Pregnancy: इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ

Pregnancy: इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ

6 Jul 2022 | 1 min Read

Vinita Pangeni

Author | 550 Articles

गर्भावस्था में महिलाओं का शरीर छोटी-छोटी बीमारियों के प्रति संवेदनशील हो जाता है। उन्हें बुखार, सर्दी-खांसी, जुकाम सभी जल्दी चपेट में ले लेते हैं। ऐसे में गर्भावती महिलाओं को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। चलिए, आगे विस्तार से जानते हैं इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ के नाम और गर्भावस्था में इम्यूनिटी कम होने के कारण भी बता रहे हैं।

क्या है रोग प्रतिरोधक क्षमता? – What is Immunity in Hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी सिस्टम शरीर को रोग से बचाने वाला एक सुरक्षा तंत्र है। यह  शरीर की कोशिकाओं, ऊतकों और अंगों के नेटवर्क से मिलकर बना है। ये सभी साथ में शरीर के संक्रमण और बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। जब कभी कोई बैक्टीरिया या वायरस शरीर पर आक्रमण कर दे, तो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कीटाणुओं से लड़कर आपको बीमारी से बचाती है।

चलिए, जानते हैं क्यों कमजोर होती है इम्युनिटी इन हिंदी।

गर्भावस्था में रोग प्रतिरोधक क्षमता / इम्यूनिटी कम होने के कारण – Causes of Low Immunity in Hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के कारण कई हैं। लेकिन, गर्भावस्था में महिलाओं में इम्यूनिटी कम होने के कारण प्रेगनेंसी ही है। जी हां, प्रेगनेंसी के चलते इम्यून फंक्शन में परिवर्तन आता है।

दरअसल, इम्यून सिस्टम फॉरेन सब्सटांस (foreign substance) जैसे बाहरी बैक्टीरिया और वायरस की पहचान कर उससे लड़ता है। यह सिस्टम गर्भावस्था के दौरान बदल जाता है, ताकि यह आपको और आपके बच्चे दोनों को बीमारी से बचा सके। 

इसके लिए प्रेगनेंसी के समय आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली के कुछ हिस्से की कार्यक्षमता बढ़ जाती है, जबकि कुछ की क्षमता दबने (supress) लगती है। यह एक ऐसा संतुलन बनाता है, जो माँ के स्वास्थ्य से समझौता किए बिना शिशु में संक्रमण को रोक सकता है।

अगर ऐसा न हो, तो इम्यूनिटी गर्भ में पल रहे बच्चे को फॉरेन सब्सटेंस समझ सकता है। इसी के चलते गर्भावस्था में रोग प्रतिरक्षा प्रणाली कम होने लगती है। 

आगे हम प्रेगनेंसी में इम्यूनिटी कम होने के अन्य कारण भी बता रहे हैं –

  • गर्भावस्था में होने वाला हार्मोनल बदलाव से इम्यूनिटी कम होती है। दरअसल, हार्मोन स्तर में उतार-चढ़ाव मूत्र पथ को प्रभावित करते है, जिससे गर्भावस्था में यूटीआई और अन्य इंफेक्शन हो सकते हैं।
  • कुपोषण होना यानी गर्भावस्था में शरीर के लिए जरूरी पोषण को न लेने से इम्यूनिटी कमजोर हो सकती है।
  • प्रेगनेंसी में इम्यूनिटी कम होने का कारण जंक फूड्स का अधिक सेवन करना भी हो सकता है।
  • प्रेगनेंसी में जरूरी टीकाकरण न करवाने से भी रोग प्रतिरोधक शक्ति कम हो सकती है।

इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ – Immunity Boosting Foods in Hindi 

गर्भावस्था के दौरान, आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को अधिक मेहनत करनी पड़ती है, क्योंकि यह दो जान की सुरक्षा करता है। इसी कारण से गर्भावस्था में आपका शरीर कुछ संक्रमणों के प्रति संवेदनशील हो जाता है। इसी वजह से इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ का सेवन गर्भावस्था में जरूरी है। आइए जानते हैं  इम्युनिटी बूस्टर फूड्स के बारे में – 

प्रोबायोटिक्स

प्रोबायोटिक्स हमारी आंत के स्वस्थ बैक्टीरिया को बढ़ावा देकर स्वास्थ्य बनाए रखते हैं। इससे प्रतिरक्षा क्षमता और पाचन स्वास्थ्य को लाभ मिलता है। प्रोबायोटिक युक्त खाद्य पदार्थों में दही, छाछ और अन्य डेयरी पदार्थ शामिल हैं।

प्रोटीन 

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए प्रोटीन का भी खूब महत्व है। गर्भावस्था में शरीर को सामान्य दिनों के मुकाबले अधिक प्रोटीन की आवश्यकता पड़ती है। प्रोटीन से रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ने के साथ ही बच्चे की ग्रोथ भी सही होती है। 

यह गर्भस्थ शिशु के मस्तिष्क विकास में भी भूमिका निभाता है। इसके लिए दाल, सोयाबीन, बादाम और अन्य सूखे मेवे खा सकते हैं।

ताजे फल 

गर्भावस्था में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए फल का सेवन भी जरूरी है। इम्यूनिटी बढ़ाने वाले फल में आम, अंगूर, संतरा, मौसम्बी, स्ट्रॉबेरी, तरबूज, किवी, आंवला या फिर गर्भावस्था के समय के मौसमी फल ले सकते हैं। 

भले ही ये फल इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ में शामिल हैं, लेकिन इनमें से किसी भी फल को खाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें। हो सकता है कि इनमें से कोई फल आपकी प्रेगनेंसी के लिए अच्छा न हो।

इम्यूनिटी को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ | Immunity Boosting Foods In Hindi
इम्यूनिटी को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ | Immunity Boosting Foods In Hindi – स्रोत – pexels

ताजी सब्जियां

प्रेगनेंसी में इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ में ताजी सब्जियां भी शामिल हैं। आप ब्रोकली, पालक, टमाटर, कद्दू, जैसी सब्जी खाएं। इनके अलावा, मौसम के अनुकूल उपजने वाली सब्जियों का सेवन करना भी इम्यूनिटी के लिए अच्छा होता है। 

लहसुन 

लहसुन का सेवन करने से सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ावा मिलता है। यह शरीर में रोगों से लड़ने का काम करते हैं। रोग से लड़ने के साथ ही यह इम्यूनिटी को बूस्ट कर सकता है। मौसमी बीमारियों जैसे सर्दी, जुकाम से बचाव में यह सहायक है।

हल्दी 

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ में हल्दी और हल्दी दूध भी शामिल है। इससे इम्यून सिस्टम बढ़ सकता है। दरअसल, हल्दी में मौजूद करक्यूमिन कंपाउंड रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़वा देता है। गर्भावस्था में होने वाली सर्दी-खांसी से निपटने और प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ रखने का यह अच्छा विकल्प है।

अदरक

गर्भावस्था में अदरक का सेवन जी-मिचलाने व उल्टी की समस्या के लिए भी अच्छा होता है। इसके साथ ही यह इम्यूनिटी को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है। दरअसल, इसमें इम्यूनोमॉड्यूलेटरी प्रभाव है, जो  शरीर की जरूरत के हिसाब से रोग प्रतिरोधक क्षमता में बदलाव करता है।

शकरकंद

गर्भावस्था में सीमित मात्रा में शकरकंद खाकर भी इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है। शकरकंद में भरपूर मात्रा में विटामिन-ए होता है। यह आंखों को स्वस्थ रखने के साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देता है। इसी वजह से इसे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय के रूप में जाना जाता है।

इन खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करके आप प्रेगनेंसी में इम्यूनिटी बढ़ा सकती हैं। इन सभी खाद्य पदार्थों की मात्रा सीमित ही रखें। साथ ही प्रेगनेंसी संबंधी कोई जटिलता है, तो इन्हें खाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें। 

मुख्य चित्र स्रोत – pexels

संबंधित लेख :

प्रेगनेंसी में सलाद खाने के फायदे
प्रेगनेंसी में डार्क चॉकलेट खाने के फायदे
प्रेगनेंसी में पेट कब निकलता है
प्रेगनेंसी में कौन-सा फ्रूट खाना और नहीं खाना चाहिए
प्रेगनेंसी में सेप्सिस : कारण, लक्षण और इलाज

like

14

Like

bookmark

1

Saves

whatsapp-logo

0

Shares

A

gallery
send-btn
ovulation calculator
home iconHomecommunity iconCOMMUNITY
stories iconStoriesshop icon Shop