शिशु की लंगोट कैसे बदले

cover-image
शिशु की लंगोट कैसे बदले

आपका शिशु पूरी तरह से गीला तालाब और कीचड के साथ दुनिया मे आता है. शिशु का लंगोट बार बार बदलने की आवश्यकता होती है ,यह निर्भर करता है कि जब भी वह पेशाब या शोच करता है और यह भी कि उनकी त्वचा कितनी संवेदनशील है.


संवेदनशील त्वचा वाले शिशुओ मे एक ही लंगोट देर तक पहने रहने से दाने होने की संभावना होती है. और उनकी लंगोट बार बार बदलने की जरुरत होती है.


नवजात शिशुओ को प्रतिदिन 10 से 12 लंगोट बदलने की जरुरत होती है. और जैसे जैसे वे बडे होते है यह संख्या घटने लगती है.शिशुओ को अधिक लंगोट की आवश्यकता होती है ताकी समय समय पर बदल सके. अधिकतर नये माता पिता अंजान और डरे हुए रहते है क्योकी उनका यह पहला अनुभव है. आईये यहा निम्नलिखित लंगोट बदलने के लिये सुझाव दिये गये है:


आवश्यक चीजे: लंगोट बदलना शुरू करने से पहले जगह पर सभी उपयोगी चीजे एकत्रित करले. ताकी आपको इधर उधर भागने की जरुरत ना पडे. यहा चीजे दी गयी है जिनका आपके पास होना जरुरी है.

 

  • नरम और फर्म डायपर बदलने वाली चटाई.
  • रुई के साथ पानी का एक कटोरा
  • डस्ट बिन या बेग
  • नारियल तेल या डायपर दाने की क्रीम
  • एक साफ लंगोट
  • साफ कपडे

 

लंगोट बदलने के लिये जगह


चाहे आप घर मे हो या बाहर हो, आपको लंगोट बदलते समय अपने बच्चे के लिये बिछाने के लिये एक जगह या सतह की जरुरत है. घर पर आप मेज या साफ फर्श या बिस्तर का उपयोग करे. इसमे अब चटाई बिछाए और उसके उपर बच्चे को लेटाए


जब आप बाहर होते है तब डायपर बदलने के लिये मेज या सपाट फर्म सतः का इस्तेमाल करे. उसपर चटाई बिछाए, भले ही सतह साफ क्यू ना हो. आप डिसपोसेबल चटाई का इस्तेमाल भी कर सकते है.

 

लंगोट बदलना :


आपको अपने बच्चे की लंगोट पूरी तरह से बदलना चाहिए और सुखा देणी चाहिए .लंगोट बदलते वक़्त बच्चे का मनोरंजन करते रहे या अपने बच्चे से बात करते रहे.


यहा कुछ बिंदु है जिन्हे आपको लंगोट बदलते वक़्त ध्यान रखना चाहिए

 

  • यदि बच्चे को कपडे की लंगोट पहनाई है तो इसे तुरंत बदले और डिसपोसेबल लंगोट है तो उसे सावधानिपुर्वक फाड दे और बच्चे के तल हिस्से को साफ करे.
  • पूरे तल को साफ करने के लिये सूती और गर्म पानी का उपयोग करे.नीचे के भाग को सुखा ले.
  • त्वचा की परतो को भी साफ करने की जरुरत है.
  • लडकियो के लिये ध्यान से आगे से पीछे की तरफ साफ करे ताकी योनी संक्रमण ना हो.
  • लडको के लिये गोलो के साथ साथ लिंग को भी साफ करे .
  • साफ लंगोट पह्नाने से पहले तेल या डायपर रेश क्रीम का इस्तेमाल करे.


स्वच्छता बनाये रखे:

 

  • डिसपोसेबल लंगोट को निकालने के बाद तुरंत फेंक देना चाहिये.
  • चिपचिपे टेब का प्रयोग करे ताकी उन्हे बांध सके.
  • डस्ट बिन को हमेशा बाहर रखे ताकी संक्रमण और कीटाणू ना फैले
  • कपडे की लंगोट को तुरंत धो दे


अपने कम्फर्ट आधार पर चुने:


बाजार मे कई विकल्प आ गये है लंगोट के लिये. इसमे कपडे के साथ साथ डिसपोसेबल डायपर भी शामिल है. आप जो भी चुने सुनिश्चित करे कि आप साफ और स्वच्छ नियम का पालन करते हो. जब भी आप अपने बच्चे के लिये डायपर इस्तेमाल करे थोडा समय बच्चे को खाली भी रहने दे ताकी त्वचा सांस ले सके और नमी ठीक से सूख जाये.

 

यह भी पढ़ें: अपने नवजात शिशु के बारे में २९ जानने योग्य बातें

 

#babychakrahindi
logo

Select Language

down - arrow
Personalizing BabyChakra just for you!
This may take a moment!