• Home  /  
  • Learn  /  
  • प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए
प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए

प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए

30 Jun 2022 | 1 min Read

Ankita Mishra

Author | 408 Articles

गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए (Pregnancy me sex), इसे लेकर हर किसी के मन में सवाल होता है। इसी से जुड़ी जानकारी बेबीचक्रा के इस लेख में दी गई है। यहां प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, इससे जुड़ी जानकारी विस्तार से दी गई है। तो स्क्रॉल करे और पढ़ें प्रेग्नेंसी के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए, इसके बारे में विस्तार से।

वाइफ प्रेग्नेंट है, कितने महीने तक सेक्स कर सकते हैं?

गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए (Pregnancy me sex), इस पर रिसर्च में यह बताया गया है कि गर्भावस्था के 28वें सप्ताह यानी सातवें और आठवें महीने तक शारीरिक संबंध बनाना सुरक्षित हो सकता है। हालांकि, प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए, यह गर्भवती महिला के स्वास्थ्य, गर्भावस्था की स्थिति और स्त्री रोग विशेषज्ञ की सलाह के अनुसार ही तय किया जा सकता है।

क्या गर्भावस्था के दौरान सेक्स सुरक्षित है? (Is Sex Safe During Pregnancy in Hindi)

गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए
प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

हां, गर्भावस्था के दौरान शारीरिक संबंध बनाना (Pregnancy me sambandh bana sakte hai) सुरक्षित माना जा सकता है। पर यह पूरी तरह से गर्भावस्था के चरणों, गर्भवती महिला के स्वास्थ्य व शारीरिक संबंध बनाने के तरीकों पर निर्भर कर सकता है। साथ ही, गर्भावस्था में सेक्स (Pregnancy me sex) करने से पहले स्त्री रोग विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

दरअसल, गर्भ के अंदर शिशु एम्नियोटिक द्रव से भरी थैली के अंदर होता है, जो गर्भाशय की मांसपेशियों से घिरी होती है। वहीं, अगर इस दौरान शारीरिक संबंध बनाने में किसी तरह की गलती की जाए, तो यह थैली फट सकती है, जिससे प्रेग्नेंसी में सेक्स करना (Pregnancy me sex) जोखिम भरा हो सकता है। इसलिए, डॉक्टर की सलाह लेनी जरूर होती है।

​प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स के लाभ (Benefits of Sex During Pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था में सेक्स करना सुरक्षित है या नहीं व गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए, इसके बारे में लेख में ऊपर जान ही चुके हैं। अब ​प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स के लाभ (Pregnancy me sex) पर एक नजर डालते हैं। यहां हम गर्भावस्था के दौरान संभोग से होने वाले लाभ बता रहे हैं, जो इस प्रकार हैं:

  • लेबर को प्रेरित करे
  • नींद की परेशानी दूर करे 
  • रक्त संचार बेहतर करे
  • श्रोणि व योनि की मांसपेशियां मजबूत बनाए
  • रक्तचाप का स्तर सामान्य बनाए
  • तनाव व एंग्जाएटी जैसी मानसिक समस्याओं के लक्षण कम करे

प्रेग्नेंसी के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए (For How Many Days Sex is Safe During Pregnancy)

प्रेग्नेंट होने के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए (Pregnancy me sambandh bana sakte hai), इसे लेकर कोई सटीक शोध नहीं है। पर विशेषज्ञों के अनुसार, गर्भावस्था में शुरुआती 3 महीनों यानी पहली तिमाही में संबंध बनाने से बचाव करना चाहिए। 

दरअसल, गर्भधारण करने के बाद के शुरुआती तीन महीनों में भ्रूण का विकास सबसे तेजी से होता है। ऐसे में उसके उचित विकास में किसी तरह की बाधा न आए, इसका ध्यान रखते हुए शारीरिक संबंध बनाने से परहेज करना चाहिए।

इसके अलावा, नौवें यानी गर्भावस्था के आखिरी हफ्तों के दौरान भी गर्भवती महिलाओं को शारीरिक संबंध बनाने से बचाव करना चाहिए। 

प्रेग्नेंसी में सेक्स कैसे करे (How to Sex During Pregnancy in Hindi)

प्रेग्नेंसी में सेक्स करना (Pregnancy mein sex kaise karen) सुरक्षित माना जा सकता है। हालांकि, इस दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। खासतौर पर प्रेग्नेंसी में सेक्स करते समय उन सेक्स पोजीशन से बचना चाहिए (Pregnancy mein sex kaise kare), जिससे गर्भवती महिला के पेट पर दबाव बने या भार पड़े। ऐसे में प्रेग्नेंसी के हर महीने में किस तरह के सेक्‍स पोजीशन से शारीरिक संबंध का आनंद लिया जा सकते हैं, इसके लिए नीचे कुछ सुरक्षित संभोग के पोजीशन बताए गए हैं।

प्रेग्नेंसी में सुरक्षित शारीरिक संबंध बनाने वाले पोजीशन कौन से हैं? (Safe Sex Positions during Pregnancy in Hindi)

गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए
गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए/चित्र स्रोत: फ्रीपिक

प्रेग्नेंसी में बढ़ते पेट के आकार के कारण गर्भावस्था में संभोग करना असुविधाजनक व असुरक्षित हो सकता है। ऐसे में अगर गर्भावस्था में सुरक्षित सेक्स करना (Pregnancy me sex) चाहते हैं, तो पेट पर कम दबाव वाले सेक्स पोजीशन को अपनाया जा सकता है। इसके लिए नीचे बताए गए सुरक्षित यौन स्थिति (Pregnancy mein sex kaise kare) का ध्यान रख सकते हैंः

  • वुमन ऑन टॉप पोजीशन
  • स्पूनिंग पोजीशन
  • एज ऑफ द बेड पोजीशन
  • घुटनों के बल या डॉग स्टाइल 
  • सिटिंग डाउन पोजीशन
  • रिवर्स काउगर्ल सेक्‍स 

साथ ही, किसी भी तरह के सुरक्षित शारीरिक संबंध बनाने के दौरान तकियों का इस्तेमाल करें। इससे शारीरिक रूप से जख्मी होने की संभावना को कम किया जा सकता है।

​प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स को बनाएं आनंददायक इन टिप्स से (Tips for Sex During pregnancy)

शारीरिक संबंध बनाने से काफी हद तक मानसिक तनाव को कम किया जा सकता है। साथ ही, साथी के साथ सुखद पल की यादें और रिश्तों को मजबूत भी बनाया जा सकता है। हालांकि, कुछ परिस्थितियों में ​प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना जोखिम भरा बन सकता है। ऐसे में अगर ​प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से डॉक्टर ने परहेज किया हो, तो इन तरीकों से भी ​प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स का आनंद लिया जा सकता है, जैसेः

  • साथी को कडलिंग करना
  • रोमांटिक मूवी देखना
  • डिनर पर जाना
  • चैट या फोन सेक्स करना
  • रोमांटिक बातें करना
  • घर पर ही स्पेशल लंच या डिनर बनाना
  • बेडरूम को रोमांटिक लुक में सजाना

प्रेग्नेंसी में कब नहीं करना चाहिए सेक्स? (When to Avoid Sex during Pregnancy in Hindi)

कुछ परिस्थितियों में प्रेग्नेंसी में सेक्स करने से बचना चाहिए, जैसेः

  • जुड़वा या मल्टीपल प्रेग्नेंसी होने पर
  • पिछली गर्भावस्था में संभोग के दौरान गर्भपात का इतिहास होना पर
  • गर्भवती महिला के पेट या गर्भाशय में दर्द व ऐंठन होने पर
  • यौन संक्रमण होने पर
  • यौनि से डिस्चॉर्ज होने पर
  • सेक्स में रुचि की कमी होने पर
  • बेचैनी होने पर
  • पिछली गर्भावस्था के दौरान सिजेरियन डिलीवरी होने पर
  • इसके अलावा, प्रेग्नेंट होने के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए और प्रेग्नेंसी में कब तक संबंध बनाना चाहिए, इसका भी ध्यान रखना चाहिए। इस बारे में डॉक्टर की उचित सलाह लेनी जरूर है।

  महत्वपूर्ण जानकारी – सिजेरियन डिलीवरी के बाद कब संबंध बनाना चाहिए

क्‍या शुरू के 3 महीनों में सेक्‍स करना मिसकैरेज का कारण बनता है? (Does Sex in First 3 Months Of Pregnancy Leads to Miscarriage in Hindi)

सीधे तौर पर ऐसा दावा नहीं किया गया है कि शुरू के 3 महीनों में सेक्‍स करना मिसकैरेज का कारण बन सकता है। हालांकि, जैसा कि यह पहले भी बता चुके हैं कि गर्भावस्था के शुरुआती तीन महीनों में भ्रूण का विकास चरम पर होता है। ऐसे में गर्भ में भ्रूण के विकास में बाधा न आए, इससे बचाव करने के लिए पहली तिमाही में सेक्स करने से परेहज करना सुरक्षित माना जा सकता है। 

सारांश

इस लेख में आप प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए, यह तो जान ही चुकी हैं। एक बात का ध्यान रखें कि गर्भवती महिला को कब तक संबंध बनाना चाहिए (Pregnancy me sex), यह गर्भावस्था के चरणों के साथ ही गर्भवती महिला के मानसिक स्थिति पर भी निर्भर करता है। अगर गर्भवती महिला इस दौरान संभोग करने में समर्थ हैं और सुविधाजनक महसूस करती हैं, तो ही शारीरिक संबंध बनाने का फैसला लिया जा सकता है। साथ ही, प्रेग्नेंट होने के बाद कितने महीने तक करना चाहिए (Pregnancy mein sex kaise kare), इस बारे में भी स्त्री रोग विशेषज्ञ की उचित सलाह भी लेनी चाहिए।

like

14

Like

bookmark

2

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop