stretch marks mei irritation aur uska ilaaj

stretch marks mei irritation aur uska ilaaj

18 Apr 2022 | 1 min Read

Tinystep

Author | 2578 Articles


 कुछ महिलाओं में डिलीवरी के बाद stretch marks के हिस्सों में खुजली होने लगती है। इस ब्लॉग में हम आपको इसके कारण, लक्षण और इलाज के बारे में बताएँगे।

स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks) में खुजली क्या है?

स्ट्रेच मार्क वाले स्थान पर छोटे लाल दाने निकलने को polymorphic eruption of pregnancy (PEP) कहते हैं। यह शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल सकती है जैसे की झांघें, पीठ, स्तन और हाथ। यह स्थिति हानिकारक नहीं होती है परन्तु इससे शरीर में परेशानी होती है।

PEP कब होती है?

PEP गर्भावस्था के अंतिम पड़ाव में होती है। यह शिशु के जन्म के फ़ौरन बाद भी हो सकती है। खुजली स्ट्रेच मार्क्स वाले स्थान या फिर पेट पर भी हो सकती है।

PEP के मुख्य लक्षण

i) आपकी त्वचा पर रैश आ जाते हैं

ii) त्वचा में लाल छोटे दाने

iii) कभी कभी त्वचा में छाले/फोड़े निकल आते हैं। इन्हें छूने से इनमें से पानी निकलता है।

त्वचा रोग विशेषज्ञ इसे देखकर ही पहचान जायेंगे। अगर कुछ शंका हुई तो वे आपकी त्वचा का महीन सैंपल ले सकते हैं। इसके साथ ही रक्त की कुछ बूँदें भी ले सकते हैं।

PEP के कारण

विशेषज्ञ pep का ठोस कारण जान नहीं पाए हैं। ऐसा अनुमान लगाया जाता है की यह त्वचा के अत्यधिक खिंचने के कारण होता है। यह ज़्यादातर पहले शिशु के जन्म या ट्विन बेबी के समय होती है।

PEP का इलाज

खुजली आम तौर पर अपने आप ठीक हो जाती है जब आप अपनी प्रेगनेंसी पूरी कर चुकी होंगी।

शिशु के जन्म के कुछ हफ्ते बाद इसे ख़त्म हो जाना चाहिए। परन्तु आपको डॉक्टर से चेकअप करवा लेना चाहिए ताकि कोई और परेशानी न हो।

1. ठन्डे पानी से नहाने से राहत मिलती है।

2. प्रभावित स्थान पर मॉइस्चराइज़िंग क्रीम लगाएं।

3. आप चाहें तो नारियल का तेल भी लगा सकती हैं।

4. सूती कपड़े पहनें।

5. प्रभावित स्थान को अधिक न खुजलायें क्योंकि इससे खुजली बढ़ती है।

6. परफ्यूम न लगाएं और होनी अर्ज़ी का कोई भी साधारण पाउडर न लगाएं।

7. अगर आपको ज़रूरत से ज़्यादा खुजली हो रही है तो इसके लिए डॉक्टर आपको स्टेरॉयड या एंटीहिस्टामिनिक क्रीम लगाने को दे सकते हैं।

8. अगर क्रीम का असर न हो तो अंत में आपको स्टेरॉयड की दवा लेनी पड़ेगी। लेकिन इसे गर्भवस्था के दौरान लेने से पहले सोच समझकर लीजियेगा।

9. स्टेरॉयड क्रीम को स्तन की त्वचा पर लगाने के बाद शिशु को स्तनपान नहीं करा सकते इसलिए स्तनपान के बाद ही क्रीम लगाएं।

क्या आपको भी गर्भावस्था में कोई त्वचा रोग हुआ है? तो हमें कमेंट्स में बतायें और हम आप तक उसका इलाज पहुचायेंगे ।

 

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop