• Home  /  
  • Learn  /  
  • First period after pregnancy: डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड शुरू होता है?
First period after pregnancy: डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड शुरू होता है?

First period after pregnancy: डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड शुरू होता है?

1 Sep 2022 | 1 min Read

Mousumi Dutta

Author | 98 Articles

प्रेगनेंसी के दौरान ग्लोइंग स्किन, शाइनी हेयर की प्रंशसा मिलने के साथ नौ महीने पीरियड्स के परेशानी से आजादी डिलीवरि के बाद सब खत्म हो जाता है। डिलीवरी के बाद जिस बात को लेकर महिलाएं सबसे ज्यादा टेंशन में रहती हैं, वह है डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड शुरू (First period after pregnancy) होता है। 

डिलीवरी के बाद पीरियड्स आने पर क्या इसका असर ब्रेस्टमिल्क पर पड़ता है और क्या सिजेरियन डिलीवरी बाद पीरियड होने पर उसमें कोई बदलाव आता है। शायद आप सोच रहे होंगे कि वजाइनल डिलीवरी के बाद भी क्या सिजेरियन डिलीवरी की तरह पीरियड्स आने पर वही लक्षण महसूस होते हैं? चलिए ऐसे अनगिनत सवालों के बारे में आगे हम बात करते हैं। 

सिजेरियन डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड आता है। When will my period return after cesarean delivery in Hindi

आम तौर पर ब्रेस्टफीड नहीं करवाने पर डिलीवरी के बाद (First period after pregnancy) छह से आठ हफ्ते के बाद पीरियड आ जाता है। यदि आप ब्रेस्टफीड कराती हैं, तो पीरियड वापस आने का समय अलग-अलग  हो सकता है। जो लोग एक्सक्लूसिव ब्रेस्टफीडिंग करवातीं हैं वह स्तनपान का अभ्यास करते हैं, हो सकता है कि उन्हें स्तनपान कराने के पूरे समय तक मासिक धर्म न हो।

जो महिलाएं ब्रेस्टफीड करवाती हैं उनके पीरियड्स जल्दी नहीं आते हैं, यह शरीर में हॉर्मोनल चेंजेस के कारण होता है। प्रोलैक्टिन, स्तन के दूध का उत्पादन करने के लिए आवश्यक हार्मोन है, प्रजनन हार्मोन को सप्रेस कर देता है।

क्या ब्रेस्टमिल्क में पीरियड्स होने पर कोई असर पड़ता है। Will period effect breastmilk?

पीरियड्स होने पर शरीर में जो हॉर्मोनल चेंजेस होती हैं उसका असर ब्रेस्टमिल्क पर पड़ता है। हार्मोनल बदलाव के कारण दूध की संरचना और स्वाद में बदलाव आ सकता है। इसके अलावा दूध की आपूर्ती में भी कमी आ सकती है। 

डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड आता है/ चित्र स्रोत: पिक्सेल

सिजेरियन डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड आता है और उनमें क्या बदलाव होता है। How period be different after cesarean delivery in Hindi

डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड शुरू होता है, (First period after pregnancy) यह तो आप जान गए लेकिन क्या प्रेगनेंट होने के पहले पीरियड जैसा होता था वैसा डिलीवरी के बाद भी होगा? तो जवाब है नहीं। सिजेरियन डिलीवरी के बाद पीरियड्स आने पर कुछ बदलाव नजर आएंगे-

  • पेट में ऐंठन ज्यादा भी हो सकता है और पहले से कम भी हो सकता है
  • छोटे-छोटे ब्लड क्लॉट्स
  • हेवी फ्लो
  • फ्लो कभी शुरू होता है और कभी बंद
  • अनियमित मासिक धर्मचक्र

प्रेगनेंसी के पहले ज्यादा ब्लीडिंग होता था, उससे ज्यादा डिलीवरी के बाद हो सकता है। इसके साथ क्रैम्प भी ज्यादा होगा क्योंकि यूटेरिन लाइनिंग की मात्रा ज्यादा होने के कारण वह बहाए जाने की जरूरत होती है। लेकिन यह समय के साथ नॉर्मल हो जाता है। थायराइड की समस्या या एडिनोमायोसिस जैसी जटिलताएं होने पर भी गर्भावस्था के बाद भारी रक्तस्राव हो सकता है। एडेनोमायोसिस गर्भाशय की दीवार का मोटा होना होता है।

वजाइनल डिलीवरी के कितने दिन बाद पीरियड आता है और उनमें क्या बदलाव होता है। How period be different after vaginal delivery in Hindi

जाहिर है आपके मन में यह बात चल रहा होगा कि वजाइनल डिलीवरी के बाद भी क्या पीरियड्स में बदलाव होंगे जैसा कि सिजेरियन डिलीवरी में हुआ था। वजाइनल डिलीवरी के कितने दिन के बाद पीरियड आता है, अगर यह सवाल है तो जवाब यही है कि पीरियड डिलीवरी के दो से 12 सप्ताह के बीच कभी भी आ सकती है। ज्यादातर महिलाओं के लिए, यह छह से 12 सप्ताह के बीच होता है। यदि ब्रेस्टफीड करवाती हैं तो बच्चे को ठोस आहार देने तक मासिक धर्म नहीं भी हो सकता है। 

वजाइनल डिलीवरी के बाद पीरियड्स आने पर कुछ बदलाव नजर आएंगे-

  • पहले की तुलना में ब्लीडिंग हेवी होगा
  • आम तौर पर पीरियड्स की तरह पहले थोड़ा हेवी होगा और बाद में कम हो जाएगा।
  • रंग गहरे लाल से भूरे-गुलाबी से ऑफ-व्हाइट में बदल जाएगा।
  • पीरियड क्रैम्प्स की तरह ही क्रैम्प होगा

हमें पता है आप डिलीवरी के बाद बच्चे को लेकर बहुत परेशान रहती हैं, लेकिन डिलीवरी के बाद पहला पीरियड होने पर इस पर ध्यान दें। अगर हेवी फ्लो हो रहा है तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। साथ ही हाइजिन का विशेष रूप से ध्यान रखें। सैनिटरी पैड्स हो या टेम्पोन या मेंस्ट्रूअल कैप इसको बदलने के समय अपने हाथों को हैंडवाश से साफ कर लें। एक बात का ध्यान रखें कि डिलीवरी के बाद भी आपकी स्किन सेंसिटिव होगी, इसलिए केमिकल और टॉक्सिन फ्री, स्किन फ्रेंडली हैंडवाश से ही हैंडवाश करें।

प्रेगनेंसी के दौरान या डिलीवरी के बाद होने वाली तरह-तरह की परेशानियों के बारे में जानने के लिए देश का नंबरवन पैंरेटिंग एप बेबीचक्रा से जुड़े रहें। 

संबंधित लेख:

ब्रेस्टफीड के बाद ब्रेस्ट का ढीलापन: 11 ब्रेस्ट को टाइट करने के ईजी टिप्स

डिलीवरी के बाद कमर और पेट की चर्बी कम करने का तरीका

13 ब्रेस्टफीडिंग के दौरान होने वाली समस्याएं

डिलीवरी के बाद मेंस्ट्रुअल कप (Menstrual Cup) का इस्तेमाल और वजाइनल केयर के बारे में जानें

like

0

Like

bookmark

0

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop