नॉर्मल डिलीवरी के लिए अपनाएं ये ७ नुक्से

cover-image
नॉर्मल डिलीवरी के लिए अपनाएं ये ७ नुक्से

 

१. प्रेग्नेंसी एजुकेशन

 

सबसे पहले आप प्रेग्नेंसी से जुड़ी सारी जानकारियां जमा करें, क्योंकि आपको किताबों और गूगल पर  कई ऐसा बातों के बारे में पता लगेगा, जिनसे आपको डिलीवरी में बहुत मदद मिलेगी।

 

२. आहार

 

प्रेग्नेंसी में सबसे ज़रूरी है अच्छा आहार! आप जितना पोषणभरा खाएंगी, उतना ही आपके और आपके बच्चे के लिए बेहतर होगा। ध्यान रखें कि इस दौरान बहोत ज्यादा न खाये, इससे आपका वज़न बढ़ सकता है, जिससे नॉर्मल डिलवरी के चांसेस कम हो जाएंगे।;

 

३. स्ट्रेस ना लें

 

प्रेग्नेंसी के दौरान कभी भी स्ट्रेस और टेंशन ना लें। चाहे कितनी भी परेशानियां आ जाएं खुद को खुश रखें। किताबें पढ़ें, दूसरों से बात करें और हमेशा अच्छा सोचें।

 

४. शरीर में नमी बनायें रहें

 

पानी हर किसी के लिए ज़रूरी है, लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान यह और भी ज़रूरी हो जाता है। इससे आपको लेबर के दौरान होने वाले दर्द को सहने की शक्ति मिलेगी। इसी लिए सिर्फ पानी ही नहीं बल्कि ताज़े फलों का जूस और एनर्जी ड्रिंक्स भी लेती रहें।

 

५. व्यायाम

 

प्रेग्नेंसी के दौरान व्यायाम बहुत ज़रूरी है। क्योंकि इस दौरान शरीर के भारी वज़न से आपको जॉइंट्स में दर्द, अकड़न जैसी तकलीफ हो सकती है। इससे बचने के लिए किसी एक्सपर्ट के साथ व्यायाम करें। इनसे आपकी पेल्विक मसल्स और थाइज़ स्ट्रॉंग बनेंगी, जिससे आपको लेबर पेन में दर्द कम होगा। ध्यान रहे बिना एक्सपर्ट के कोई भी व्यायाम ना करें, क्योंकि छोटी-सी भूल भी आपके बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकती है।

 

६. ब्रिदिंग एक्सरसाइज़

 

सांसों की इस व्यायाम से बच्चे को भी ऑक्सीज़न पहुंचेगी। इससे आप लेबर के दौरान होने वाले दर्द को भी ज़्यादा वक्त तक सहन कर पाएंगी। इससे आपको नॉर्मल डिलीवरी में बहुत मदद मिलेगी

 

७. मालिश लें

 

प्रेग्नेंसी के आखिरी तीन महीनों में मालिश ज़रूरी है, इसीलिए आप मालिश करवाएं। इससे आपका शरीर लेबर के लिए तैयार होगा। इसके साथ लेबर के दौरान होने वाले जॉइंट्स और मसल्स दर्द में भी आपको आराम मिलेगा।

 

यह भी पढ़ें: नॉर्मल डिलीवरी चाहती हैं, तो ज़रूर करें ये एक्सरसाइज़

 

#babychakrahindi
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!