• Home  /  
  • Learn  /  
  • गर्भावस्था में नाक से खून आना क्या किसी बीमारी का है संकेत?
गर्भावस्था में नाक से खून आना क्या किसी बीमारी का है संकेत?

गर्भावस्था में नाक से खून आना क्या किसी बीमारी का है संकेत?

12 Apr 2022 | 1 min Read

Vinita Pangeni

Author | 421 Articles

गर्भावस्था में जब हम महिलाएं सभी बदलावों के साथ ढल जाती हैं, तभी कुछ डरावने पहलु सामने आते हैं। कुछ ऐसा ही नाक से खून आना भी है। अगर आपको कभी नाक से खून आने की दिक्कत नहीं हुई है, तो घबराना लाजमी है। मगर आप घबराइए नहीं, गर्भावस्था में नाक से खून आना आम है। हां, कुछ परिस्थितियों में यह घातक भी हो सकता है। चलिए, आगे इसी विषय पर चर्चा करते हैं। 

गर्भावस्था में नाक से खून आना आम क्यों है?

करीब 20.3 प्रतिशत गर्भवती महिलाएं नकसीर (epistaxis) की दिक्कत से जूझती हैं। दरअसल, प्रेग्नेंसी में शरीर के रक्त की मात्रा 40 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ जाती है और ब्लड फ्लो भी तेजी से होता है। ताकि गर्भस्थ शिशु की जरूरत को शरीर पूरी कर सके। ब्लड फ्लो बढ़ने पर शरीर की सभी रक्त वाहिकाएं भी थोड़ी चौड़ी हो जाती हैं। 

जब नाक की छोटी-छोटी नाजुक रक्त वाहिकाओं में अधिक खून पहुंचता है, तो कभी-कभी नाक से खून बह जाता है। ऐसा अधिकतर प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही (Nosebleeds in Early Pregnancy) में होता है। लेकिन, गर्भवती महिलाओं को पहले ट्राइमेस्टर के बाद भी नकसीर की दिक्कत होगी। गर्भावस्था में नाक से खून आना कभी भी हो सकता है।

प्रेगनेंसी में नाक से खून क्यों आता है? 

शुरुआती गर्भावस्था में नकसीर (Nosebleeds in Early Pregnancy) के कारण कई हो सकते हैं। ऊपर हमने रक्त की मात्रा के बढ़ने का जिक्र किया है। चलिए, आगे अन्य कारण जानते हैं।

क्या गर्भावस्था में नाक से खून आना प्रेगनेंसी के लिए दिक्कत बन सकता है?

हां, गर्भावस्था में नाक से खून आना प्रेगनेंसी में परेशानी का सबब बन सकता है। अगर नाक से बहुत ज्यादा खून बह रहा है या बार-बार नाक से खून बहता है, तो यह गर्भवती महिला और गर्भस्थ शिशु दोनों के लिए घातक साबित हो सकता है। 

इससे संबंधित एक रिसर्च पेपर में लिखा है कि तीसरी तिमाही में नाक से खून बहने के गंभीर मामलों में जच्चा-बच्चा की जान को खतरा रहता है। इसके अलावा, बार-बार नोज ब्लीडिंग होने पर गर्भवती महिला को डॉक्टर सिजेरियन डिलीवरी का निर्णय लेने की भी सलाह दे सकते हैं। 

गर्भावस्था में नाक से खून आने की समस्या से जूझने वाली महिलाओं को डिलीवरी के बाद रक्तस्राव (postpartum hemorrhage) की दिक्कत भी हो सकती है। इसी वजह से प्रेग्नेंसी में नाक से बार-बार खून बहने या लगातार 10 मिनट तक नाक से खून आने पर डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

 नाक से खून आना
प्रेग्नेंसी में नाक से खून आने की दिक्कत से परेशान महिला / स्रोत – फ्रीपिक

गर्भावस्था में नाक से खून आना कैसे रोकें? | प्रेगनेंसी में नकसीर का घरेलू इलाज

गर्भावस्था में नाक से खून आना कैसे रोकें या प्रेगनेंसी में नकसीर का घरेलू इलाज कैसे होता है सोच रहे हैं, तो आगे इस लेख को पढ़ें। नीचे घर में ही गर्भावस्था के दौरान नाक से बहते खून (nosebleeds in early pregnancy) को रोकने का तरीका बताया गया है।

  • गर्भावस्था में नाक से खून आना अगर लेटते समय शुरू हुआ तो उठकर बैठ जाएं या खड़ी हो जाएं।
  • फिर सिर को सीधा कर लें। ऐसा करने से ब्लड वेसल्स पर कम दबाव पड़ेगा और खून आना कम हो सकता है।
  • सिर को आगे-पीछे कहीं भी नहीं झुकाना है।
  • अब अंगूठे और तर्जनी उंगली की मदद से नाक को उसकी नोक के बगल से पकड़ें। 
  • इस दौरान नाक के दोनों किनारे आपस में जुड़े होंगे। नाक को ठीक उसी तरह पकड़ना है, जैसे बदबू आते समय पकड़ते हैं।
  • करीब 10 मिनट तक ऐसे ही नाक को पकड़े रखें।
  • अगर मुंह में भी खून आया है, तो उसे थूककर कुल्ला कर लें।
  • हेवी नोज ब्लीडिंग हो रही है, तो रक्त को गले तक पहुंचने से रोकने के लिए आगे हल्का झुक सकते हैं।
  • अब नाक पर आइस बैग रखकर या एक बर्फ का टुकड़ा मुंह में डालकर ब्लड वेसल्स को शांत किया जा सकता है।
  • इतना सब करते-करते जब 10 मिनट पूरे हो जाएं, तो देखें कि नोज ब्लीडिंग बंद हुई या नहीं।
  • अगर अभी भी हल्का खून आए, तो इसी प्रक्रिया को 10 मिनट तक दोबारा दोहराएं।

गर्भावस्था में नकसीर से बचाव के तरीके 

  • सही मात्रा में तरल पदार्थ पीना
  • संतरे का रस या अन्य फलों के जूस से भरपूर विटामिन सी लेना
  • नाक या साइनस की ड्राइनेस कम करने के लिए ह्यूमिडिफायर जैसे उपकरण का उपयोग करना
  • नाक पर बर्फ लगाएं या कोल्ड कंप्रेस की मदद लें
  • नाक को ज्यादा झटकने से बचें
  • घर को ठंडा रखें और हवा में नमी बनाए रखने के लिए वेपोराइजर को इस्तेमाल में लाएं
  • नाक की परत को सूखने से बचाने के लिए उसे मॉइस्चराइज करें

प्रेगनेंसी में नाक से खून क्यों आता है, यह तो आप समझ ही गए होंगे। गर्भावस्था में अधिकतर मामलों में नकसीर का इलाज करने की जरूरत नहीं पड़ती है। हां, अगर परिस्थिति गंभीर हो, तो नकसीर का इलाज करने के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। वरना नकसीर मां और बच्चे दोनों के लिए घातक साबित हो सकता है।

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop