shishu ke janm ke baad shadi ki pahli saalgirah yu manayein

shishu ke janm ke baad shadi ki pahli saalgirah yu manayein

20 Apr 2022 | 1 min Read

Tinystep

Author | 2578 Articles

 

बच्चे के जन्म से पहले सालगिरह सिर्फ आप और आपके पति के बीच का मामला होता था लेकिन अब आपको आपके बच्चे को भी शामिल करना है। तो इस बार आप सालगिरह पर क्या खास करने वाले हैं?

यह 6 क्यूट तरीकों से आप सालगिरह मना सकती हैं-

1. घर में डिनर करें

आप घर पर पति का मनपसंद खाना बनायें और रोमांस के लिए साथ में कुछ सुगन्धित मोमबत्ती जलायें। आप चाहें तो घर की छत पर भी रूफ-टॉप डिनर डेट मना सकती हैं। इसकी खासियत यह है कि आप बाहर तो जाती रहती थीं पर इस बार आपने अपना कीमती वक्त दिया खाना बनाने में और पति की पसंद का ध्यान रखा। और इस बार आपका बेबी भी आप दोनों की गोद में बारी-बारी से बैठ कर निवाले ले सकता है। इस तरह आप डिनर के साथ बच्चे का ध्यान भी रख सकती हैं।

2. पति, पत्नी को ध्यानवाद का ग्रीटिंग दें

बच्चे के विकास में माँ के साथ-साथ पिता का भी उतना ही हाथ होता है। लेकिन माँ शिशु को 9 महीने अपनी कोख में रखती है, पोषण देती है, सुरक्षा कवच बनाये रखती है। शिशु को दुनिया में लाने के लिये उसे लेबर पेन सहना पड़ता है जो की 206 हड्डियों के टूटने के समान होता है। इन सबके लिये उसे थोड़ा ऊँचा दर्जा दिया जाना कुछ गलत नहीं है क्योंकि उसने बच्चा पैदा करने में जो शारीरिक पीड़ा उठाई है आप उसका अंदाजा भी नही लगा सकते। इस कारण आपको अपनी बीवी के लिये एक प्यारा सा थैंक-यु कार्ड भेंट करना चाहिये। इसमें आप उनके लिये अपने निजी ख्याल भी लिख सकते हैं। उन्हें ख़ास महसूस होगा और वो ख़ुशी उनकी आँखों में बयान हो जायेगी।

3. कुछ देर बाहर घूमने निकल जायें

शिशु के जन्म पूर्व पति-पत्नी अक्सर वीकेंड्स पर घूमने निकल जाया करते थे किन्तु बच्चे के जन्म के बाद आपको पहले जैसा फ्रीडम नहीं मिल पाता होगा सो आप किसी भरोसेमंद को कुछ देर के लिये अपने बच्चे की देख-रेख के लिये बुला लें और कही पास घूमने चले जायें जहाँ आप और आपके पति सुकूनभरा समय बिता सकें। आप लोग सुबह निकल कर शाम को बच्चे को सुलाने से पहले घर वापस आ सकते हैं। इस बीच आपको तरोताज़गी मिल जायेगी और फिर से काम करने की शक्ति मिलेगी।

4. बेबी-वेलकम पार्टी

आप अपने नवजात शिशु को पल भर भी अकेला नहीं छोड़ना चाहतीं, तो आप उसके जन्म का ज़श्न मना सकती हैं। आप अपने ख़ास दोस्तों और घरवालों को अपने घर बुला सकती हैं और दावत दे सकती हैं। घर में स्वादिष्ट व्यंजनों के साथ मेहमानों का स्वागत करें। इस प्रकार बाहर जाने का खर्चा भी कम हो जायेगा और आप का समय भी बच जायेगा आने-जाने में। लोगों को आपके हाथ का जादू चखने का सुनहरा मौका भी मिल जायेगा।

5. फिल्म देखने जायें

शिशु के जन्म पश्चात पति-पत्नी शिशु को साथ में मूवी दिखाने ले जा सकते हैं। आज कल बच्चों को गले या पीठ से लटकाने के लिये स्लिंग बैग आ गये हैं। इस से आप का काम आसान हो जाता है। बच्चे का वज़न भी ज़्यादा नहीं लगता और आप उसे अपने दिल के करीब रख सकती हैं। इसके साथ ही आप बेबी ट्रॉली में बच्चे को सैर करा सकती हैं और मॉल घुमा सकती हैं।

6. बोलिंग या अन्य दिलचस्प चीज़ो का लुत्फ़ उठायें

शिशु के जन्म के बाद आप दोनों पति-पत्नी बाहर बोलिंग या अन्य किसी खेल खेलने के लिये निकल सकते हैं। इससे आपका पसीना बहेगा और डिलीवरी के बाद अच्छा और जोशीला व्यायाम भी हो जायेगा। खेलने कूदने से आप दोनों के बीच बात चीत होगी और प्रतिस्पर्धा भी आयेगी। आप दोनों सक्रिय बने रहेंगे और आपके कॉलेज दिनों की यादें ताज़ा हो जायेंगी। शिशु भी आप दोनों को खेलते देख मुस्कुराएगा और खुश रहेगा।

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop