न्यू मॉम्स के लिए 11 सेल्फ केयर टिप्स

न्यू मॉम्स के लिए 11 सेल्फ केयर टिप्स

15 Feb 2022 | 1 min Read

Mousumi Dutta

Author | 45 Articles

न्यू मॉम बनने का मतलब है पूरे दिन बच्चे को दूध पिलाना, उसका नैपी बदलना, नहलाना, बार-बार कपड़े बदलना, सुलाना- यही सब करते रहना जैसी उसकी जिंदगी बन जाती है। इन्हीं सब कारणों से डिलीवरी के बाद महिलाएं पोस्टपार्टम डिप्रेशन में चली जाती हैं। लेकिन इस डिप्रेशन से बाहर निकलने के लिए न्यू मॉम को ही जिंदगी में जो नए बदलाव हुए हैं, उसको संभालना का तरीका निकालना होगा।

असल में माँ बनने के बाद जिंदगी के सारे नियम, आदतें, सोने-उठने के तौर-तरीकों में इतना बदलाव आ जाता है कि न्यू मॉम की जिंदगी बच्चे की देखभाल में ही उलझकर रह जाती है। सच तो यह है कि बच्चे की ठीक तरह से देखभाल तभी कर सकते हैं, जब तक कि माँ शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से पूरी तरह स्वस्थ हो।

इसके लिए जिस चीज की सबसे ज्यादा जरूरत है, वह है न्यू मॉम्स के लिए सेल्फ केयर टिप्स। आज हम आपके साथ ऐसे ही कुछ सेल्फ केयर टिप्स शेयर करने वाले हैं जिनके मदद से न्यू मॉम, डिप्रेस्ड मॉम से हैप्पी मॉम बन सकती हैं।

1. आराम कीजिए- माँ के लिए जिस चीज की सबसे ज्यादा जरूरत होती है, वह है आराम। पहले की तरह माँ को 6–8 घंटे की नींद नहीं मिल पाती है। इसके लिए माँ को कुछ हफ्तों के लिए अपनी सारी जिम्मेदारियाँ घर के किसी जिम्मेदार सदस्य को सौंपने की जरूरत है ताकि वह पूरा ध्यान बच्चे पर दे सके। बच्चा जब भी सोएं, माँ भी उसी के साथ सो जाएं और आराम कर लें।

2. सहायता लीजिए- एक बात याद रखिए, आप सुपरवुमन नहीं है। अपने और बच्चे के लिए समय निकालने के लिए घर के सदस्यों की मदद लीजिए।

3. न्यूट्रिशन शामिल कीजिए- माँ को फिट एंड फाइन रखने के लिए सही मात्रा में न्यूट्रिशन देने की जरूरत है। उसके आहार में फल, साग-सब्जी से लेकर प्रोटीन और डेयरी प्रोडक्ट को रोजाना आहार में शामिल करने की जरूरत है।

4. ब्रेन को एक्टिव बनाइए- बच्चे को ब्रेस्टफीड करवाना जितना जरूरी है, उतना ही ब्रेन को बूस्ट करना। काम के बीच-बीच में पजल्स सॉल्व करें, जर्नल पढ़े, मेडिटेशन कीजिए, या मनपसंद विषय के ऊपर किताब भी पढ़ सकते हैं।

5. फिजिकल एक्सरसाइज कीजिए- डिलीवरी के बाद आप एक्सरसाइज नहीं कर सकती, यह सोचना गलत है। डॉक्टर से सलाह लेकर एक्सरसाइज, मेडिटेशन या योगासन कुछ भी कर सकती हैं।

6. खुद को प्यार कीजिए- जी हाँ, खुद को रिवार्ड दीजिए, अपने लिए ‘मी टाइम’ निकालिए। घर के बड़ों की निगरानी में कुछ समय के बच्चे को रखकर कुछ देर के लिए वाक करने बाहर जाइए, स्पा जाइए, हॉट बाथ लीजिए। ऐसा करने से आपका बॉडी रिलैक्स होगा।

7. दोस्तों के लिए समय निकालें- माँ बनने का मतलब यह नहीं कि आप दोस्तों के साथ मिलना बंद कर देंगी। अगर आप बाहर नहीं निकल पा रही हैं तो उन्हें घर पर ही बुला लें।

8. खुद को हाइड्रेटेड रखें- ऐसा नहीं कि प्रेग्नेंसी में ही सिर्फ पानी पीना चाहिए बल्कि डिलीवरी के बाद भी न्यू मॉम को 8-10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए। इससे शरीर हाइड्रेटड रहता है।

9. विटामिन की जरूरत पूरी करें- ऐसा नहीं कि गर्भावस्था में ही सिर्फ माँ को विटामिन लेने की जरूरत होती है, बल्कि डिलीवरी के बाद भी बहुत है। डॉक्टर से सलाह लेकर विटामिन को रोजाना के रूटिन में शामिल करें।

10. सजने-सँवरने की आदत डालें- खुद को सजाइएगा तो मन भी अच्छा लगेगा। हल्का-सा लिपस्टिक, आँखों में लाइनर, छोटी-सी बिंदी- क्यों, खुद पर से नजर नहीं हट रही है न।

11. शेयरिंग करना सीखें- हम खाना शेयर करने के लिए नहीं कह रहे, अपने पार्टनर के साथ अपनी रिस्पॉन्सिबिलिटी शेयर कीजिए।

बस और क्या, इन छोटे-छोटे सिंपल सेल्फ केयर टिप्स की मदद से न्यू मॉम के जिंदगी में चाहे कितनी भी बदलाव हुए हों, वह आसानी से सारी समस्याओं को संभाल सकती है।

#momcare #momhealth #newmomcare

Home - daily HomeArtboard Community Articles Stories Shop Shop