गर्भावस्था और सुरक्षित इलाज

cover-image
गर्भावस्था और सुरक्षित इलाज

गर्भावस्था में महिलाओं को कई तकलीफें होती हैं

गर्भावस्था के दौरान जब आपकी तबियत ख़राब होती है तो बड़ी दिक्कत आती है | एक असमंजस की स्तिथि बन जाती है कि दवाई लें या ना लें और लें तो कौन सी और क्या उससे बच्चे को कोई नुक्सान तो नहीं होगा | परन्तु कभी कभी ऐसी परिस्थितियां उत्पन्न हो जाती हैं कि आपके अच्छे स्वस्थ्य के लिए दवाई लेना बेहद ज़रूरी हो जाता है |

 

गर्भावस्था में सामान्यतः कौन सी तकलीफों का सामना करना पड़ता है ?

गर्भावस्था में अधिकाँश महिलाओं को किसी ना किसी वजह से कोई कोई तकलीफ होना सामान्य बात है | वो इसलिए क्यूंकि गर्भावस्था में शारीरिक और हार्मोनल परिवर्तन होते ही रहते हैं | कुछ तकलीफें अपने आप ही चली जाती हैं या फिर उनका निदान घरेलु उपचार से किया जा सकता है पर कुछ समस्याएं बिना किसी दवाई के नहीं जाती | नीचे कुछ सामान्य सी समस्याओं कि व्याख्या की गयी है जो कि गर्भावस्था के समय होती हैं :

 

  • पीठ और कमर का दर्द
  • कब्ज़
  • ह्रदय में जलन अथवा एसिडिटी
  • बेहोशी सा प्रतीत होना
  • चिड़चिड़ापन अथवा असंयमिता
  • सर्दी ज़ुकाम और खांसी
  • बवासीर
  • नसों में सूजन
  • पैरों में दर्द और ऐंठन

 

कुछ महिलाओं को पहले से ही तनाव, मधुमेह, थाइरोइड, दमा और मिर्गी की समस्या होती है और वो गर्भावस्था के समय बढ़चढ़ कर आगे आती है | ऐसे समय में डॉक्टर या तो दवाएं बदल देते हैं या फिर मौजूदा दवाओं का डोसेज अथवा मात्रा में बढ़ोतरी कर देते हैं |

 

गर्भावस्था में कौन सी दवा ली जा सकती है ?

लगभग सभी दवाएं गर्भावस्था में लेने के लिए ठीक हैं बस थोड़ा उनकी मात्रा का ख्याल रखना होता है | फिर भी हम आपको एक सूची दे रहे हैं जिसमे वो सारी दवाएं हैं जो आप गर्भावस्था में अपनी तकलीफें दूर करने के लिए ले सकती हैं:

  • दर्द: Acetaminophen अथवा अस्टमीनोफेन दर्द निवारण की सबसे सुरक्षित दवा है जो गर्भावस्था में ली जा सकती है  
  • कब्ज़ : कब्ज़ से निजात पाने की सबसे बेहतर दवाओं में इसबगोल और सिल्लियम हस्क फाइबर आती है पर यदि इससे बात नहीं बने तो मिल्क ऑफ़ मैग्नीशिया, डोक्युसेट या फिर बिसकोडील भी लिया जा सकता है   
  • जलन और अपच : जलन और अपच से जल्दी छुटकारा पाने के लिए रेनिटिडिन, फमोटिडीन, अथवा कैल्शियम मैग्नीशियम कार्बोनेट का उपयोग किया जा सकता है | यदि इन्हे छोटे और कम अंतराल पर किये जाने वाले भोजन के साथ लिया जाए तो जलन की समस्या से सदा के लिए समाधान मिल सकता है |
  • सर्दी खांसी : डाईफेनहाइड्रामाइन एक एंटी अलेर्जिन है जिसे गर्भावस्था में लेना सुरक्षित होता है | यदि आप बुखार के लक्षण महसूस कर रहीं हैं या फिर बेचैनी हो रही हो तो अस्टमीनोफेन भी लिया जा सकता है
  • संक्रमण : संक्रमण के इलाज के लिए सबसे सुरक्षित दवा है पेन्सिलिन | और इसका इस्तेमाल अस्टमीनोफेन के साथ करने पर बुखार और बेचैनी का उपचार भी किया जा सकता है  
  • त्वचा पर चकत्ते : चकत्तों से निपटने के लिए घरेलु उपचार किया जा सकता है | खुजली और चकत्ते कम करने के लिए हाइड्रोकोर्टिंसोन युक्त मरहम भी उपयोग में ला सकते हैं  

पहले से चल रहे तनाव, मधुमेह, थाइरोइड दमा और मिर्गी जैसी अवस्थाओं के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें और दवा के पर्चे में बदलाव करवा लें ताकि गर्भावस्था में कोई अवरोध ना पाएं |

 

गर्भावस्था में कौन सी दवायें  सुरक्षित नहीं हैं ?

कुछ दवाएं बच्चे के विकास में बाधा डालने के लिए जानी जाती है और कुछ जन्मजात दोष पैदा कर सकती हैं | कुछ ऐसी ही दवाएं निम्नलिखित हैं जिन्हे बिना अपने डॉक्टर के कहने पर नहीं लेना चाहिए | यदि आप यह दवाइयां ले रही हैं और गर्भ धारण करना चाहती हैं तो पहले अपने डॉक्टर से विमर्श ज़रूर करें :

  • इसोट्रेटिनॉइन
  • लिसिनोप्रिल और बेनाज़ेपरिल
  • वल्प्रोइक एसिड
  • डॉक्सीसाइक्लिन और टेट्रासाइक्लिन
  • मैथोट्रक्सेट
  • वार्फरिन
  • लिथियम
  • अल्प्राजोलम और डायजेपाम
  • आइबूप्रोफेन और नेप्रोक्सेन

 

क्या गर्भावस्था में मल्टीविटामिन और हर्बल सप्लीमेंट लेना सुरक्षित रहेगा ?

केमिस्ट की दूकान से बिना डॉक्टर की पर्ची के मल्टीविटामिन या कोई हर्बल सप्लीमेंट लेना काफी सामान्य सी बात है पर इनमे से कुछ गर्भावस्था के दौरान नुक्सान पहुँचा सकते हैं |इसलिए यह ज़रूरी हो जाता है कि कोई भी मल्टीविटामिन लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श ले लें | कई डॉक्टर  आपको फोलिक एसिड के साथ मल्टीविटामिन लेने के लिए कह सकते हैं क्यूंकि इससे जन्मजात अवगुण होने का खतरा बहुत कम हो जाता है | साथ ही साथ विटामिन डी और आयरन सप्लीमेंट भी लिया जा सकता है |

 

यह ज्ञात रहे कि आपके डॉक्टर को बेहतर पता होता है कि आपके और आपके शिशु के लिए क्या सबसे सही होगा |

अस्वीकरण : यहाँ पर मौजूद सभी जानकारी पेशेवर सलाह, निदान और उपचार का विकल्प नहीं है | कुछ भी करने से पहले अपने डॉक्टर से जानकारी अवश्य लें |

 

Banner Image: americanpregnancy

 

#pregnancymustknow #hindi #garbhavastha
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!