• Home  /  
  • Learn  /  
  • शिशुओं में घमौरी या डायपर रैशेज होने पर इस तरह चुनें बेबी वाइप्स
शिशुओं में घमौरी या डायपर रैशेज होने पर इस तरह चुनें बेबी वाइप्स

शिशुओं में घमौरी या डायपर रैशेज होने पर इस तरह चुनें बेबी वाइप्स

20 Jun 2022 | 1 min Read

Ankita Mishra

Author | 408 Articles

गर्मियों के दिनों में शिशुओं में घमौरी की समस्या आम हो जाती है। इसके अलावा, शिशुओं में घमौरी के साथ ही डायपर रैशेज की समस्या भी देखी जा सकती है। हालांकि, शिशुओं में घमौरियां गंभीर नहीं मानी जा सकती है। इसलिए, घरेलू देखभाल व बेबी वाइप्स के जरिए बच्चों में गर्मियों में बच्चों को घमौरी का इलाज आसानी से किया जा सकता है। 

हालांकि, शिशुओं में घमौरी के इलाज के लिए किस तरह का बेबी वाइप्स खरीदना व इस्तेमाल करना चाहिए, इसकी सही जानकारी होनी जरूरी है। ऐसे में बेबीचक्रा इस समस्या को दूर करने के लिए लेकर आया है बांस के पानी से बना बेबी वाइप्स (BabyChakra’s Bamboo Water Wipes)। बैम्बू वॉटर वाइप्स क्यों खास है, नीचे विस्तार से पढ़ें।

शिशुओं में घमौरी क्या होती है?

शिशुओं में घमौरी
शिशुओं में घमौरी / चित्र स्रोतः फ्रीपिक

शिशुओं में घमौरी को मिलियारिया (Miliaria), प्रिक्ली हीट (Prickly Heat), हीट रैशेज (Heat Rash) व स्वीट रैशेज (Sweat Rash) भी कहा जाता है। वैसे यह किसी भी उम्र के शिशु, बच्चे व व्यक्ति को हो सकती है। हालांकि, छोटे शिशुओं में घमौरी की समस्या अधिक हो सकती है। इसके कारण उनके पीठ, पेट, गर्दन, हाथ-पैर व प्राइवेट पार्ट्स में छोटे-छोटे दाने ऊभर सकते हैं। जिनमें खुजली और जलन होती रहती है। यह खास तौर पर गर्मियों के मौसम में होने वाली उमस, धूप और पसीने के कारण हो सकते हैं। 

शिशुओं में रैशेज की समस्या होने पर डायपर रैशेज क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

शिशुओं में घमौरी के लक्षण कैसे पहचानें?

शिशुओं में घमौरी के लक्षण की पहचान करना बहुत ही आसान है, इसके लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैंः

  • शिशु के शरीर के किसी एक हिस्से या पूरे शरीर पर छोटे-छोटे आकार में दानें निकलना
  • शिशु के शरीर का तापमान सामान्य से अधिक गर्म रहना
  • शिशु का बिना किसी कारण रोना

शिशुओं में घमौरियों की समस्या के लिए नैचुरल बेबी पाउडर का इस्तेमाल करें।

बच्चों को घमौरियां होने के कारण क्या हैं?

बच्चों को घमौरियां होने के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैंः

  • गर्मी व उमस होना
  • मोटे व तंग कपड़े पहनाना
  • बच्चे का धूप में रहना
  • बच्चे को बहुत ज्यादा पसीना होना
  • बच्चे के शारीरिक स्वच्छता में लापरवाही करना
  • तेल से मालिश करने पर बच्चें को एलर्जी होना

शिशु की मालिश के लिए बेबीचक्रा बेबी मसाज ऑयल का इस्तेमाल सुरक्षित हो सकता है।

घमौरी के लिए बेबीचक्रा का बैम्बू वॉटर वाइप्स (BabyChakra Bamboo Water Wipes) क्यों है खास?

गर्मियों में बच्चों को घमौरी से राहत दिलाने और शिशुओं में घमौरी का इलाज करने के लिए पेरेंट्स बेबीचक्रा का बैम्बू वॉटर वाइप्स (BabyChakra’s Bamboo Water Wipes) इस्तेमाल कर सकते हैं। हम ऐसा क्यों कह रहे हैं, इसके पीछे रिसर्च, त्वचा विशेषज्ञों के अप्रूवल व बच्चों की स्किन के अनुसार इस्तेमाल किए गए सामग्रियों के गुण के आधार पर बता रहे हैं। 

बेबीचक्रा का बैम्बू वॉटर वाइप्स (BabyChakra’s Bamboo Water Wipes) की खासियतः

  • गर्मियों में बच्चों को घमौरी से राहत दिलाने के लिए बेबीचक्रा के बैम्बू वॉटर बेबी वाइप्स में है फाइबर, एलोवेरा, बादाम के तेल और विटामिन ई जैसे प्राकृतिक औषधियों का मिश्रण। 
  • बेबीचक्रा का बेबी वाइप्स बनाने में 99% बैम्बू वाटर का इस्तेमाल किया गया है, बच्चे की त्वचा पर चकत्ते से राहत दिला सकते हैं। 
  • यह पॉलिएस्टर (केमिकल सेंट) फ्री है, जिस वजह से बेबीचक्रा का बैम्बू वॉटर बेबी वाइप्स बच्चे की नाजुक त्वचा को नरम और चिकना बनाए रख सकती है।
  • इसमें मौजूद बादाम के तेल के गुण गर्मियों में बच्चों को घमौरी के कारण होने वाले जलन को कम कर सकते हैं और त्वचा को ठंडक प्रदान कर सकते हैं।
  • बेबीचक्रा का बैम्बू वाटर बेबी वाइप्स त्वचा विशेषज्ञों द्वारा टेस्ट किया गया है और बाल रोग विशेषज्ञों द्वारा सुरक्षित प्रमाणित भी किया गया है। 
  • यह 100% प्राकृतिक एक्टिव और ऑर्गेनिक के साथ बनाया गया है। इसमें कोई विषाक्त पदार्थ या रसायन शामिल नहीं है।

बेबीचक्रा का बैम्बू वॉटर बेबी वाइप्स (BabyChakra’s Bamboo Water Wipes) कैसे इस्तेमाल करें?

  • पैक में से बेबी वाइप्स निकालें और सीधे तौर पर शिशु की त्वचा को धीरे-धीरे साफ करें। 
  • एक बार में एक ही बेबी वाइप्स का इस्तेमाल करें। 
  • इस्तेमाल करने के बाद इसे उपयोग न दोबारा न लाएं। 
  • बेबी वाइप्स के पैक को सूखने से बचाने के लिए पैक को अच्छे से रीसील करके रखें।

गर्मियों में बच्चों को घमौरियां होना काफी सामान्य माना जा सकता है। हालांकि, अधिकतर शिशुओं में घमौरी की समस्या देखी जा सकती है। छोटे बच्चों में जहां यह गर्मी, उमस व पसीने से हो सकता है, वहीं, बड़े बच्चे अक्सर घर के बाहर दोस्तों के साथ खेलते हैं। ऐसे में उन्हें भी गर्मी, धूप और धूल के कारण घमौरियां हो जाती हैं। ऐसे में नवजात शिशुओं से लेकर बड़े बच्चों के लिए आप बेबीचक्रा का बैम्बू वॉटर बेबी वाइप्स (BabyChakra’s Bamboo Water Wipes) का इस्तेमाल कर सकती हैं।

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop