त हैं? अगर आपने गर्भावस्था के आंखरी दिन तक व्यायाम किया था और बच्चे को जन्म देते समय आपको आसानी हुई थी, तो आप गर्भावस्था के तुरंत बाद हल्का व्यायाम और अभ्यास भी कर सकतीं  हैं| अगर गर्भावस्था के समय आपको कुछ परेशानी हुई थी या फिर सीजेरियन हुआ और आपने उसके के दौरान ज़्यादा व्यायाम नहीं किया था, तो आपको कुछ महीनों बाद से व्यायाम शुरू करना चाहिए| अगर व्यायाम नहीं, तो आपको अपने बच्चे को बाहर घुमाने ले जाना चाहिए| बाहर जाने से आपके मन को शान्ति मिलेगी और यह व्यायाम का हिस्सा भी बन सकता है| ध्यान रखें कि आप अपने आप को थकाएं नहीं और अगर ऐसा हो, तो तुरंत रुक जाएँ या फिर व्यायाम की मात्रा को कम करें|

3. लोगों से बात करना

 

कई लोग गर्भावस्था के तुरंत बाद ही अपने दोस्तों से मिलना शुरू कर देते हैं, लेकिन माँ का अनुभव अलग  होता है| अगर गर्भावस्था से पहले आप मज़े करने वाली महिला थीं, तो जन्म देने के बाद आप शायद कुछ सालों के लिए इन सब से दूर रहेंगी| अगर आप किताबें पढ़ती  थीं, तो आप इसे वापिस शुरू करना चाहेंगी |

आख़िर में यह ज़्यादा मायने रखता है कि आपको माँ बनकर क्या चीज़ें पसंद आती हैं? अगर आपके डॉक्टर ने इन चीज़ों को करने के लिए सहमति देते है तो, गर्भावस्था के पहली वाली  दिनचर्या को वापिस निभा सकती हैं|

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop