• Home  /  
  • Learn  /  
  • प्रेगनेंसी में स्किन की देखभाल के लिए अपनाए ये घरेलु नुस्खे
प्रेगनेंसी में स्किन की देखभाल के लिए अपनाए ये घरेलु नुस्खे

प्रेगनेंसी में स्किन की देखभाल के लिए अपनाए ये घरेलु नुस्खे

10 Sep 2021 | 1 min Read

प्रेगनेंसी में स्किन प्राब्लम होना एक सामान्य समस्या है। खासतौर से गर्भावस्था के दूसरे और तीसरे महीने में शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव आते है। जिसकी वजह से चेहरे पर मुहांसे, ड्राई स्किन, काले घेरे होने लगते है। अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली इन्ही परेशानियों से जूझ रही है। तो हम आपको कुछ घरेलु नुस्खे बता रहे है जिनसे आपको फायदा मिलेगा।

Pregnancy के दौरान आम हैं त्वचा से जुड़ी कई समस्याएं

प्रेगनेंसी के समय त्वचा में समस्या होना काफी आम है। इस समय शरीर में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन का असर त्वचा पर पड़ता है, जिससे कि कुछ समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। ये समस्याए कुछ इस प्रकार है।

  • कील-मुहांसे – गर्भावस्था के समय त्वचा में सीबम का उत्पादन बढ़ जाता है। इससे पोर्स बंद होने लगते हैं। नतीजन त्वचा में कील-मुहांसें बढ़ने लगती है।
  • त्वचा का रूखा होना – प्रेगनेंसी के समय त्वचा का रूखा होना काफी आम होता है। इस वक्त गर्भवती को अधिक पानी की जरूरत होती है, क्योंकि भ्रूण को पानी की पूर्ति गर्भवती के शरीर से ही होती है। इससे शरीर डिहाइड्रेट होने लगता है, जिस कारण त्वचा रुखी हो जाती है। 
  • डार्क सर्कल्स – प्रेगनेंसी के समय महिलाओं को ठीक तरह से नींद नहीं आती है। इससे उनकी  नींद पूरी नहीं हो पाती है और आंखों के नीचे काले घेरे दिखाई देने लगते है। इसके अलावा, प्रेगनेंसी में रंग काला होना भी काफी आम होता है।
  • स्किन एलर्जी – इस समय महिलाओं की त्वचा बहुत ज्यादा संवेदनशील हो जाती है, जिससे कि त्वचा पर किसी भी सामग्री का इस्तेमाल एलर्जिक रिएक्शन कर सकता है। ऐसे में किसी भी सामग्री का उपयोग करने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।
  • स्ट्रेच मार्क्स – गर्भवस्था के समय स्ट्रेच मार्क्स दिखाई देना सामान्य है। गर्भधारण करने के बाद भ्रूण के विकास के साथ ही पेट पर खिचाव बढ़ने लगता है। इससे स्ट्रेच मार्क्स बनाने लगते हैं।

स्किन केयर के घरेलू नुस्खे

प्रेगनेंसी में चेहरे की देखभाल के लिए कई तरह के घरेलू उपायों को अपनाया जा सकता है। इससे गर्भावस्था के दौरान त्वचा की समस्याओं को दूर रखने में मदद मिल सकती है। चलिए, विस्तार से जानते हैं प्रेगनेंसी में ब्यूटी टिप्स के बारे में।

1. पानी का सेवन 

प्रेगनेंसी के समय ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीने से त्वचा की नमी को बरकरार रखा जा सकता है और इससे त्वचा का रूखापन भी दूर किया जा सकता है। साथ ही त्वचा को नमी युक्त रखने से त्वचा में चमक भी आ सकती है। इस समय एक दिन में करीब 8 से 10 गिलास पानी पीना चाहिए।

2. मुल्तानी मिट्टी 

प्रेगनेंसी के दौरान हुए मुंहासे को कम करने के लिए आप मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल कर सकते हैं। मुल्तानी मिट्टी चेहरे से तेल को साफ कर देती है। साथ ही यह तेल के उत्पादन को कम कर सकती है, जिससे कि मुंहासे की समस्या को बढ़ने से रोका जा सकता है। 

3. गुलाब जल और नींबू का रस 

गर्भावस्था के समय चेहरे पर हुए दाग धब्बे को कम करने के लिए एक समान मात्रा में गुलाब जल और नींबू के रस को मिलाकर लगा सकते हैं। गुलाब जल और नींबू का रस पिगमेंटेशन को कम करता है। इससे दाग धब्बे हल्के हो सकते हैं।

4. संतरे के छिलके का स्क्रब 

सूखे हुए संतरे के छिलके का पाउडर और गुलाब जल को मिलाकर स्क्रब तैयार कर सकते हैं। इससे चेहरे पर स्क्रब करने से मृत कोशिकाओं को हटाया जा सकता है, जिससे कि चेहरे पर निखार आ सकता है। इस स्क्रब को बनाने के लिए दो चम्मच संतरे के छिलके के पाउडर में 3 चम्मच गुलाब जल को अच्छे से मिक्स करें।

5. घरेलू उबटन 

 घरेलू उबटन तैयार करने के लिए लगभग 2 चम्मच बेसन, 1 चम्मच आटा, एक चम्मच नारियल तेल, चुटकी भर हल्दी और आवश्यकतानुसार गुलाब जल को मिला लें। अब इस उबटन को पूरे चेहरे पर लगा सकते हैं। इससे चेहरे की रंगत में सुधार होता है और नमी बनाए रखने में यह मददगार होता है। स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करके उबटन दाग धब्बों से छुटकारा दिला सकता है।

प्रेगनेंसी में त्वचा पर भूलकर न लगाएं ये चीजें

प्रेगनेंसी के समय कुछ चीजों को त्वचा पर लगाने से बचना चाहिए। ऐसे चीजों को लगाने से त्वचा को नुकसान हो सकते हैं। आइए, नीचे जानते हैं कि प्रेगनेंसी में किन चीजों से दूर रहना चाहिए।

  • इस समय केमिकल युक्त सनस्क्रीन को लगाने से बचना चाहिए। यह सूरज के नुकसानदायक किरणों से बचाव तो करता है, पर क्रीम में मौजूद केमिकल त्वचा को हानि पहुंचा सकते हैं।
  • सैलिसिलिक एसिड का इस्तेमाल त्वचा से जुड़ी कई प्रोडक्ट जैसे – बॉडीवॉश, क्लींजर और सीरम आदि में किया जाता है। यह एसिड त्वचा में समाकर उसे नुकसान पहुंचा सकता है, इसलिए जिन प्रोडक्ट में इस एसिड का उपयोग किया जाता है। उन्हें त्वचा पर न लगाएं।
  • प्रेगनेंसी के समय बेनजॉइल पेरॉक्साइड युक्त स्किन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने से बचें। यह केमिकल शरीर में आसानी से समा जाता है, जिससे कि ब्लड फ्लो हाई और सूजन हो सकती है।

प्रेगनेंसी का दौर महिलाओं के लिए एक खूबसूरत एहसास होता है। इस खुबसूरत एहसास के साथ त्वचा की सुंदरता बरकरार रखना जरूरी है। त्वचा की सुंदरता को बनाए रखने के लिए लेख में बताए गए प्रेगनेंसी में ब्यूटी टिप्स को आप आसानी से अपना सकते हैं। इससे प्रेगनेंसी में चेहरे की देखभाल करना आसान भी हो सकता है।

Related Articles:



like

4

Like

bookmark

2

Saves

whatsapp-logo

3

Shares

A

gallery
send-btn

Related Topics for you

ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop