• Home  /  
  • Learn  /  
  • बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कराने के एक-दो नहीं, बल्कि कई हैं फायदे
बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कराने के एक-दो नहीं, बल्कि कई हैं फायदे

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कराने के एक-दो नहीं, बल्कि कई हैं फायदे

6 Apr 2022 | 1 min Read

Ankita Mishra

Author | 279 Articles

स्वास्थ्य बीमा या हेल्थ इंश्योरेंस का नाम सुनते ही कुछ लोगों के मन में फिजूलखर्ची का पर्याय बन जाता है। पर बता दें कि स्वाथ्य बीमा कई फायदे के सौदे के साथ भरा हुआ है। यही वजह है कि मातृत्व बीमा से लेकर बच्चों का स्वास्थ्य बीमा भी अवश्य कराना चाहिए। 

अगर आपने अभी तक अपने बच्चों का स्वास्थ्य बीमा नहीं कराया है या बच्चों के लिए बीमा शुरू करने की योजना बना रहे हैं, तो यहां पढ़ें बच्चों के लिए स्वास्थ्य बीमा के फायदे विस्तार से।

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा क्यों कराएं?

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा क्यों कराना चाहिए, इसके कुछ मुख्य कारक हम नीचे बता रहे हैं, जैसेः

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा
बच्चों का स्वास्थ्य बीमा / चित्र स्रोतः फ्रीपिक

1. बच्चों की कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली

बच्चों की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती है और यह धीरे-धीरे बढ़ती उम्र के साथ विकसित करती रहती है। ऐसे में बच्चे के शरीर में बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी सीमित हो सकती है, जिस वजह से बच्चे वायरल संक्रमण के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाते हैं। ऐसे में स्वास्थ्य के इलाज में बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कवरेज दे सकता है।

2. दुर्घटनाएं 

वयस्कों की तुलना में छोटे बच्चों में दुर्घटना के प्रति सजगता कम होती है। ऐसे में बच्चों के साथ दुर्घटना होने की संभावनाएं भी अधिक हो सकती है, जिसके इलाज में भी स्वास्थ्य बीमा कवरेज दे सकता है।

3. स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का जोखिम

इतना ही नहीं, अगर बच्चे में कोई जन्मजात बीमारी है या भविष्य में उन्हें कोई छोटी-मोटी या गंभीर बीमारी होती है, तो इसके इलाज में लगने वाले वित्तीय खर्च में भी बच्चों के लिए बीमा लाभकारी हो सकता है। 

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कराने के फायदे (Child Health Insurance Plans Ke Fayde in Hindi)

न सिर्फ बच्चों के स्वास्थ्य देखभाल की जरूरतों के अनुसार, आर्थिक रूप से बच्चे की परवरिश में मदद करने में भी स्वास्थ्य बीमा कवरेज लाभकारी होते हैं। बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कराने के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं, नीचे पढ़ें।

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा
बच्चों का स्वास्थ्य बीमा / चित्र स्रोतः फ्रीपिक

1. वित्तीय सुरक्षा

अगर पेरेंट्स आर्थिक रूप से कमजोर हैं, वे बच्चे की बीमारी का खर्च पूरा नहीं कर सकते हैं, तो ऐसे में बच्चों के लिए बीमा लाभकारी हो सकता है। मेडिकल इंश्योरेंस के जरिए पेरेंट्स विभिन्न तरह के स्वास्थ्य संबंभी बीमारियों का इलाज करा सकते हैं, जिसमें आर्थिक तौर पर वे चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस का लाभ ले सकते हैं। 

2. सबसे अच्छे इलाज के लिए प्रोत्साहन करे

जाहिर सी बात है कि कोई भी परिवार अपनी आर्थिक स्थिति को देखते हुए ही फैसले तय करता है। ऐसे में अगर बच्चे का कोई इलाज कराना हुआ, तो वे अपनी आर्थिक क्षमता के अनुसार ही उसके लिए इलाज तय कर सकते हैं। वहीं, चाइल्ड इन्शुरन्स पॉलिसी में ऐसा नहीं है। चाइल्ड इन्शुरन्स पॉलिसी सभी बच्चे को बेहतर से बेहतर इलाज कराने में आर्थिक तौर पर एक सामान्य मदद कर सकती है। 

3. छोटी-मोटी बीमारियों से गंभीर इलाज का भी कवरेज मिले

चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस न सिर्फ छोटी-मोटी बीमारी के इलाज में मदद कर सकती है, बल्कि गंभीर बीमारी के इलाज के कवरेज में भी मदद कर सकती है। इसके अलावा, अगर बच्चे का चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस हुआ है, तो पेरेंट्स को अस्पताल का बिल, दवाओं के खर्च व डॉक्टर से मिलने की फीस की चिंता करने की भी आवश्यकता नहीं हो सकती है। 

इस तरह के विभिन्न खर्चों को आर्थिक तौर पर चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस यानी बच्चों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतगर्त कवर किया जा सकता है। 

4. वित्तीय चिंता दूर करे

बच्चे के बेहतर इलाज के लिए हर पेरेंट्स को आर्थिक तौर पर चिंता हो सकती है। वहीं, अगर पेरेंट्स ने चाइल्ड प्लान के तहत चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस लिया हुआ है, तो वे इस चिंता से मुक्त हो सकते हैं। बच्चे के बीमार होने पर वे आर्थिक चिंता को छोड़कर सिर्फ बच्चे के बेहतर इलाज पर अधिक जोर दे सकते हैं।

5. कम प्रीमियम

बाल स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए बीमा प्रीमियम कम तय किया गया है। इसके अलावा, अलग-अलग बीमा पॉलिसी कंपनियों ने बच्चे के लिए स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के लिए कई तरह के स्कीम जारी किए हुए हैं। इनमें से पेरेंट्स अपने आर्थिक बजट को देखते हुए बाल स्वास्थ्य बीमा का चयन कर सकते हैं। 

6. अतिरिक्त लाभ

बाल स्वास्थ्य बीमा योजना न सिर्फ दुर्घटना को कवर करती है, बल्कि बच्चे के लिए आहार संबंधी सलाह, विशेषज्ञ परामर्श और अन्य स्वास्थ्य देखभाल से जुड़े मुद्दे को भी आर्थिक कवरेज देती है।

7. समय-सयम पर छूट

पेरेंट्स चाइल्ड इन्शुरन्स पॉलिसी के लिए प्रोत्साहित हो, इसके लिए बीमा कंपनियां समय-समय पर लुभावने छूट व डिस्काउंट के ऑफर भी देती रहती हैं। ऐसे में पेरेंट्स कम निवेश में अपने बच्चे के लिए महंगे हेल्थ इंश्योरेंस का चुनाव भी कर सकते हैं। 

8. खरीदारी में आसानी

बच्चों के लिए स्वास्थ्य बीमा कौन सी लेनी चाहिए, इसके लिए कई तरह के स्वास्थ्य बीमा मौजूद हैं। जिन्हें पेरेंट्स बच्चे के स्वास्थ्य स्थिति व अपनी आर्थिक स्थिति का ध्यान रखते हुए खरीद सकते हैं। इसके अलावा, बच्चों के लिए स्वास्थ्य बीमा कराने के लिए पेरेंट्स या बच्चों को परेशान भी नहीं होता है। सारी सुविधाएं ऑनलाइन मौजूद हैं, जिनका लाभ बस एक क्लिक पर लिया जा सकता है। 

बच्चों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजनाओं के प्रकार

मुख्य तौर पर बच्चों के लिए दो प्रकार की स्वास्थ्य बीमा योजनाएं हैं, जिनमें शामिल हैं:

1. व्यक्तिगत योजनाएं (Individual Plans) 

इस प्रकार के हेल्थ इंश्योरेंस व चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस में सिर्फ बच्चे से संबंधित कवरेज को ही शामिल किया जाता है। 

2. फैमिली फ्लोटर प्लान्स (Family Floater Plans)

इस प्रकार के हेल्थ इंश्योरेंस व चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस में बच्चे के साथ ही, परिवार के अन्य सदस्यों के स्वास्थ्य इलाज का कवरेज भी शामिल किया जाता है।

बाल स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ कैसे लिया जा सकता है?

हेल्थ इंश्योरेंस या बाल स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ उठाने के तरीके नीचे बताए गए हैं:

  • बच्चे के इलाज के लिए बीमाकर्ता से जुड़े किसी भी अस्पताल में जा सकते हैं। 
  • इलाज के खर्च के लिए कैशलेस क्लेम सुविधा का उपयोग कर सकते हैं या बिल का भुगतान करने के बाद बीमा कंपनी से बिल के पैसे क्लेम कर सकते हैं। 
  • बाल स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत आपातकालीन और नियोजित दोनों ही तरह के उपचार के लिए अस्पताल जा सकते हैं।
  • अगर बच्चे का इलाज करने की योजना पहले से ही तय है, तो कम से कम से 4 दिन पहले बीमाकर्ता को इस बारे में जानकारी देनी होती है। 
  • वहीं, अगर आपातकालीन उपचार के लिए बच्चे का इलाज करना है, तो बच्चे के एडमिट कराने के लिए बीमाकर्ता का बताया जा सकता है।
  • यहां तक कि अगर बच्चे का इलाज किसी बीमा पॉलिसी से संबंधित अस्पताल में न कराया जाए, तो भी पेरेंट्स इलाज में खर्च हुए पूरे पैसे का क्लेम कर सकते हैं। इसके लिए, उन्हें अस्पताल व इलाज से संबंधित दस्तावेजों की जरूरत हो सकती है।

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा खरीदने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

बच्चों का स्वास्थ्य बीमा खरीदने से पहले पेरेंट्स को निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए, जैसेः

  • बच्चों के लिए बीमा पॉलिसी का कवरेज कितना है।
  • चाइल्ड हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने के लिए प्रिमियम कितना देना होगा। 
  • बच्चों के लिए स्वास्थ्य बीमा कितने वर्षों तक मान्य रहेगी।
  • चाइल्ड इन्शुरन्स पॉलिसी के तहत किस तरह की बीमारियों व इलाज के खर्च को शामिल किया जा सकता है।
  • चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस प्लान कैशलेस सुविधा प्रदान करती है या नहीं।
  • चाइल्ड मेडिकल इंश्योरेंस की कुल देय राशि कितनी होगी।

चाइल्ड इन्शुरन्स पॉलिसी या बच्चों का स्वास्थ्य बीमा कई तरह से बच्चे व पेरेंट्स के लिए आर्थिक रूप से मददगार माना जा सकता है। तो अगर आपने अभी तक अपने बच्चों के लिए बीमा नहीं लिया है, तो जल्द ही इसे लेने का विचार बना सकते हैं और चाइल्ड प्लान का लाभ ले सकते हैं।

Home - daily HomeArtboard Community Articles Stories Shop Shop