डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल कैसे करें

डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल कैसे करें

10 Mar 2022 | 1 min Read

Ankita Mishra

Author | 279 Articles

गर्भावस्था का पूरा चरण महिलाओं के लिए न सिर्फ मानसिक बदलावों से भरा होता है, बल्कि वह कई शारीरिक बदलवाओं से भी गुजरती हैं। इन शारीरिक बदलावों का असर त्वचा की सेहत पर कई बार गहरा पड़ता है। ऐसे में इन बदलावों से बाहर आने के लिए डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल करनी जरूरी हो जाती है। प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं और अधिक न बढ़ें व उन्हें कैसे कंट्रोल करें, इसमें टिप्स और घरेलू नुस्खें आपकी मदद कर सकते हैं। 

प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं क्या हैं?

डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
एक्ने की समस्या/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

डिलीवरी या प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं कई तरह की हो सकती हैं। इनमें से अधिकतर समस्याएं एस्ट्रोजन व प्रोजेस्टेरोन हार्मोन में बदलाव के कारण हो सकते हैं, जैसेः

  • स्ट्रेच मार्क्स – यह त्वचा पर धारीदार रेखाओं की तरह होती हैं। आमतौर पर यह पेट, कमर, जांघों और कभी-कभी स्तनों के नीचे भी हो सकता है।
  • एक्जिमा – यह एक तरह की स्किन एलर्जी हो सकती है, जिसमें त्वचा पर जगह-जगह पर रूखे पैचेस दिखाई दे सकते हैं। कभी-कभार यह लाल खुजलीदार दानों की समस्या के साथ भी हो सकता है। 
  • रूखी त्वचा – रूखी त्वचा होने पर चेहरे पर जगह-जगह ड्रैंडफ की तरफ पैचेस दिखाई दे सकते हैं। साथ ही चेहरे का निखार भी कम हो सकता है।
  • रंजकता – प्रसव के बाद चेहरे पर रंजकता (पिगमेंटेशन या झाईयां) हो सकती है। यह चेहरे पर काले व सफेद पैचेस के रूप में देखे जा सकते है।
  • आंखों के नीचे काले घेरे व मुहांसें – डार्क सर्कल व एक्ने को भी प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं मानी जा सकती हैं।

डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल करने के घरेलू उपाय

प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं जहां कुछ हद तक हार्मोन असंतुलन की वजह से हो सकती हैं, वहीं कुछ समस्याएं गलत तरीके से स्किन केयर करने व खराब-खानपान की वजह से भी हो सकती हैं। ऐसे में डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल करने के लिए यहां बताए गए घरेलू उपाय इस समस्या को कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं।

  1. एलोवेरा जेल
डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
एलोवेरा जेल/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

एलोवेरा जेल में एंटीबैक्टीरियल व एंटीइंफ्लामेट्री गुण होते हैं, जो बैक्टीरिया के कारण होने वाले मुहांसों व सूजन को खत्म करने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, एलोवेरा में एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं, जो त्वचा पर संक्रमण को रोकने में मदद कर सकते हैं। 

इस्तेमाल का तरीका

  • दिन में दो बार चेहरे पर फ्रेश एलोवेरा जेल लगाएं।
  • या किसी भी भरोसेमंद ब्रांड का एलोवेरा जेल युक्त, सीरम, मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करें।
  1. नींबू
डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
नींबू/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

प्रसव के बाद चेहरे पर रंजकता या झाईयां हटाने के घरेलू उपाय में नींबू का इस्तेमाल न्यू मॉम्स कर सकती हैं। दरअसल, नींबू में विटामिन सी होता है, जो त्वचा पर डिपिगमेंटेशन का प्रभाव दिखा सकता है। इससे यह कहा जा सकता है कि प्रसव के बाद चेहरे पर रंजकता की समस्या दूर करने में नींबू मददगार हो सकता है। 

इस्तेमाल का तरीका

  • एक कप में तीन चम्मच नींबू का रस व दो चम्मच सादा पानी मिलाएं।
  • कॉटन बॉल की मदद से इसे पूरे चेहरे पर अच्छे से लगाएं।
  • सूखने के बाद सादे पानी से चेहरा धो लें। 
  • फिर चेहरे पर मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करें।
  1. हल्दी 
डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
हल्दी पाउडर/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

गर्भावस्था के बाद चेहरे पर काले धब्बे हटाने के लिए न्यू मॉम्स हल्दी का इस्तेमाल कर सकती हैं। हल्दी में करक्यूमिन नामक कंपाउंड होता है, जो एंटी एजिंग एजेंट के रूप में काम कर सकता है। इससे एजिंग की प्रक्रिया धीमी हो सकती है। इसके अलावा, हल्दी में त्वचा के निशान को कम करने का भी प्रभाव देखा गया है। यानी हल्दी के इस्तेमाल से झुर्रियों, काले घेरे, स्ट्रेच मार्क्स जैसे समस्याओं से राहत मिल सकता है।

इस्तेमाल का तरीका

  • एक चम्मच हल्दी पाउडर में गुलाब जल मिलाकर इसका पेस्ट बना लें।
  • फिर फेशवॉस करके इसे चेहरे पर लगाएं।
  • 30 मिनट बाद हल्के हाथों से इसे रगड़कर कर साफ कर लें।
  • फिर सादे गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। 
  • ऐसे सप्ताह में एक से दो बार कर सकती हैं।
  1. शहद
डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
शहद/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

गर्भावस्था के बाद चेहरे पर काले धब्बे की समस्या स्किन के निखार को कम कर सकती है। ऐसे में चेहरे पर शहद का इस्तेमाल किया जा सकता है। पारंपरिक तौर पर शहद का उपयोग स्किन को ग्लोइंग बनाने में किया जाता रहा है। ऐसे में प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं कम करने में शहद भी उपयोगी साबित हो सकता है।

इस्तेमाल का तरीका

  • गुनगुने पानी से चेहरा धोएं।
  • फिर चेहरे पर शहद का लेप लगाएं।
  • 20 मिनट बाद सादे पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में एक से दो बार ऐसा किया जा सकता है।
  1. नारियल तेल
डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
नारियल तेल/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

गर्भावस्था के बाद ढीली त्वचा की समस्या को दूर करने के लिए नारियल तेल का उपयोग करना लाभकारी हो सकता है। दरअसल, शोध के अनुसार, नारियल तेल को स्किन को टाइट करने के उपाय में शामिल किया जा सकता है। इसके गुण त्वचा में कोलेजन के उत्पादन को बढ़ा सकते हैं और चेहरे की इलास्टिन को भी मजबूत कर सकते हैं। इसी वजह से नारियल तेल के फायदे गर्भावस्था के बाद ढीली त्वचा में कसाव लाने में मदद कर सकते हैं।

इस्तेमाल का तरीका

  • नहाने से दो घंटे पहले साफ चेहरे पर गुनगुना नारियल तेल लगाकर मसाज करें।
  • हफ्ते में दो से तीन बार ऐसा कर सकती हैं।
  • ध्यान रखें चेहरे पर अधिक समय तक के लिए नारियल का तेल न लगा रहने दें, क्योंकि धूल-मिट्टी के कण आसानी से इसमें चिपक सकते हैं।
  1. शिया बटर या कोकोआ बटर 
डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल
शिया बटर/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

प्रसव के बाद खिंचाव के निशान कम करने में शिया बटर और कोकोआ बटर का इस्तेमाल किया जा सकता है। इनमें दाग-धब्बे हल्के करने के साथ ही हीलिंग गुण एंटी-स्ट्रेचिंग गुण भी होते हैं, जो मार्क्स के निशान हल्के करने में मदद कर सकते हैं।

इस्तेमाल का तरीका

  • नियमित रूप से प्रसव के बाद खिंचाव के निशान पर शिया बटर या कोकोआ बटर लगाकर मसाज करें। 
  • 2 घंटे बाद पानी से धो लें।

डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल करना उतना ही जरूरी है, जितना की माँ और शिशु के स्वास्थ्य की। आमतौर पर प्रसव के बाद नई माँ कई तरह की जिम्मेदारियों में व्यस्त हो सकती हैं, जिस वजह से प्रसव के बाद त्वचा की समस्याएं उन्हें गंभीर नहीं लग सकती है। हालांकि, समय के साथ अगर प्रसव के बाद चेहरे पर रंजकता या प्रसव के बाद खिंचाव के निशान को कम न किया जाए, तो इनकी समस्या लंबे समय तक बनी रह सकती है। उम्मीद है यहां बताए गए घरेलू उपाय आपको गर्भावस्था के बाद चेहरे पर काले धब्बे समेत गर्भावस्था के बाद ढीली त्वचा से भी छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होंगे।

Home - daily HomeArtboard Community Articles Stories Shop Shop